खगड़िया/Bihar Assembly Election 2020 : बेलदौर विधानसभा में दिलचस्प है मुकाबला, जानिए... - कोशी लाइव

BREAKING

Thursday, October 22, 2020

खगड़िया/Bihar Assembly Election 2020 : बेलदौर विधानसभा में दिलचस्प है मुकाबला, जानिए...






खगड़िया। बेलदौर विधानसभा क्षेत्र में कुल 17 प्रत्याशी चुनावी मैदान में है। जिनके भाग्य का फैसला 3 नवम्बर को मतदाता करेंगे। बेलदौर विधानसभा में निवर्तमान विधायक पांचवीं बार सफलता के परचम लहराने के उद्देश्य से मैदान में हैं। वहीं महागठबंधन के उम्मीदवार कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव डॉ. चंदन यादव पहली बार किस्मत आजमा रहे हैं। लोजपा से मिथिलेश कुमार निषाद भी चुनावी मैदान में हैं। जबकि जाप से नागेंद्र सिंह त्यागी, लोजपा सेक्यूलर से अफरोज आलम, बसपा से सुशांत यादव, प्लूरल्स पार्टी से सूरज कुमार, निर्दलीय से शिव नारायण सिंह, गणेश सदा, अखिलेश विद्यार्थी, उर्मिला देवी, युवा क्रांतिकारी पार्टी से सोनी देवी, शोषित समाज दल से विद्यानंद यादव, आम जनता पार्टी से राम बालक राम, राष्ट्रीय जन शक्ति पार्टी से प्रिय कुमारी, निर्दलीय गौरी शंकर पासवान, संजय शर्मा चुनावी अखाड़े में हैं।


मतदाताओं की मानें तो इस बार चुनावी परिदृश्य अलग है। मतदाता चुनाव को त्रिकोणात्मक संघर्ष बनाने में लगे हैं। लोगों की मानें तो इस बार जदयू, कांग्रेस व लोजपा में दिलचस्प मुकाबला देखने को मिलेगा। गत विधानसभा चुनाव में निवर्तमान विधायक पन्नालाल सिंह पटेल को 62 हजार 816 मत प्राप्त हुए थे। वहीं लोजपा के उम्मीदवार मिथिलेश कुमार निषाद को 49 हजार 691 मत प्राप्त हुआ था। उक्त चुनाव में जदयू महागठबंधन के साथ चुनाव लड़ी थी। जबकि लोजपा भाजपा के साथ चुनाव लड़ी थी। लेकिन इस बार चुनावी परिदृश्य बदल चुका है। इस बार लोजपा अकेले दम पर चुनावी मैदान में खड़ी है।




दिग्गजों का खेल बिगाड़ने के लिए हैं कई उम्मीदवार

बेलदौर विधानसभा क्षेत्र में इस बार चुनाव दिलचस्प होने वाला है। इस बार जहां एनडीए समर्थित जदयू के उम्मीदवार निवर्तमान विधायक पन्नालाल सिंह पटेल मैदान में हैं, वहीं दूसरी ओर महागठबंधन से कांग्रेस के डॉ. चंदन यादव मैदान में हैं। जबकि लोजपा से मिथिलेश निषाद उम्मीदवार बनाए गए हैं। अगर बागी बने बीजेपी कार्यकर्ता लोजपा की तरफ आते हैं तो त्रिकोणीय मुकाबला हो सकता है। हालांकि यह तो भविष्य ही बता पाएगा। लेकिन इधर दिग्गज प्रत्याशियों के खेल को बिगाड़ने के लिए कई बागी उम्मीदवार मैदान में हैं। एक ओर जहां कांग्रेस नेता अखिलेश विद्यार्थी, जो यादव जाति से आते हैं वे भी कांग्रेस के बागी उम्मीदवार बनकर निर्दलीय चुनाव मैदान में हैं। जबकि जिला परिषद अध्यक्ष के पति सुशांत यादव भी अपने समर्थकों के साथ चुनावी दौरा पर है। दूसरी ओर नवादा गांव से एक जीविका दीदी उर्मिला देवी भी मैदान में हैं। सूत्रों की मानें तो बेलदौर विधानसभा क्षेत्र में जीविका दीदी की संख्या 25 से 30 हजार है। जीविका दीदियां एनडीए के खेल को खराब कर सकती है।

Total Pageviews