बिहार चुनाव 2020ः पटना: 2 घंटे तक पुलिस हिरासत में रहीं बिहार की CM कैंडिडेट पुष्पम प्रिया चौधरी, जानें क्या है पूरा मामला - Koshi Live-कोशी लाइव बिहार का नं1 ऑनलाइन न्यूज पोर्टल कोशी लाइव! विज्ञापन के लिए संपर्क करें MOB:7739152002

BREAKING

कार किंग मधेपुरा

Advertised

Translate

Wednesday, October 28, 2020

बिहार चुनाव 2020ः पटना: 2 घंटे तक पुलिस हिरासत में रहीं बिहार की CM कैंडिडेट पुष्पम प्रिया चौधरी, जानें क्या है पूरा मामला

लाइव उपडेट्स:

पटना: 2 घंटे तक पुलिस हिरासत में रहीं बिहार की CM कैंडिडेट पुष्पम प्रिया चौधरी, जानें क्या है पूरा मामला

पटना. सीएम कैंडिडेट और प्लुरल्स पार्टी (Plurals Party) की प्रमुख पुष्पम प्रिया चौधरी (Pushpam Priya Choudhary) को पटना पुलिस ने हिरासत में ले लिया. मंगलवार की देर शाम पटना पुलिस ने पुष्पम को इनकम टैक्स चौराहे पर उस समय हिरासत में लिया, जब वह अपने समर्थकों के साथ राज्यपाल से मिलने जा रही थीं. पटना पुलिस का कहना है कि उन्‍हें प्रतिबंधित इलाके में जाने की अनुमति नहीं थी, उसके बावजूद वह बिना किसी अधिकारी को बताए और नियमों के विरुद्ध जा रही थीं. इसी दौरान इनकम टैक्स चौराहे पर कोतवाली एसएचओ के साथ पुष्पम प्रिया चौधरी की जमकर नोकझोंक भी हुई.

दरअसल, पुष्पम प्रिया चौधरी की पार्टी के वैशाली से उम्मीदवार की जमकर पिटाई हुई है. आरोप है कि पुलिस-प्रशासन पूरे मामले में कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है. इन्हीं बातों को लेकर पुष्पम अपनी पार्टी के कुछ नेताओं के साथ राज्यपाल से मिलना चाह रही थीं. वह राज्यपाल से अनुरोध करना चाह रही थीं कि बिहार में राष्ट्रपति शासन लगा कर चुनाव कराया जाए. पुलिस के मुताबिक, चुनाव की वजह से यह इलाका प्रतिबंधित जोन में है. ऐसे में बिना इजाजत के प्रतिबंधित इलाके में किसी का प्रवेश वर्जित है. पुष्‍पम प्रिया ने इसका उल्‍लंघन किया, इसीलिए पुलिस ने तत्काल उनको हिरासत में लिया।

 पटना के डाकबंगला चौराहे पर मीडिया से बातचीत करते हुए पुष्पम प्रिया ने आरोप लगाया कि एक साजिश के तहत बिहार चुनाव में उनके प्रत्याशियों का निर्वाचन रद्द किया जा रहा है. प्रिया ने कहा कि कभी किसी बड़ी पार्टी के प्रत्‍याशी का नामांकन खारिज नहीं हुआ है. पुष्पम ने पटना में कहा कि महामहिम से केवल यह कहना है कि राष्ट्रपति शासन लगाने में क्या दिक्कत है. बिहार में अधिकारियों का इस्तेमाल किया जा रहा है. पुष्पम प्रिया ने दावा किया कि जब तक राज्यपाल से मिलने नहीं दिया जाएगा वह कहीं नहीं जाएंगी. पुलिस अधिकारियों ने पुष्पम को लगभग साढ़े 8 बजे हिरासत में लिया और उनको रात के करीब 10 बजकर 30 मिनट पर हिरासत से छोड़ दिया गया.


पटना। राजधानी में मंगलवार की रात मतदान से ठीक एक दिन पहले ज्ञापन लेकर कार्यकर्ताओं के साथ बिहार के राज्यपाल फागू चौहान से मिलने जा रहीं द प्लूरल्स पार्टी की प्रमुख पुष्पम प्रिया चौधरी को इनकम टैक्स गोलंबर के पास कोतवाली थाने की पुलिस ने रोक दिया। बिना अनुमति के प्रतिबंधित क्षेत्र में घुसने पर कोतवाली पुलिस उन्हें हिरासत में लेकर थाने आई। पुलिस के द्वारा पुष्पम को थाने लाने की जानकारी होने पर बड़ी संख्या में लोग कोतवाली पहुंच गए। इस दौरान काफी देर तक गहमागहमी मची रही। हालांकि, देर रात पुलिस ने द प्लूरल्स पार्टी की प्रमुख पुष्पम प्रिया चौधरी को हिरासत से छोड़ दिया। घटना के बाद पुष्पम ने ट्वीट कर नीतीश कुमार पर हमला बोला है।  

प्रतिबंधित क्षेत्र में घुसने पर पुलिस ने की कार्रवाई

कोतवाली कानून-व्यवस्था एएसपी स्वर्ण प्रभात ने बताया, प्रतिबंधित क्षेत्र में घुसने पर उन्हें रोका गया था। पुलिस के रोकने के बावजूद वह कार्यकर्ताओं के साथ आगे बढ़ रही थीं। उन्हें कोतवाली थाने में लाया गया था। पुष्पम प्रिया वैशाली से ही कार्यकर्ताओं के साथ पैदल ही पटना पहुंचीं। गांधी मैदान होते हुए वह राजभवन की तरफ जा रही थीं। आगे बढ़ने पर भी पुलिस ने नहीं रोका।

इनकम टैक्स गोलंबर के पास बात नहीं बनी तो थाने ले आई पुलिस

जैसे ही पुलिस को खबर लगी कि बिना इजाजत प्रतिबंधित क्षेत्र में द प्लूरल्स पार्टी की प्रमुख पुष्पम प्रिया चौधरी प्रवेश कर रही हैं कोतवाली इंस्पेक्टर सुनील कुमार सिंह ने उन्हें रोक लिया। उन्हें काफी देर समझाने के बाद जब इनकम टैक्स गोलंबर के पास बात नहीं बनी तो पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया। इसके बाद पुलिस उन्हें कोतवाली थाने लेकर चली गई। इंस्पेक्टर ने बताया कि वह ज्ञापन लेकर कार्यकर्ताओं के साथ राजभवन की तरफ जा रही थीं। घटना के बाद पुष्पम ने ट्वीट कर नीतीश कुमार पर हमला बोला है। उन्होंने लिखा, नीतीश पिछले पांच घंटों से आपने मुझे अपनी पुलिस और प्रशासन के माध्यम से परेशान किया। मैं ये दिन याद रखूंगी। 

S K जनरल स्टोर, मधेपुरा

S K जनरल स्टोर, मधेपुरा

MGID

Followers