बड़ी खबर/मधेपुरा:देर रात डबल मर्डर से दहला बिहार, मधेपुरा में JDU नेता के भाई सहित तीन को मारी गोली, दो की मौत। - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Tuesday, September 15, 2020

बड़ी खबर/मधेपुरा:देर रात डबल मर्डर से दहला बिहार, मधेपुरा में JDU नेता के भाई सहित तीन को मारी गोली, दो की मौत।


बिहार के मधेपुरा जिले के गम्हरिया थाना क्षेत्र में देर रात बड़ी वारदात हुई। अपराधियों ने सिंहेश्वर के जनता दल यूनाइटेड (JDU) प्रखंड अध्यक्ष हरेंद्र मंडल के बड़े भाई अनिल मंडल (50), राविंद्र यादव (40) व तपेश्वरी यादव (55) को सरेआम गोली मार दी। तपेश्वरी यादव की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। जबकि, राजेंद्र यादव ने अस्पताल ले जाने के दौरान दम तोड़ दिया। जेडीयू नेता के भाई को गंभीर स्थिति में चिकित्सकों ने दरभंगा रेफर कर दिया है। इलाके में आए दिन अपाराधिक वारदातों से लोगों में दहशत है। हाल ही में एक जेडीयू नेता की भी हत्‍या कर दी गई थी।

एक ही रात तीन को मार दी गाेली, दो की मौत

मिली जानकारी के अनुसार दुलार निवासी अनिल मंडल अपने गांव के समीप काली चौक पर गए थे। इसी दौरान बाइक सवार अपराधियों ने अंधाधुंध गोलीबारी कर दी। गोली उनके पेट में लगी। वहीं सिंगियाेन निवासी रविंद्र यादव व तपेश्वरी यादव सड़क निर्माण प्लांट में गार्ड की नौकरी करते थे। वे अपने घर से खाना खाकर काम करने के लिए साइकिल से प्लांट पर जा रहे थे। इसी दौरान रुपौली के समीप बदमाशों ने उन्‍हें गोली मार दी।


चौक के नामकरण विवाद में घटना की आशंका

डीएसपी अजय नारायण यादव ने अस्पताल पहुंचकर घटना की जानकारी ली। उन्होंने बताया कि घटना की छानबीन शुरू कर दी गई है। घायल अनिल मंडल के स्वजनों ने बताया कि उसकी किसी से दुश्मनी नहीं है। बताया जा रहा है कि काली चौक के नामकरण को लेकर पहले से विवाद चल रहा है। आशंका है कि इसी कारण घटना को अंजाम दिया गया है।

हाल ही में हुई थी एक जेडीयू नेता की हत्‍या

क्षेत्र में बढ़ती आपराधिक घटनाओं लेकर लोग भयभीत हैं। हालांकि, इस संबंध में कोई कुछ बोलने के लिए तैयार नहीं है। कुछ दिन पहले भी ऐसी ही एक वारदात में गम्हरिया के जेडीयू प्रखंड अध्यक्ष अशोक यादव की हत्या कर दी गई थी।

उपडेट्स जारी है.....



लाइव उपडेट्स:एक ही रात में अपराधियों ने तीन व्यक्ति को गोली मारी, 2 की मौत तीसरा घायल

आज शाम से लेकर अबतक यानी एक ही रात में अपराधियों ने तीन व्यक्ति को गोली मारी है जिनमें से 2 लोगों की मौत हो गई जबकि तीसरा घायल है.  तीनों घटना मधेपुरा जिले के गम्हरिया प्रखंड की आज सोमवार की है और इन घटना के बाद इलाके में दहशत का माहौल है.

पहली घटना में गम्हरिया थाना क्षेत्र के सिंगिंयोन नहर काली चौक पर अज्ञात बदमाशों के द्वारा कृषि विभाग के क्लर्क को गोली मारकर घायल कर दिया. मिली जानकारी के अनुसार अनिल मंडल दुलार वार्ड नंबर 11 निवासी मधेपुरा में कृषि विभाग में क्लर्क के पद पर कार्य कर रहे थे. रोज की तरह आज भी अपने घर दुलार आ रहे थे, इसी दौरान देर रात्रि करीब 8:45 बजे अज्ञात बदमाशों के द्वारा गोली मारकर घायल कर दिया गया. ग्रामीणों ने गोली की आवाज सुनकर घटनास्थल पर पहुंचकर देखा तो उन्हें खून से लथपथ पाया और ग्रामीणों के मदद से उन्हें इलाज के लिए मधेपुरा सदर अस्पताल ले जाया गया. सूचना मिलते ही थाना अध्यक्ष सुबोध कुमार गुप्ता घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की जानकारी लिए आए दिन प्रखंड क्षेत्र में गोली की घटना बढ़ती जा रही है और अपराधी का मनोबल बढ़ता जा रहा है. बीते एक महीने पूर्व जदयू प्रखंड अध्यक्ष का देर रात्रि अपराधियों के द्वारा गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.


वहीं दूसरी घटना में गम्हरिया थाना क्षेत्र के रुपौली गांव में रमेंद्र यादव 35 वर्षीय को अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी. मिली जानकारी के अनुसार रुपौली में रविन्द्र यादव आईएलएफएस में गार्ड की नौकरी करता है और रोज की तरह सोमवार की रात्रि करीब 8:30 बजे अपने घर आ रहे थे कि इसी दौरान रुपौली पुल के पास अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी. ग्रामीणों के द्वारा आनन-फानन में उन्हें सिंहेश्वर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया जहां डॉक्टरों के द्वारा बेहतर उपचार के लिए सदर अस्पताल मधेपुरा भेज दिया गया. वहीं सदर अस्पताल पहुंचते ही रास्ते में उसकी मौत हो गई. मौत की सूचना मिलते ही परिजनों में कोहराम मच गया. रविंद्र यादव अपने पीछे तीन लड़की और एक लड़का छोड़ गए. रविंद्र यादव अपने घर में एक ही कमाने वाले व्यक्ति थे जिससे उनका पूरा परिवार चलता था.



वहीं तीसरी घटना के तहत् गम्हरिया थाना क्षेत्र के सिंगियोन निवासी तपेश्वरी यादव को अपराधियों के द्वारा देर रात्रि दरवाजे पर ही गोली मारकर हत्या कर दी गई. मिली जानकारी के अनुसार तपेश्वरी यादव दरवाजे पर ही भैंस को चारा खिला रहे थे कि इसी दौरान अज्ञात अपराधियों ने गोली मारकर फरार हो गए. वहीं गोली की आवाज सुनकर परिजन जब दरवाजे पर आए तो देखा कि तपेश्वरी के छाती में गोली लगा हुआ है और उसकी मौत हो चुकी है. मौत की खबर सुनकर आसपास के लोगों में डर का माहौल उत्पन्न हो चुका है.

Total Pageviews