सहरसा। जिले में प्रतिबंध के बावजूद कोचिग संस्थान संचालित किए जा रहे हैं - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Wednesday, July 22, 2020

सहरसा। जिले में प्रतिबंध के बावजूद कोचिग संस्थान संचालित किए जा रहे हैं

सहरसा। जिले में प्रतिबंध के बावजूद कोचिग संस्थान संचालित किए जा रहे हैं। कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए राज्य सरकार के निर्देश पर ही कोचिग संस्थान बंद हैं। इसके बावजूद सहरसा शहरी क्षेत्र में जगह-जगह कोचिग संस्थान चोरी छिपे ढंग से संचालित किए जा रहे हैं। शहर के कोसी चौक, शिवपुरी, बायपास रोड सहित सराही, बटराहा आदि क्षेत्रों में जगह-जगह कोचिग संस्थान संचालित किए जाने की शिकायतें मिली हैं। वहीं इन जगहों पर छात्र-छात्राओं की टोली भी पुस्तकें लेकर आवाजाही कर रही है। कोरोना वायरस को रोकने के लिए एक ओर जिला प्रशासन सख्त रवैया अपनाए हुए है। और इसके विपरीत छात्र-छात्राओं के जान की परवाह किए बगैर कोचिग संचालकों द्वारा की जा रही मनमानी से हर हमेशा कोरोना के संक्रमण का खतरा बढ़ा रहेगा। जबकि शिक्षा विभाग ने भी स्कूल व कोचिग संस्थान के खुलने पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया है। सरकारी व गैर सरकारी स्कूल व कोचिग संस्थान को लाकडाउन अवधि में पूर्णत: बंद रखने का निर्दैश दिया है। हालांकि शहर में अधिकांश कोचिग संस्थान बंद पड़े हुए हैं। जिस कारण कोचिग संचालकों को हर माह आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है। इधर जिला शिक्षा पदाधिकारी जय शंकर प्रसाद ठाकुर ने कहा कि इसकी जांच करायी जा रही है और कोचिग खोलते पकडा़ने पर सीधे कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews