भारतीय रेल: बिहार से अब देश के हर कोने ले जाएगी ट्रेन, 23 जोड़ी चलेंगी विशेष ट्रेनें, जानिए - कोशी लाइव

BREAKING

Thursday, July 2, 2020

भारतीय रेल: बिहार से अब देश के हर कोने ले जाएगी ट्रेन, 23 जोड़ी चलेंगी विशेष ट्रेनें, जानिए

Indian Railway: कोरोना संक्रमण को लेकर रेलवे ने ट्रेनों का परिचालन बंद रखा था। उसके बाद 15 जोड़ी विशेष एसी स्पेशल ट्रेनों का परिचालन शुरू किया गया। फिर बाद में एक जून से रेलवे बोर्ड की ओर से इन विशेष एसी स्पेशल ट्रेनों के अलावा पूर्व-मध्य रेल क्षेत्र से 22 जोड़ी विशेष ट्रेनों का परिचालन किया जा रहा है। पूर्व मध्य जोन से होकर चलने वाली इन ट्रेनों के अलावा अब 23 जोड़ी और विशेष ट्रेनों के चलाने का प्रस्ताव रेलवे बोर्ड को भेजा गया है। भेजे गए प्रस्ताव पर हरी झंडी मिलने की उम्मीद है।

मंजूरी मिलते ही अमृतसर, गोवा, हावड़ा, डिब्रूगढ़, गुजरात, मुंबई जाना होगा आसान 

आधिकारिक सूत्रों के अनुसार कोलकाता-अमृतसर अकालतख्त, सियालदह अमृतसर, डिब्रूगढ़ अमृतसर, एलटीटी गुवाहाटी, एलटीटी कामख्या, भागलपुर एलटीटी, आसनसोल सीएसटीएम, कामख्या दिल्ली, डिब्रूगढ़ लालगढ़, डिब्रूगढ़ दिल्ली, वास्कोडिगामा पटना, पोरबंदर मुजफ्फरपुर, इंदौर हावड़ा, उधना दानापुर, सूरत मुजफ्फरपुर, सूरत-भागलपुर, वलसाड मुजफ्फरपुर, भागलपुर दिल्ली, अगरतला देवघर, मधुपुर दिल्ली, यशवंतपुर भागलपुर, सिकंदराबाद पटना ट्रेन अप व डाउन दोनों दिशा में चलाने का प्रस्ताव है। 

कहा-मंडल रेल प्रबंधक ने

अनलॉक-2 में पूर्व-मध्य रेल की ओर से और 23 जोड़ी विशेष ट्रेनों को चलाने का प्रस्ताव रेलवे बोर्ड को भेजा गया है। इस प्रस्ताव पर शीघ्र ही हरी झंडी मिलने की उम्मीद है। रेलवे बोर्ड से हरी झंडी मिलते ही ट्रेनों का परिचालन शुरू होगा। इससे यहां के लोग देश के हर कोने में जा-आ सकेंगे। 

- सुनील कुमार, मंडल रेल प्रबंधक, दानापुर। 

भागलपुर से गुजरेगी राजधानी एक्सप्रेस

भागलपुर-शिवनारायणपुर के बीच विद्युतीकरण लाइन चालू होने के बाद अब यह सेक्शन देश के कई रेल खंड से जुड़ गया है। रेलवे बोर्ड से स्वीकृति के बाद पूर्व रेलवे के हावड़ा और सियालदह से चलने वाली एक भी राजधानी एक्सप्रेस भागलपुर के रास्ते नई दिल्ली के बीच गुजर सकती है। 

मंगलवार को सीआरएस जांच के बाद मालदा मंडल के डीआरएम यतेंद्र कुमार वीडियों कांफ्रेसिंग से बात की। डीआरएम ने कहा कि अब यह रेलखंड पूरी तरह विद्युतीकरण हो गया है। ट्रेनों से लेकर मालगाडिय़ों का परिचालन इलेक्ट्रिक इंजन से किया जाएगा। 

Total Pageviews