Surya Grahan 2020 Live Updates : सूर्य ग्रहण की लाइव तस्वीरे और वीडियो देखिए, कहां कैसा दिख रहा है ग्रहण - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Sunday, June 21, 2020

Surya Grahan 2020 Live Updates : सूर्य ग्रहण की लाइव तस्वीरे और वीडियो देखिए, कहां कैसा दिख रहा है ग्रहण



सुर्य ग्रहण फ़ोटो क्लिक कोशी लाइव मधेपुरा

लाइव उपडेट्स:
नई दिल्ली, एजेंसी। 2020 का पहला सूर्य ग्रहण (solar eclipse) आज यानी साल के सबसे बड़े दिन 21 जून रविवार को शुरू हो चुका है। इस दौरान आसमान में सूर्य का घेरा एक चमकती अंगूठी की तरह नजर आएगा। इस ग्रहण का मध्य 12:10 के आसपास रहेगा में जिसमें सूर्य एक वलय/फायर रिंग/चूड़ामणि के रूप में नजर आएगा। आज भारत में लखनऊ, पटना, जयपुर, दिल्ली, भोपाल, देहरादून और चंडीगढ़ यानी उत्तर भारत के लोग पूर्ण सूर्य ग्रहण देख पाएंगे। जिनके इलाके में बारिश या बादल हों वे लाइव स्ट्रीमिंग के जरिए भी सूर्य ग्रहण के नजारे का आनंद ले सकते हैं। देश के अलग शहरों से सूर्य ग्रहण की तस्वीरें आ रही है। आप भी देखें। 

जम्मू-कश्मीर में एेसा दिख रहा है सूर्य ग्रहण।


नई दिल्ली, एजेंसी। 2020 का पहला सूर्य ग्रहण (solar eclipse) आज यानी साल के सबसे बड़े दिन 21 जून, शनिवार को शुरू हो चुका है। इस दौरान आसमान में सूर्य का घेरा एक चमकती अंगूठी की तरह नजर आएगा। देश के अलग शहरों से सूर्य ग्रहण की तस्वीरें आ रही है। आप भी देखें। 

राजधानी दिल्ली में एेसा दिख रहा है सूर्य ग्रहण

 राजस्‍थान में सूर्यग्रहण का नजारा

राजस्‍थान में सूर्यग्रहण का नजारा कुछ इस प्रकार का दिखा।

हरियाणा में सूर्यग्रहण का नजारा

हरियाणा में सूर्यग्रहण का नजारा कुछ इस प्रकार का दिखा।

गांधीनगर में सूर्यग्रहण का नजारा

गुजरात के गांधीनगर में सूर्यग्रहण का नजारा कुछ ऐसा दिख रहा है। यहां सूर्य का नजारा नारंगी रंग का दिख रहा है।

अमृतसर और महाराष्‍ट्र में सूर्य का ऐसा रंग

स्‍वर्णमंदिर के शहर अमृतसर से सूर्यग्रहण की तस्‍वीर सामने आ चुकी है। यहां पर सूर्य कुछ हरे रंग का दिख रहा है। वहीं महाराष्‍ट्र में भी ऐसे ही रंग की तस्‍वीरें सामने आई हैं।

नोएडा में सूर्यग्रहण

नोएडा से सूर्यग्रहण की तस्‍वीर सामने आ चुकी है। नोएडा में अभी शुरुआती नजारा ऐसा है।

पटना, जेएनएन। Surya Grahan 2020 Bihar News LIVE: साल 2020 का पहला सूर्यग्रहण (Solar Eclipse) रविवार को लग चुका है। पटना की बात करें तो यह सुबह 10.37 बजे से शुरू होकर अपराह्न 02.04 बजे तक चलेगा। मुजफ्फरपुर में ग्रहण का काल सुबह 10.38 बजे से अपराह्न 02.10 बजे तक तथा भागलपुर में सुबह 10.42 बजे से अपराह्न 02.14 बजे तक रहेगा। ग्रहण शुरू होने के 12 घंटे पहले सूतक काल शुरू हुआ, सूर्यग्रहण शुरू होने के साथ समाप्‍त हो चुका है। यह पूर्ण सूर्य ग्रहण है, जिसमें कुछ समय के लिए केवल सूर्य का किनारे का गोलाकर भाग ही दिखाई देगा। इसे 'रिंग ऑफ फायर' (Ring of Fire) कहते हैं। इस कारण सूर्य ग्रहण के दौरान कुछ देर के लिए दिन में ही अंधेरा छा जाएगा। हालांकि, बिहार में सूर्यग्रहण पर मानसून का ग्रहण लगा दिख रहा है। जगह-जगह घने बादलों के कारण सूर्यग्रहण दिखेगा, ऐसा नहीं लग रहा है।

Surya Grahan 2020 Bihar News LIVE:

- सूर्यग्रहण मृगशिरा नक्षत्र व मिथुन राशि में लगा है।

- पटना के ज्योतिषाचार्य डॉ. राजनाथ झा के अनुसार आज के सूर्यग्रहण के बाद कोरोना की महामारी से राहत मिलनी शुरू हो जाएगी।

- पटना के श्रीकृष्ण विज्ञान केंद्र के फेसबुक पेज पर सूर्यग्रहण को लाइव दिखाया जा रहा है।

- पटना के श्रीकृष्ण विज्ञान केंद्र के के निदेशक अमिताभ ने बताया कि सूर्यग्रहण को देखने के लिए एक्सरे फिल्म या चश्मा का उपयोग कर सकते हैं।

- सूर्यग्रहण के दौरान मंदिरों के पट बंद हैं। बाबा गरीब नाथ मंदिर में पुजारी पाठ कर रहे हैं।

बादलों लुका-छिपी कर रहा सूर्य

बिहार मेें मानसून के बादलों के बीच सूर्य लुकाछिपी कर रहा है। पटना में यह बदलों के बाइच से दिख रहा है, फिर बादल इसे ढ़क ले रहे हैं।

नंगी आंखों ने नहीं देखें सूर्यग्रहण

सूर्यग्रहण को नंगी आंखों ने नहीं देखना चाहिए। एहतियात बरतते हुए लोग इस नजारे को देख रहे हैं।

सूर्यग्रहण क्‍या है, जानिए

सूर्यग्रहण एक खगोलीय घटना है, जिसमें चंद्रमा (Moon) के पृथ्‍वी (Earth) और सूर्य (Sun) के बीच आ जाता है। इसमें पृथ्‍वी पर चंद्रमा की छाया (Shadow) पड़ती है। जहां छाया पड़ती है, वहां आंशिक रूप से अंधेरा हो जाता है।

क्‍या है रिंग ऑफ फॉयर

आज के सूर्यग्रहण देखने में रिंग ऑफ फॉयर की तरह लगेगा। सूर्य का करीब 88 फीसद भाग तीन घंटे 22 मिनट तक चंद्रमा की ओट में रहेगा। इससे सूर्य के किनारे रिंग की तरह गोलाकर भाग दिखेगा। इसे ही 'रिंग ऑफ फायर' कहा जाता है। रिंग ऑफ फायर का कुछ सेकेंड से लेकर 12 मिनट तक दिखाई देगा।

विज्ञान केंद्र के फेसबुक पेज पर सूर्यग्रहण लाइव

सूर्यग्रहण को श्रीकृष्ण विज्ञान केंद्र के फेसबुक पेज पर लाइव दिखाया जा रहा है। ग्रहण का मध्य दोपहर 12.25 मिनट पर होगा, जिस समय सूर्य का करीब 82 फीसद हिस्सा चंद्रमा की परछाई से छिप जाएगा। ग्रहण का समापन अपराह्न 2.10 बजे तक हो जाएगा। विज्ञान केंद्र के निदेशक अमिताभ ने बताया कि सूर्यग्रहण को देखने के लिए एक्सरे फिल्म या चश्मा का उपयोग कर सकते हैं।

ज्‍योतिषाचार्य का दावा- सूर्यग्रहण के बाद कोरोना से राहत

पटना के ज्योतिषाचार्य डॉ. राजनाथ झा के अनुसार आज के सूर्यग्रहण के बाद कोरोना की महामारी से राहत मिलनी शुरू हो जाएगी। उनके अनुसार 26 दिसंबर 2019 के सूर्यग्रहण के दौरान ग्रहों की बिगड़ी स्थिति के प्रभाव से अब तक कई प्राकृतिक आपदाएं आईं हैं। सामाजिक-राजनीतिक उथल-पुथल की घटनाएं भी हुईं हैं। इस सूर्यग्रहण के बाद इनसे मुक्ति का योग बन रहा है। मिथुन राशि में ग्रहण लगने और 25 सितंबर को राशि परिवर्तन के बाद प्राकृतिक आपदाओं में कमी व कई तरह की समस्याओं में विशेष लाभ के योग बनेंगे।

सूर्य ग्रहण पर ग्रहों की उल्टी चाल

ज्योतिषाचार्य गाेविंद कुमार ओझा के अनुसार 21 जून को मिथुन राशि में लगने वाला सूर्य ग्रहण अशुभ है। इस दौरान कई ग्रहों की चाल विपरीत रहेगी। इस दौरान संबंधित ग्रहों के मंत्रों का जाप करने से राहत मिल सकती है।

ग्रहण से जुड़ी आस्‍था व विश्‍वास की भी बातें

सूर्यग्रहण को लेकर आस्‍था व विश्‍वास की भी कई बातें जुड़ी हैं। मुजफ्फरपुर के गरीबनाथ मंदिर के प्रधान पुजारी पंडित विनय पाठक के अनुसार सूर्यग्रहण के दौरान बाहर नहीं निकलना चाहिए। इस दौरान मंदिर भी बंद रखे जाते हैं। अन्‍य मंदिरों की तरह मुजफ्फरपुर के गरीबनाथ मंदिर का पट बंद है।

पटना के ज्‍याेतिषाचार्य गाेविंद कुमार ओझा के अनुसार इस दौरान खाने व पानी पीने से परहेज किया जाता है। गर्भवती महिलाओं को काम नहीं करना चाहिए। ग्रहण के बाद स्नान कर भगवान विष्णु की पूजा करके ही कोई काम करना चाहिए। हालांकि, शास्‍त्रों में उल्‍लेखित ये बातें आस्‍था व विश्‍वास से जुड़ी परंपराएं हैं।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews