पूर्णियां।भारी बारिश की संभावना को लेकर जिला प्रशासन ने किया समीक्षात्मक बैठक - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Wednesday, June 24, 2020

पूर्णियां।भारी बारिश की संभावना को लेकर जिला प्रशासन ने किया समीक्षात्मक बैठक





• 29 जून तक के लिए जारी किया गया अलर्ट
• सुरक्षा के लिए नावों का परिचालन रहेगा बन्द
• एस. डी. आर. एफ. की टीम रहेगी तैनात
• नदी किनारे लोगों को नहीं जाने का दिया गया निर्देश





पूर्णियाँ : 24 जून

जिले में भारी बारिश की संभावना को देखते हुए जिला पदाधिकारी द्वारा समाहरणालय सभागार में मौसम विभाग के साथ समीक्षात्मक बैठक की गई. इस दौरान जिला पदाधिकारी को अगले 4-5 दिनों तक भारी बारिश होने की संभावना को लेकर जिले में अलर्ट जारी किया. मौसम विभाग के द्वारा बताया गया कि अगले 4-5 दिनों तक जिले में बहुत तेज बारिश होने की सम्भावना है. इसे देखते हुए जिला पदाधिकारी ने आदेश दिया कि अगले 5 दिनों तक नदियों में नावों का परिचालन बन्द कर दिया जाए. विशेष परिस्थिति में ही नावों का परिचालन प्रशासन द्वारा किया जाएगा. ज्यादा बाढ़ वाले क्षेत्रों में स्टेट डिजास्टर रेस्पोंस फोर्स (एस.डी.आर.एफ) की टीम भी तैनात किए जाने का निर्देश जिला पदाधिकारी ने दिया है. बैठक में अपर समाहर्ता, सिविल सर्जन, आपदा प्रभारी, जिला पशुपालन पदाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी सदर एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे. इसके साथ ही प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी व एमओआईसी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े हुए थे.

अस्पतालों में उपलब्ध रहेगी आवश्यक दवाइयां :
सम्बंधित बाढ़ की स्थिति को देखते हुए स्वास्थ्य सुविधा हेतु सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को 24 घण्टे आपातकालीन सुविधा रखने के लिए पी.एच.सी. में स्वास्थ्य कर्मियों व चिकित्सकों को रखने का निर्देश दिया गया है. इसके साथ ही सभी आवश्यक दवाईयों की स्वास्थ्य केंद्रों पर उपलब्ध कराने का भी निर्देश बैठक में दिया गया है.


प्रखड़ों में उपलब्ध संसाधनों का हुआ सत्यापन :
बैठक में सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों एवं अंचलाधिकारी को अपने प्रखंड में उपलब्ध आवश्यक संसाधनों का मानचित्रण करके जिला आपदा प्रबंधन शाखा को विहित प्रपत्र में सूचना उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है. नाव, मोटरबोट, महाजाल, लाइफ जैकेट के साथ ही महत्वपूर्ण शरण स्थल आदि की सूचना उपलब्ध कराई गई है. सभी अधिकारियों को जिला के सभी तटबंध स्थलों का निरक्षण बाढ़ नियंत्रण अभियंता के साथ संयुक्त रूप से करने व तटबंधों की सुरक्षा के लिए प्रत्येक एक कि.मी. पर एक होम गॉर्ड प्रतिनियुक्ति करने का निर्देश भी जिलाधिकारी द्वारा दिया गया.

नावों का किया जाएगा पंजीकरण :
समीक्षात्मक बैठक में जिला पदाधिकारी द्वारा आदेश दिया गया है कि अलर्ट रहने तक किसी भी नावों का परिचालन नहीं हो. आवश्यकता पड़ने पर जिला प्रशासन द्वारा नावों का परिचालन किया जाएगा. जिलाधिकारी द्वारा जिले में उपलब्ध सरकारी नावों के अतिरिक्त सभी गैर पंजीकृत नावों के पंजीकरण कराने का निर्देश दिया है. नाव पंजीकरण हेतु सम्बंधित अनुमंडल पदाधिकारी को अधिकार प्रदान किया गया है.

प्रखड़ों में खुलेंगे आपदा राहत केंद्र :
सभी प्रखड़ कार्यालयों में आपदा राहत केंद्र खोलकर उसका नम्बर जिला आपदा राहत केंद्र में देने का निर्देश बैठक में दिया गया. जिला आपदा राहत केंद्र का कंट्रोल रूम दुरभाष संख्या 06454-241923 कार्यरत है. जिला स्तर से लेकर पंचायत एवं गांव स्तर तक के लिए पदाधिकारियों, जन प्रतिनिधियों एवं स्वयं सेवियों के अद्यतन दुरभाष संख्या का संकलन कर कम्युनिकेशन प्लान तैयार किया जा रहा है. कम्युनिकेशन प्लान की प्रति प्रत्येक गांव, पंचायत एवं अंचल में उपलब्ध रखने का निर्देश दिया गया है. इसके साथ ही बाढ़ से बचाव के लिए चुने गए शरण स्थलों पर पेय जल, शौचालय की सुविधा के साथ ही विद्युत व्यवस्था दुरुस्त रखने का निर्देश भी दिया गया है. इसके साथ-साथ बाढ़ के समय बरती जाने वाली सावधानियों को लेकर लोगों को जागरूक करने का भी निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिया गया.

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews