BIHAR/62 एनकाउंटर करने वाले रिटायर्ड DSP ने खुद को मार ली गोली, सुसाइड नोट में लिखी ये बात - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Tuesday, June 23, 2020

BIHAR/62 एनकाउंटर करने वाले रिटायर्ड DSP ने खुद को मार ली गोली, सुसाइड नोट में लिखी ये बात


पटना। राजधानी में मंगलवार की सुबह रिटायर्ड डीएसपी (Deputy Superintendent of Police) ने खुद को गोलीमार कर खुदकुशी कर ली। मृतक के. चंद्रा एनकाउंटर स्पेशलिस्ट थे। घटना बेउर थाना क्षेत्र की मित्र मंडल कॉलोनी में घटी। उनके शव के पास से तीन पेज का सुसाइड नोट भी मिला है। जिसमें उन्होंने जलजमाव के कारण परेशान होने की बात कही है। सूचना मिलने पर डीएसपी संजय कुमार पांडेय के साथ बड़ी संख्या में पुलिस बल मामले की छानबीन करने पहुंचा। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 2012 में सेवानिवृत्त हुए के. चंद्रा अपने कार्यकाल के दौरान तेज-तर्रार अॉफिसर के रूप में जाने जाते थे।

कमरे से आई फायरिंग की आवाज तब हुई जानकारी

बताया जाता है कि के. चंद्रा अपने परिवार के साथ बेउर थाना क्षेत्र की मित्र मंडल कॉलोनी में रहते थे। सोमवार की रात वे खाना खाकर सो गए थे। मंगलवार की सुबह करीब आठ बजे उनके कमरे से अचानक फायरिंग की आवाज आई। जब स्वजन पहुंचे तो कमरा अंदर से बंद था। दरवाजा तोड़कर अंदर देखा तो चंद्रा लहूलुहान पड़े थे। उनकी सांसें थम चुकीं थीं। के. चंद्रा ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल से खुद को गोली मार ली थी।

एक दिन पहले भी पड़ोसी से हुआ था विवाद

के. चंद्रा के शव के पास से तीन पेज का सुसाइड नोट मिला है। जिसमें उन्होंने अपने को पिछले 16 वर्षों से अवसाद ग्रस्त बताया है। साथ ही जलजमाव के लिए अपने पड़ोसी की प्रताड़ना का भी जिक्र किया है। के. चंद्रा के पुत्र ने बताया कि एक दिन पहले पड़ोस के रहने वाले संतोष नाम व्यक्ति ने अपने घर के बाहर भारी मात्रा में मिट्टी गिरवाई थी। जिससे हमारे घर के गेट पर काफी पानी जमा हो गया था। इसको लेकर पिता जी से संतोष की बहस भी हुई थी। के. चंद्रा काफी दिनों से घर के बाहर जमे पानी के कारण परेशान रहते थे।

एसटीएफ में भी दिया था योगदान

बताया जाता है कि के चंद्रा ने सेवाकाल के दौरान एसटीएफ में भी अपने योगदान दिया था। वे काफी तेज-तर्रार अफसर माने जाते थे। उनके पुत्र ने बताया कि वे करीब 62 एनकाउंटर कर चुके थे। उनकी मौत से स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews