सहरसा।अब प्रतिबंधित क्षेत्रों को छोड़ अन्य जगहों पर खुलेंगी दुकानें SAHARSA NEWS - कोशी लाइव

BREAKING

रितिका CCTV

रितिका CCTV
सेल एंड सर्विस

विज्ञापन

विज्ञापन

Friday, May 15, 2020

सहरसा।अब प्रतिबंधित क्षेत्रों को छोड़ अन्य जगहों पर खुलेंगी दुकानें SAHARSA NEWS

@कोशी लाइव:

सहरसा। जिले में विगत चार दिनों से कोरोना संक्रमितों की संख्या नहीं बढ़ी है इसलिए सहरसा नगरीय क्षेत्र के अलावा सोनवर्षा प्रखंड के सहमौरा व सिमरीबख्तियारपुर प्रखंड के मदनपुर कंटेनमेंट जोन को छोड़कर अन्य जगहों पर लॉकडाउन में थोड़ी ढील दी जाएगी।

इस बाबत जिलाधिकारी ने इसके लिए छह मई को इलेक्ट्रिक गुड्स ऑटोमोबाइल, निर्माण सामग्री आदि की दुकान खोलने के आदेश को पुन: जारी कर दिया है। शुक्रवार को विकास भवन सभागार में प्रेस ब्रीफिग के जरिए जिलाधिकारी कौशल कुमार ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिले के 186 क्वारंटाइन केंद्र में दस हजार दो लोग आवासित हैं। इनलोगों को क्वारंटाइन केंद्र भेजने के क्रम में थर्मल स्क्रीनिग की गई थी। क्वारंटाइन केंद्र में नियमित स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि अबतक जिले से 879 सैंपल जांच के लिए भेज गया था जिसमें 770 की रिपोर्ट प्राप्त हो गई है। 11 लोगों को छोड़कर सबकी रिपोर्ट निगेटिव है। जबकि 109 लोगों की रिपोर्ट की अभी प्रतीक्षा की जा रही है।

बताया कि इन 11 संक्रमितों के साथ यात्रा करने वाले सभी 152 लोगों का सैंपल भेजा गया जो सभी निगेटिव है। इसमें 17 का रिपोर्ट अभी पेंडिग है। सहरसा बस्ती, मदनपुर और सहमौरा से लाए गय आठ संक्रमितों के संपर्क में आए 52 लोगों का सेंपल भी भेजा गया है। इसके रिपोर्ट की प्रतीक्षा की जा रही है।

क्वारंटाइन केंद्र पर भोजन व्यवस्था की देखरेख करेंगे दो- दो प्रवासी

डीएम ने बताया कि अबतक जिले में दस ट्रेन के माध्यम से बड़ी संख्या में प्रवासी दूसरे प्रांतों से आए। इनलोगों को क्वारंटाइन में भेजने के पूर्व थर्मल स्क्रीनिग की जा रही है। इस क्रम में संदिग्धों को स्टेशन से ही अलग कर दिया जाता है। प्रखंड व पंचायत स्तरीय क्वारंटाइन केंद्र भेजने के पहले सभी लोगों को डिग्निटी किट दिया जा रहा है। क्वारंटाइन केंद्र पर भोजन, नाश्ता व अन्य व्यवस्था की देखरेख के लिए वरीय अधिकारियों को भी लगाया गया है। सभी बीडीओ-सीओ को क्वारंटाइन केंद्र की भोजन व्यवस्था देखने के लिए कमेटी में दो प्रवासियों को भी रखने का निर्देश दिया गया है। केन्द्र पर व्यायाम और खेलकूद की भी व्यवस्था की गई है। यहां रह रहे प्रवासियों का स्कील सर्वे किया जा रहा है। उसके अनुरूप उन्हें, जल- जीवन हरियाली, शौचालय निर्माण समेत अन्य चीजों का प्रशिक्षण भी दिया जा रहा है।

अनुशासित ढंग से रहने वालों को मिलेगा बाहर से आने का किराया

डीएम ने बताया कि सरकार ने अनुशासित तरीके से क्वारंटाइन की अवधि बिताने वाले लोगों को रेल किराया वापस करने व प्रोत्साहन राशि देने का निर्णय लिया है। अनुशासित ढंग से क्वारंटाइन में रहने वाले सभी लोगों के खाते में कम- से- कम एक हजार रूपया भेजा जाएगा। इसके लिए केंद्र प्रभारी को सूची तैयार करने का निर्देश दिया गया है।

राशन कार्ड बनाने का कार्य भी है जारी

डीएम ने बताया कि जिले में तीन लाख 59 हजार 467 राशन कार्डधारी है जिनमें से तीन लाख 17 हजार 646 को जन-धन खाता के जरिये भुगतान हो चुका है। वहीं शेष 41777 में तकनीकी त्रुटियों के कारण राशि नहीं जा पाई है। इसमें 27 हजार खाते के त्रुटियों का निष्पादन कर लिया गया है। शेष की प्रकिया चल रही है। इस क्रम में जिन आवेदकों के राशन कार्ड का आवेदन रिजेक्ट कर दिया गया था, अब उसकी नए सिरे से समीक्षा की गई। उसमें जांचोपरांत 39539 अस्वीकृत आवेदन को स्वीकृत किया गया। इसमें 18562 को कार्ड भी वितरित किया जा चुका है। इसके अलावा सर्वे के दौरान ग्रामीण क्षेत्र में लगभग 37 लाख और शहरी क्षेत्र में लगभग तीन हजार लोगों की सूची दी गई है, जिन्हें राशन कार्ड देने की जरूरत है। इसके लिए भी कार्य चल रहा है। उन्होंने बताया कि मई माह के खाद्यान्न वितरण के दौरान लाभुकों को दाल भी दिया जाएगा। इस मौके पर डीपीआरओ दिलीप कुमार देव भी मौजूद रहे।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews