BIHAR:कोरोना से जंग: सहरसा और कटिहार रेलवे स्टेशन COVID-19 देखभाल केन्द्र बनेगा bihar news - कोशी लाइव

BREAKING

रितिका CCTV

रितिका CCTV
सेल एंड सर्विस

विज्ञापन

विज्ञापन

Sunday, May 10, 2020

BIHAR:कोरोना से जंग: सहरसा और कटिहार रेलवे स्टेशन COVID-19 देखभाल केन्द्र बनेगा bihar news


कोसी क्षेत्र का सहरसा और सीमांचल का कटिहार रेलवे स्टेशन कोविड देखभाल केन्द्र बनेगा। बिहार के 15 और देश के 85 रेलवे स्टेशनों में सहरसा स्टेशन को भी कोरोना के संदिग्ध/संक्रमित मरीजों की स्वास्थ्य देखभाल सुविधाएं देने के लिए चिन्हित किया गया है।

इस तरह की सुविधा देने के लिए सहरसा और कटिहार स्टेशन पर आइसोलेशन वार्ड में तब्दील कोविड-19 कोच की सुविधा दी जाएगी। ट्रेन के कोच में आइसोलेशन वार्ड की सुविधा रहेगी। चिकित्सीय व्यवस्था रहेगी। 
पूर्व मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने कहा कि बिहार राज्य में सहरसा, कटिहार, समस्तीपुर, दरभंगा, जयनगर, बरौनी, मुजफ्फरपुर, नरकटियागंज,  पटना जं., रक्सौल, सीतामढ़ी, सोनपुर, जमालपुर, छपरा और सीवान कुल 15 स्टेशनों पर कोरोना के संदिग्ध मरीजों की स्वास्थ्य देखभाल सुविधाएं उपलब्ध करायी जा सकती है।

 केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा जारी दिशा निर्देश के अनुसार इन स्टेशनों पर पूर्व मध्य रेल के द्वारा आइसोलेशन/क्वारंटाइन वार्ड के रूप में तब्दील किए जा चुके 269 रेलवे कोचों को खड़ा किया जा सकता है। ये कोच हर तरह की चिकित्सा सुविधाओं से युक्त रहेगा। इसमें कोविड-19 से संक्रमित अथवा संदिग्ध मरीजों को आइसोलेट या क्वारंटाइन कर रखने की व्यवस्था रहेगी।

 उन्होंने कहा कि केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के दिशा-‘निदेशों के अनुसार राज्य सरकार रेलवे को एक मांग पत्र भेजेगी और उसके आधार पर कोचों का आवंटन किया जाएगा । रेलवे के द्वारा आवंटित किए जाने के बाद सभी चिकित्सा सुविधाओं के साथ कोचों को इन चयनित स्टेशनों पर खड़ा करते हुए संबंधित डीएम अथवा उनके द्वारा अधिकृत अधिकारी को सौंपा जाएगा। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के बढ़ते खतरे को देखते हुए इस महामारी से लड़ाई में रेलवे राज्यों के साथ कंधा से कंधा मिलाकर चलने को तैयार है। 

कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के लिए पूरे भारतीय रेल में 5231 कोचों को कोविड देखभाल केंद्र के रूप में तब्दील किया गया है। इसमें पूर्व मध्य रेल द्वारा तैयार किए गए 269 कोचें भी शामिल है। उन्होंने कहा कि देश में 215 स्टेशनों में से 85 स्टेशनों पर रेलवे द्वारा स्वास्थ्य देखभाल सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी। 

राज्य के अनुरोध पर 130 स्टेशनों पर भी दी जा सकती यह सुविधा
राज्य के अनुरोध पर और 130 स्टेशनों पर ये सुविधाएं उपलब्ध करायी जा सकती हैं। जहां चिकित्सक सहित अन्य आवश्यक चिकित्सा सुविधा राज्य सरकार स्वयं तय करेंगे। इस संबंध में केंद्र सरकार द्वारा राज्य सरकारों को आवश्यक दिशा निर्देश भी जारी कर दिया गया है।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews