सुपौल।शौचालय टैंक की मरम्मती का नहीं है बजट, छात्राएं झेलती हैं परेशानी - कोशी लाइव

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

कार किंग [मधेपुरा]

कार किंग [मधेपुरा]
पंचमुखी चौक,मधेपुरा

Translate

Thursday, February 13, 2020

सुपौल।शौचालय टैंक की मरम्मती का नहीं है बजट, छात्राएं झेलती हैं परेशानी

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।

त्रिवेणीगंज (सुपौल): किसी भी सरकार का मुख्य मुद्दा आमलोगों को बेहतर शिक्षा, स्वास्थ्य और सुरक्षा व्यवस्था मुहैया कराना है। जिन बातों को ध्यान में रखते हुए सरकार द्वारा आए दिन तरह-तरह की जन कल्याणकारी योजनाओं की शुरुआत की जाती है। हाल के दिनों में इन योजनाओं में शामिल प्रमुख योजना लोहिया स्वच्छ भारत अभियान के तहत स्वच्छता है। इस अभियान को लेकर अधिकारी भी चौकन्ने दिखते हैं, लेकिन ठीक इसके विपरीत स्वच्छता के नाम पर त्रिवेणीगंज अनुमंडलीय अस्पताल कैंपस स्थित एएनएम ट्रेनिग स्कूल और छात्रावास अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है।
----------------------------
क्या है समस्या
एएनएम ट्रेनिग स्कूल और छात्रावास के तीन मं•िाले इस बिल्डिग के ग्राउंड फ्लोर पर करीब दो-तीन वर्षों से अनुमंडलीय अस्पताल त्रिवेणीगंज का संचालन भी हो रहा है। इसके साथ ही इस बिल्डिग के प्रथम तल्ले से लेकर अन्य भवनों में एएनएम ट्रेनिग स्कूल का क्लास रूम, छात्रावास व अन्य व्यवस्था संचालित है। कुछ वर्ष पूर्व करोड़ों की लागत से बने इस भवन के परिसर में बारिश के मौसम में सीपेज तो आम बात है। इसके शौचालय का टैंक कई महीनों से क्षतिग्रस्त है, नतीजा यह है कि गंदगी ग्राउंड फ्लोर के पोर्टिको के पास जमीन पर जमा होता जा रहा है। इसके दुर्गंध से यह अस्पताल नहीं बीमारी का अखाड़ा बनता जा रहा है।
-----------------------------
क्या कहते हैं अधिकारी
अनुमंडलीय अस्पताल त्रिवेणीगंज के प्रबंधक प्रेम रंजन से जब इस मामले में बात की गई तो उन्होंने बताया कि एएनएम ट्रेनिग स्कूल और छात्रावास के बिल्डिग का शौचालय सही से काम नहीं कर रहा है। जिस कारण यह गंदगी फैल रही है, हमारे पास इतनी बजट नहीं है कि जो दिन प्रतिदिन सफाई कराते रहें। वहीं अस्पताल के प्रभारी उपाधीक्षक डॉ आरपी सिन्हा ने बताया कि एएनएम ट्रेनिग सेंटर के प्रिसिपल को साफ करवाने के लिए बता दिया गया है।
इसके साथ ही जब इस बाबत एएनएम ट्रेनिग स्कूल के प्राचार्य मु. आरिफ से बात की गई तो उन्होंने बताया कि विभाग को कई बार बोला गया है लेकिन कार्रवाई अब तक नहीं हुई है।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

Total Pageviews

Post Bottom Ad

Pages