पटना में ब्लास्ट मामला: किसी को नहीं पच रही गैस सिलेंडर की बात, अब सीआइडी करेगी जांच - कोशी लाइव

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

कार किंग [मधेपुरा]

कार किंग [मधेपुरा]
पंचमुखी चौक,मधेपुरा

Translate

Wednesday, February 12, 2020

पटना में ब्लास्ट मामला: किसी को नहीं पच रही गैस सिलेंडर की बात, अब सीआइडी करेगी जांच

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।

पटना पटना के गांधी मैदान थाना क्षेत्र के सालिमपुर अहरा गली में अर्जुन साव के मकान में हुए ब्लास्ट मामले में नया मोड़ आ गया है। अब मामले की जांच का जिम्मा सीआइडी को सौंप दिया गया है। मंगलवार को एडीजी सीआइडी विनय कुमार की अध्यक्षता में चार सदस्यीय टीम ने जांच भी शुरू कर दी है। इस बीच ब्लास्ट में गंभीर रूप से झुलसी 70 वर्षीय गंगजला देवी की उपचार के दौरान मंगलवार को मौत हो गई जबकि अन्य पांच घायलों का उपचार चल रहा है। महिला 50 फीसद तक झुलस गई थी।  
जांच टीम में कई सीनियर अफसर शामिल 
जांच को बनी चार सदस्यीय टीम में डीआइजी सीआइडी गरिमा मलिक, आइजी सेंट्रल रेंज संजय सिंह और एफएसएल के अधिकारी शामिल हैं। सीआइडी गैस रिसाव सहित अन्य बिंदुओं पर भी जांच कर रही है। आज दोपहर एडीजी सीआइडी, डीआइजी सीआइडी, आइजी, एफएसएल के अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे। मौके पर एसएसपी उपेन्द्र कुमार शर्मा और टाउन डीएसपी भी थे। टीम ने दो घंटे तक घटनास्थल का मुआयना कर सभी कमरों की बारीकी से जांच शुरू की। ब्लास्ट के पीछे सही वजह जानने के लिए एफएसएल ने दोबारा नमूना संकलन किया और क्षति का आकलन किया। जांच टीम ने स्थानीय लोगों से भी पूछताछ की। हादसे में घायल हुए लोगों से भी टीम ने पीएमसीएच में मुलाकात कर जानकारी जुटाई। कमेटी दो से तीन दिनों में एडीजी को रिपोर्ट सौंप देगी।

एसएसपी ने की थी गैस रिसाव से ब्लास्ट की पुष्टि
: सोमवार को घटना के बाद एसएसपी ने पुष्टि की थी कि एफएसएल और एटीएस की प्रारंभिक जांच में पता चला था गैर रिसाव से धमाका हुआ है। एफएसएल और एटीएस की टीम दो घंटे तक जांच की थी। टीम के लौटने के बाद घायल बैजनाथ के करीबी घटनास्थल पर पहुंचे और आलमारी से जरूरी सामान और कपड़े सुरक्षित निकाल लिया। 
सील नहीं किया गया कमरा
सोमवार को पुलिस जांच के बाद घटनास्थल को सील नहीं किया गया। किचन में घायलों के रिश्तेदार आते जाते रहे। बैजनाथ के करीबी आलमारी से निकालकर कपड़े को सहेजते नजर आए। मंगलवर को सीआइडी के अधिकारी और एफएसएल के साथ इंडियन ऑयल की टीम भी पहुंची थी। खुद आइजी जले हुए कपड़ों को बारीकी से देख रहे थे। जिस किचन में गैस रिसाव के बाद धमाका हुआ था वहां सीआइडी ने करीब 30 मिनट तक जांच की। क्षतिग्रस्त दीवार के पास भी टीम साक्ष्य खोजती नजर आई।  
सोमवार को हुआ था ब्‍लास्‍ट
विदित हो कि सोमवार को अर्जुन साव के मकान के फस्र्ट फ्लोर पर किराएदार बैजनाथ के कमरे में धमाका हुआ। जांच में यह बात सामने आई थी किचन में पानी गर्म करने के दौरान गैस रिसाव से धमाका हुआ था। धमाके में सेकेंड फ्लोर से लेकर पीछे का एक मकान क्षतिग्रस्त हो गया। इस दौरान बैजनाथ, उसकी पत्नी, दोनों बेटिया और एक बेटा सहित मां घायल हो गई। तीसरी मंजिल पर रहने वाला किराएदार भी जख्मी हो गया। 

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

Total Pageviews

Post Bottom Ad

Pages