BIHAR:कुत्तों का आतंक: पटना में एक साल में एक भी कुत्ते की नहीं हुई नसबंदी - कोशी लाइव

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

कार किंग [मधेपुरा]

कार किंग [मधेपुरा]
पंचमुखी चौक,मधेपुरा

Translate

Monday, February 10, 2020

BIHAR:कुत्तों का आतंक: पटना में एक साल में एक भी कुत्ते की नहीं हुई नसबंदी

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।

बिहार की राजधानी पटना में कुत्तों का आतंक इस कदर है कि अगर आप सजग नहीं रहे तो कभी भी शिकार हो सकते हैं। इससे बचने के लिए करीब दो साल पहले आवारा कुत्तों की नसबंदी की योजना पटना नगर निगम ने बनाई थी। ई-टेंडर के जरिए एनजीओ का भी चयन हो गया। अस्थायी तौर पर फाइव हार्डिंग रोड में तीन हजार वर्ग मीटर में  एनिमल बर्थ कंट्रोल डॉग्स हॉस्पीटल का निर्माण करा लिया गया, मगर अब तक एक भी कुत्ते की नसबंदी नहीं हो सकी। 
गौरतलब है कि नगर निगम ने गाजियाबाद स्थित भारतीय पशु चिकित्सालय एंड पेट केयर सेंटर को आवारा कुत्तों की संख्या नियंत्रित करने का जिम्मा मार्च, 2019 को सौंपा था। गाजियाबाद से 24 सदस्यों की मेडिकल टीम भी आई, लेकिन टीम सिर्फ सर्वे कर 30 जून, 2019 को लौट गई। टीम इसलिए वापस चली गई, क्योंकि नगर निगम प्रशासन कुत्तों के ऑपरेशन के लिए जरूरी उपकरण और ऑपरेशन थियेटर (ओटी) उपलब्ध नहीं करा सका। 
एक कुत्ते के ऑपरेशन पर 980 रुपये देगा निगम
जब ई-टेंडर फाइनल हुआ था तक एक कुत्ते के ऑपरेशन पर 1700 रुपये निगम द्वारा देने पर सहमति बनी थी। अब निगम प्रशासन 980 रुपये प्रत्येक कुत्ता देने की बात कह रहा है। बाकी की रशि 780 रुपये एनिमल वेलफेयर बोर्ड देगा। इस पर भी सहमति बन गई है। फरवरी में हुई बैठक में तय हुआ है कि जल्द ही कुत्तों की नसबंदी शुरू की जाए, लेकिन उपकरण उपलब्ध कराने की सूचना अभी तक प्राप्त नहीं है।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

Total Pageviews

Post Bottom Ad

Pages