सहरसा।कोहरे और पछुआ हवा से लुढ़का तापमान, ठंड से ठिठुरे सहरसा के लोग - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Tuesday, January 14, 2020

सहरसा।कोहरे और पछुआ हवा से लुढ़का तापमान, ठंड से ठिठुरे सहरसा के लोग

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।

सहरसा जिले में पिछले एक सप्ताह से कड़ाके की ठंड जारी है। सोमवार को भी तापमान में काफी गिरावट दर्ज की गई। तेज पछुआ हवा के बीच कनकनी ने लोगों को परेशानी बढ़ा दी है। देर रात तक ओस भी गिरता है। कोहरे के कारण अभी भी मौसम साफ नहीं हो पाया है।
कोहरे से सूर्य की तपिश भी कम पड़ जाती है। सोमवार को दोपहर बाद कुछ देर के लिए धूप निकली तो थोड़ी राहत मिली लेकिन कुहासे व बादल की ओट में सूर्य के छिप जाने से फिर से ठंड का प्रकोप शुरू हो गया। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार तीन दिनों से कोल्ड डे घोषित रहा। सोमवार को अधिकतम तापमान 16.5 व न्यूनतम तापमान आठ डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। 14 जनवरी से पछुआ हवा में कमी आने के बाद तापमान में बढ़ोत्तरी की संभावना है। मौसम वैज्ञानिक संतोष कुमार ने कहा कि मंगलवार से पूर्वी हवा चलने पर तापमान में बढ़ोत्तरी की संभावना है।
ठंड के कहर से दर्जनों बीमार : सोमवार को सदर अस्पताल में ठंड से पीड़ित मरीजों की भीड़ इलाज करवाने जुटी रही। कोसी तटबंध के मंगरौनी से इलाज के लिए पहुंची राम दुलारी देवी ने बताया कि रविवार की रात से शरीर में ऐठन के साथ दर्द हो रहा है। स्थानीय स्तर पर दवा लेकर खाई लेकिन सुधार नहीं हुआ। अन्य मरीजों में कोई सर्दी से तो कोई खांसी से परेशान थे। ठंड के मौसम में डाक्टरों ने लोगों को अपना ध्यान रखने की सलाह दी है। पूर्व चिकित्सा पदाधिकारी डा. विनय कुमार सिंह ने बताया कि लोग घर से निकलते वक्त गर्म कपड़े पहने। कान व छाती को पूरी तरह ढककर रखें। डायबिटीज व ब्लड प्रेशर के मरीज नियमित दवा का सेवन करें।
आलू की फसल को हो सकता है नुकसान : कृषि विभाग के अनुसार अत्यधिक पाला गिरने से आलू की फसल को नुकसान होने की संभावना है। किसान फसल को अपने स्तर से बचाव करने में जुटे हुए हैं।
जिला प्रशासन के निर्देशों की अवेहलना: ठंड में बच्चे को स्कूल आना मजबूरी बन गई है। जिला प्रशासन के आदेशों को दरकिनार कर कई निजी स्कूलों द्वारा कक्षा का संचालन किया जा रहा है। जिला शिक्षा विभाग ने कहा है कि निर्देशों की अवेहलना करने वाले स्कूलों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उनकी प्रस्वीकृति तक रद्द कर दी जाएगी।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews