सहरसा।दहेज दानवों ने नयना के दोनों हाथ तोड़ बनाया बंधक - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Monday, January 13, 2020

सहरसा।दहेज दानवों ने नयना के दोनों हाथ तोड़ बनाया बंधक

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।

सहरसा। बनगांव थाना क्षेत्र के बनगांव गांव में दहेज के लिए ससुराल पक्ष के लोगों ने विवाहिता का दोनों हाथ तोड़ दिया। यही नहीं उसे पिछले आठ दिनों तक बंधक बनाए रखा। मायके पक्ष की पहल पर रविवार की शाम पुलिस ने उसे मुक्त कराकर मायके पक्ष के हवाले कर दिया। पीड़िता का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है।
विवाहिता के पिता शहर के तिवारी टोला वार्ड नंबर 33 निवासी शंभूकांत झा ने बताया कि उन्होंने अपनी पुत्री नयना कुमारी की शादी पांच मार्च 2017 को बनगांव निवासी राकेश कुमार नीरज से कराई थी। शादी में करीब 21 लाख रुपये खर्च हुए थे। जब उनकी पुत्री ससुराल गई तो दामाद व उसके मां-पिता ने कार खरीदने के लिए पांच लाख रुपये की मांग करने लगे। मेरी बेटी ने जब असमर्थता जताई तो उसको प्रताड़ित करने के साथ-साथ मारपीट किया जाता रहा। मेरी पुत्री इस प्रताड़ना को सहती रही। इस दौरान पुत्री को एक पुत्र भी हुआ। उन्होंने कहा कि जब विदाई कराने दामाद के घर जाते थे ससुराल पक्ष के सभी लोगों द्वारा पांच लाख की मांग की जाती थी। विदाई नहीं देकर बेइज्जत कर भगा दिया जाता था। उन्होंने कहा कि तीन जनवरी को बनगांव के सरपंच पति गोपाल मिश्रा ने मोबाइल पर सूचना दी कि यदि आपको अपनी लड़की की जान बचानी है तो यहां आकर लड़की को ले जाइए। नहीं तो लड़की को ये लोग मार देगा। जब वो बनगांव थाना गये तो पुलिस पदाधिकारी एनके सिंह के साथ पुत्री के ससुराल पहुंचे। इसमें मेरी पुत्री के साथ मारपीट की बात सामने आई। लेकिन पुत्री की विदाई नहीं की गई। जिसके बाद वो एसपी, डीआइजी, एसडीपीओ को इसकी सूचना दिए कि उनकी पुत्री को मारपीट कर बंधक बनाकर रखा गया है। जिसके बाद पुलिस के पहल पर उनकी पुत्री को वहां से मुक्त कराया गया। पुत्री का दोनों हाथ तोड़ दिया गया है जबकि शरीर पर जख्म के कई निशान हैं। मामले में बनगांव थानाध्यक्ष रामएकबाल पासवान ने बताया कि लड़की का बयान लेकर आगे की कार्रवाई की जाएगी। मामले में एक को हिरासत में लिया गया है।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews