सहरसा।जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने किया टीकाकरण स्थल का दौरा, ड्यू लिस्ट अपडेट नहीं होने पर दी हिदायत - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Thursday, January 16, 2020

सहरसा।जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने किया टीकाकरण स्थल का दौरा, ड्यू लिस्ट अपडेट नहीं होने पर दी हिदायत

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।
सहरसा।अमन कुमार की रिपोर्ट।

मिशन इन्द्रधनुष अभियान 2.0 के तहत किया पर्यवेक्षण

शत-प्रतिशत बच्चों के टीकाकरण का रखा गया है लक्ष्य

सहरसा ,16 जनवरी - जिले में नियमित टीकाकरण से वंचित 2 साल तक के बच्चों का टीकाकरण करने के उद्देश्य से 6 जनवरी से मिशन इन्द्रधनुष 2.0 अभियान चलाया जा रहा है. अभियान की सफलता को लेकर पूर्व में ही जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ कुमार विवेकानंद ने सभी प्रखंडों को दिशा निर्देश दिया था. साथ ही सभी क्षेत्रीय कार्यकर्ताओं( आशा एवं एएनएम) को ससमय सर्वे करने एवं ड्यू लिस्ट तैयार करने के भी निर्देश दिए गए थे. इसको लेकर डीआईओ डॉ कुमार विवेकानंद ने गुरूवार को मंगवार आंगनबाड़ी केंद्र संख्या - 55 वार्ड नंबर- 2 का दौरा कर टीकाकरण की स्थिति का जायजा लिया. 
हेड काउंट सर्वे एवं ड्यू लिस्ट में मिली खामी:
डीआईओ डॉ कुमार विवेकानंद ने बताया कि यूनिसेफ के एसएमसी बंटेश नारायण मेहता के साथ उन्होंने सोनवर्षा प्रखंड के मंगवार आंगनबाड़ी केंद्र संख्या - 55 वार्ड नंबर- 2 का दौरा किया था. जिसमें उन्होंने पाया कि हेड काउंट सर्वे नहीं किया गया है. साथ में ड्यू लिस्ट भी अपडेट नहीं था. जबकि पूर्व में ही इसके विषय में जानकारी दी गयी थी. उन्होंने बताया कि टीकाकरण सत्र पर पेड मोबिलाईजर रखने के निर्देश दिए थे. लेकिन दौरे में पाया गया कि दूसरे क्षेत्र की आशा को यहाँ पर लगाया था. इससे अभियान की गुणवत्ता में कमी आती है. अभियान में शत-प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य रखा गया था. इसलिए जरूरी है कि कार्य-योजना के तहत ही क्षेत्रीय स्तर पर भी कार्य किए जायें. 
सेविका मिली अनुपस्थित:
डॉ. विवेकानंद ने बताया कि दौरे में वहाँ की एएनएम कंचना उपस्थित मिली. लेकिन वहाँ की आंगनबाड़ी सेविका उषा कुमारी अनुपस्थित थी. इसको लेकर सोनवर्षा प्राथमिक चिकित्सा केन्द्रों के चिकित्सा प्रभारी को जानकारी दे दी गयी है. उन्होंने बताया कि दौरे में मिली कमियों को दूर करने के लिए संबंधित अधिकारीयों को सूचना दी गयी है. अभियान की सफलता के लिए सबों की आपसी सहभागिता अत्यंत जरुरी है. इसके बिना अभियान के लक्ष्यों को हासिल करने में कठिनाई आ सकती है.
इस मौके पर जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ कुमार विवेकानंद, यूनिसेफ के एसएमसी बंटेश नारायण मेहता कथा सोनवर्षा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के बीसीएम उपस्थित थे।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews