बिहार: हाजीपुर जेल के अंदर चली गोली, कुख्यात कैदी की हत्या - कोशी लाइव

Breaking

Home Top Ad

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

कार किंग [मधेपुरा]

कार किंग [मधेपुरा]
पंचमुखी चौक,मधेपुरा

Translate

Friday, January 3, 2020

बिहार: हाजीपुर जेल के अंदर चली गोली, कुख्यात कैदी की हत्या

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।

 हाजीपुर : वैशाली जिले के हाजीपुर जेल में गोलीबारी की सूचना है. बताया जा रहा है कि अपराधियों ने एक कैदी को जेल के अंदर ही गोली मार दी. हाजीपुर मंडल कारा के अंदर कैदी की हत्या की घटना के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है. घटना की सूचना मिलने पर स्थानीय अधिकारियों के अलावा जेल आईजी भी हाजीपुर मंडल कारा पहुंच चुके हैं.
घटना के संबंध में बताया जाता है कि वैशाली जिले के हाजीपुर जेल में अपराधियों ने एक कैदी को जेल के अंदर ही गोली मार दी. घायल कैदी को इलाज के लिए तुरंत जेल अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी. मृत कैदी की पहचान मनीष कुमार के रूप में की गयी. बताया जाता है कि वह सोना लुटेरा मनीष सिंह गैंग का ही गुर्गा था. जेल में वारदात की सूचना मिलने पर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. सूचना मिलते ही स्थानीय डीएसपी और सदर अनुमंडल पदाधिकारी हाजीपुर मंडल कारा पहुंचे और जेल अधीक्षक से वारदात के संबंध में जानकारी ली. घटना की सूचना मिलने पर जेल आईजी भी मौके पर पहुंच चुके हैं.
बताया जाता है कि सोना लूट कांड का मास्टर माइंड अनु सिंह के निर्देश पर उसके साथी राजा ने मनीष कुमार को गोली मारी है. पुलिस द्वारा सर्च जेल के भीतर सर्च अभियान चलाये जाने के बाद जेल के अंदर ही हत्या में प्रयुक्त पिस्टल को बरामद कर लिया है. गोली कांड मामले में सोना लूट कांड के मास्टर माइंड अनु सिंह और उसके सहयोगी राजा कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. मृत कैदी मनीष कुमार जयपुर सोना लूट कांड में आरोपित था. वहीं, सोना लूट कांड का मास्टर माइंड अनु सिंह का सहयोगी राजा आर्म्स एक्ट में जेल आया था. अनु सिंह के निर्देश पर ही राजा ने मनीष कुमार को गोली मार दी है.

कोर्ट में पेशी के दौरान मनीष पर हो चुकी थी फायरिंग
हाजीपुर कोर्ट में 23 मई, 2019 की सुबह पेशी के दौरान जंदाहा थाने के तेलिया गांव निवासी मनीष कुमार पर अपराधियों ने अंधाधुंध फायरिंग कर दी थी. कोर्ट परिसर में अपराधियों द्वारा मनीष कुमार पर फायरिंग किये जाने की घटना में दो पुलिसकर्मी भी घायल हो गये थे. 
सोना लुटेरा मनीष सिंह के गैंग का गुर्गा था मनीष, एसटीएफ ने मुठभेड़ में किया था ढेर
हाजीपुर जेल में बंद कैदी मनीष कुमार सोना लुटेरा मनीष सिंह गैंग का गुर्गा है. पुलिस ने उसे साल 2018 में गिरफ्तार किया था. वह आर्म्स एक्ट के मामले में जेल में बंद है. 16 मार्च, 2019 को वैशाली जिले के महनार थाने की हसनपुर दक्षिणी पंचायत के बहलोलपुर दियारा में एसटीएफ ने राजस्थान में सोना लूटकांड समेत कई संगीन मामलों में शामिल मनीष सिंह गैंग के तीन अपराधियों को मार गिराया था. साथ ही मौके से दो AK-47, एक राइफल, एक पिस्टल समेत भारी मात्रा में कारतूस बरामद किये थे. राघोपुर दियारा क्षेत्र निवासी मनीष सिंह हाजीपुर हथसारगंज मोहल्ले में रहता था. उसके अलावा मुजफ्फरपुर के मनियारी थाना क्षेत्र निवासी मो अब्दुल इमाम उर्फ राजकुमार और समस्तीपुर जिले के मथुरापुर ओपी क्षेत्र के शेखोपुर गांव निवासी अब्दुल अमान उर्फ तिवारी मुठभेड़ में मारे गये थे. वैशाली के तत्कालीन एसपी डॉ मानवजीत सिंह ढिल्लो के मुताबिक, गिरोह का सरगना मनीष सिंह कुख्यात सुबोध सिंह का दाहिना हाथ था. सुबोध सिंह को एसटीएफ ने गिरफ्तार कर लिया था. इसके बाद मनीष सिंह और उसके गिरोह देश के विभिन्न शहरों में सोना लूटकांड की घटनाओं को अंजाम देने के बाद दियारा क्षेत्र में आकर छिप जाते थे. राजस्थान, जयपुर, कोलकाता, मुंबई सहित कई शहरों में सोना लूटकांडों को मनीष सिंह गिरोह ने ही अंजाम दिया था.


बिहार: जेल में कैदी की हत्‍या के बाद अब वैशाली में थाने पर हमला, पुलिस वाहन में तोड़फोड़।


वैशाली बिहार के वैशाली में अभी जेल में हुई हत्‍या से पुलिस महकमा परेशान ही है कि राजपाकर थाने पर एक अन्‍य हत्‍या मामले को लेकर आक्रोशित लोगों ने हमला कर दिया। राजापाकर में बीमा कर्मी मनीष की हत्या का ग्रामीण विरोध कर रहे थे। आक्रोशित लोगों ने राजापाकर थाने पर जमकर बवाल काटा। शव के साथ पहुंचे लोगों ने पुलिस वाहन को क्षतिग्रस्त कर दिया और थाने में तोड़फोड़ कर दी। इस दौरान पुलिस और पब्लिक में जमकर नोकझोंक भी हुई।
घटना से गुस्साए लोग राजापाकर थाना पर पहुंच गए और प्रदर्शन करने लगे। इस दौरान हजारों की संख्या में आए लोगों ने पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। भीड़ पर काबू पाने में पुलिस को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी।  हंगामे के कारण थाना के पास काफी देर तक अफरातफरी का माहौल कायम रहा।
दरअसल, अपराधियों ने राजापाकर के रहने वाले निजी बीमा कंपनी के कर्मी मनीष कुमार को गोली मारकर हत्या कर दी। उसका शव महुआ थाना क्षेत्र से बरामद किया गया, लेकिन शव के पोस्टमार्टम के बाद लोग राजापाकर थाना पहुंच गए और फिर घटना को लेकर हंगामा किया।
बाइक लूट के दौरान श्रीराम फाइनेंस कंपनी के कर्मी मनीष कुमार को अपराधियों ने गोली मार दी। घटना स्थल पर ही उसकी मौत हो गई। घटना तब घटी, जब वह हाजीपुर से अपने गांव भलुई जाने के दौरान ढेलफोरवा के निकट पहुंचा। अपराधियों ने गाड़ी लूटने के दौरान उनके सीने में गोली मार दी और बाइक लेकर फरार हो गए। मनीष के देर रात तक घर नहीं पहुंचने पर परिजनों ने खोजबीन शुरू की, तो सड़क के किनारे कर्मी का पहले बैग मिला और उससे कुछ ही दूरी पर मनीष शव मिला।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

Total Pageviews

Pages