BIHAR:मूर्ति विसर्जन करने जा रहे जुलूस पर हमला; 30 मिनट तक बम-गोलियां चलती रहीं, कई गाड़ियां तोड़ीं और जला दीं….. - कोशी लाइव

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

कार किंग [मधेपुरा]

कार किंग [मधेपुरा]
पंचमुखी चौक,मधेपुरा

Translate

Saturday, February 1, 2020

BIHAR:मूर्ति विसर्जन करने जा रहे जुलूस पर हमला; 30 मिनट तक बम-गोलियां चलती रहीं, कई गाड़ियां तोड़ीं और जला दीं…..

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।

मूर्ति विसर्जन करने जा रहे जुलूस पर हमला; 30 मिनट तक बम-गोलियां चलती रहीं, कई गाड़ियां तोड़ीं और जला दीं…..

अपडेट्स:
पटना.मां सरस्वती की मूर्ति का रानीघाट में विसर्जन करने जा रहे सैदपुर हॉस्टल के छात्रोंपर मिंटो हॉस्टल के छात्रों ने हमला कर दिया। इस दौरानबम फेंके गए। इससे अशोक राजपथ पर लालबाग के पास भगदड़ मच गई। मिंटो का जुलूस भी पास ही था। इसी बीच छात्रों और स्थानीयलोगों के बीच भिड़ंत हो गई। दोनों ओर से फायरिंग, बमबाजी औरपथराव होने लगा। एक राहगीर को भी गोली लगी।आधा घंटे तक दर्जनों राउंड गोलियां और बम चले। घटनाशुक्रवार देर शाम करीब साढ़े 7 बजे की है।
दारोगा-सिपाहियों को लगे बम के छर्रे
उपद्रवियों ने कई कार समेत वहां पर खड़ीतीन-चार बाइक को आग के हवाले कर दिया। सड़क किनारे खड़े दर्जनों ऑटो, बाइक औरअन्य वाहनों काे तोड़ दिया। गोली और बम चलने से पटना विश्व विद्यालय के टीओपी प्रभारी दारोगा मनोज कुमार, 3 सिपाही के साथ चार आम लोग जख्मी हो गए।
पहले भागी पुलिस 1 घंटे बाद दल-बल के साथ पहुंची
करीब एक घंटे बाद वज्र वाहन के साथ पहुंची पुलिस ने लाठी चार्ज कर भीड़ को तितर-बितर किया। मौके पर डीएम कुमार रवि, एसएसपी उपेंद्र शर्मा, सिटी एसपी ईस्ट जितेंद्र कुमार के साथ ही 6 थानों की पुलिस व स्पेशल टीम घटनास्थल पर पहुंची। 7 घायलों काे पीएमसीएच में, एक काे एनएमसीएच में भर्ती कराया गया। सब खतरे से बाहर हैं।
दोनों हॉस्टलों के छात्रों के बीच कई बार हो चुकी है भिड़ंत
मिंटो औरसैदपुर हॉस्टल के छात्रों के बीच कई बार मूर्ति विसर्जन से लेकर अन्य मौकों पर भिड़ंत हो चुकी है। पुलिस बार-बार पटना विवि के हॉस्टलों में छापेमारी भी करती है। बम-बारूद भी बरामद किया जा चुका है। यही नहीं, अशोक राजपथ पर मूर्ति विसर्जन के दौरान भी इस तरह की वारदातें हो चुकी हैं। डीएम कुमार रवि ने बताया कि उपद्रवियों की पहचान की जा रही है। जो भी इसमें शामिल होंगे, उन पर कार्रवाई होगी। अगर प्रशासन औरपुलिस की चूक हुई होगी तो इसकी भी जांच की जाएगी।



BIHAR:पटना में मूर्ति विसर्जन के दौरान फायरिंग और बमबाजी, दर्जनों घायल

पटना में शुक्रवार की रात मूर्ति विसर्जन के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प के बाद जमकर उपद्रव हुआ। असामाजिक तत्वों ने पीरबहोर थाने के लालबाग और कदमकुआं के नाला रोड स्थित आंबेडकर भवन के पास जमकर तोड़फोड़ की। इस दौरान फायरिंग व बमबाजी करते हुए शरारती तत्वों ने पुलिस पर भी पथराव किया। यही नहीं, कृष्णाघाट में खड़े राहगीर मयंक और इकबाल की कार व तीन बाइक फूंक डाली। पथराव में पीरबहोर थाने में पदस्थापित दारोगा मनोज कुमार समेत तीन पुलिसकर्मी, छात्र चंद्रशेखर व कई राहगीर गंभीर रूप से घायल हो गए।
घायल पुलिसकर्मियों को पीएमसीएच तथा छात्र को एनएमसीएच में भर्ती कराया गया है। स्थिति अनियंत्रित होने पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर उपद्रवियों को खदेड़ दिया। इसके बाद एहतियातन मौके पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स और रैफ के जवानों को तैनात कर दिया गया है। फिलहाल, दोनों जगहों पर तनावपूर्ण शांति बनी हुई है। बताया गया कि रात करीब आठ बजे पटना विश्वविद्यालय के मिंटो व सैदपुर हॉस्टल के छात्र गाजे-बाजे के साथ मूर्ति विसर्जन का जुलूस लेकर अशोकराजपथ से होते हुए लालबाग पहुंचे थे। सैदपुर हॉस्टल के छात्र आगे-आगे जा रहे थे, जबकि मिंटो के छात्र पीछे थे।
इस दौरान छात्रों के गुटों में झड़प होने लगी। विवाद बढ़ने के साथ जुलूस लालबाग पहुंच गया। झड़प होते देख लालबाग के स्थानीय लोग आगे आ गए। इसके बाद असामाजिक तत्वों ने बवाल शुरू कर दिया। दोनों गुटों ने पथराव करते हुए बमबाजी शुरू कर दी। दोनों गुटों ने दर्जनों राउंड गोलियां चलाईं। असामाजिक तत्वों ने तोड़फोड़ करते हुए कई ठेलों को पलट दिया। बवाल देखकर पुलिसकर्मी भाग गए। बाद में अतिरिक्त बल के साथ आईजी रेंज व एसएसपी के पहुंचने पर पुलिसकर्मियों ने लाठीचार्ज कर उपद्रवियों को खदेड़कर मामले को शांत कराया। बाद में कड़ी सुरक्षा के बीच मूर्ति विसर्जन कराया गया।
कदमकुआं में भी हुई तोड़फोड़
सैदपुर हॉस्टल के मूर्तिविसर्जन के दौरान कदमकुआं  में भी जमकर बवाल हुआ। असामाजिक तत्वों ने यहां भी तोड़फोड़ और पत्थरबाजी की। एक आंख के अस्पताल और कोचिंग संस्थान में तोड़फोड़ की गयी। इसके साथ ही कई बाइकों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। घटना राजेंद्रनगर स्थित आंख के निजी अस्पताल और नाला रोड अंबेडकर भवन के बगल में स्थित  कोचिंग संस्थान में हुई। उपद्रव और तोड़फोड़ देख आसपास की सभी दुकानें बंद हो गयीं। सहमें राहगीरों ने अपनी गाड़ियों को दूसरी ओर घुमा लिया। बाद में पुलिस के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हुआ। कदमकुआं थानेदार निशीकांत निशी के मुताबिक पीड़ितों की ओर से इस बाबत शिकायत की गयी है। पुलिस तोड़फोड़ में शामिल छात्रों की पहचान कर उन पर कार्रवाई करेगी।
आईजी संजय सिंह ने कहा कि शहर में अमन-चैन कायम रहे, इसके लिए पुलिस पूरी तरह से मुस्तैद है। हर स्तर पर चौकसी बरती जा रही है। हर किसी से गुजारिश है, अमन-शांति कायम रहे, इसमें अपना सहयोग दें। विभिन्न सामाजिक संगठनों को भी इसमें अहम भूमिका निभानी होगी। यदि किसी ने भी कानून को अपने हाथ में लिया तो उसे किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा। इसके लिए पुलिस को कड़े निर्देश दिए गए हैं।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

Total Pageviews

Post Bottom Ad

Pages