बिहार:गैंगरेप वीडियो वायरल होने के बाद कैमूर में बंद की गयी इंटरनेट सेवा, विरोध में तोड़फोड़, मोहनिया में छह बाइकें, एक गुमटी व दो दुकानें फूंकी - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Tuesday, November 26, 2019

बिहार:गैंगरेप वीडियो वायरल होने के बाद कैमूर में बंद की गयी इंटरनेट सेवा, विरोध में तोड़फोड़, मोहनिया में छह बाइकें, एक गुमटी व दो दुकानें फूंकी

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।

मोहनिया (कैमूर) : गैंगरेप के वायरल हुए वीडियो के मामले को लेकर सोमवार को आक्रोशित लोगों ने मोहनिया शहर में जमकर तोड़फोड़, पथराव व आगजनी की. 
 
प्रदर्शनकारियों ने आधा दर्जन बाइकें, एक गुमटी एवं दो झोंपड़ीनुमा दुकानों को आग के हवाले कर दिया. बाइक व गुमटी को आग के हवाले करने के बाद पथराव भी शुरू कर दिया. इससे  बाजार की अन्य दुकानों के शटर पांच मिनट में ही धड़ाधड़ गिर गये और मोहनिया शहर में अचानक सन्नाटा पसर गया. वहीं, घटना की सूचना पर डीएम सहित पुलिस के वरीय अधिकारी मोहनिया पहुंचे. जबकि, इधर मामले को शांत कराने के लिए पुलिस ने हल्का बल का प्रयोग किया गया. इसके बाद स्थिति पर काबू पाया गया. 
 
हालांकि, पूरी घटना में किसी के घायल होने की खबर नहीं है. जगह जगह पर शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए पुलिस बल की तैनाती कर दी गयी है. 
 
वहीं, शाम होते-होते छुट्टी पर गये एसपी दिलनवाज अहमद व डीआइजी राकेश राठी मोहनिया पहुंचे और शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए अधिकारियों एवं शांति समिति के सदस्यों के साथ बैठक की.  कैमूर पुलिस ने वायरल वीडियो में रहे दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है. इस संबंध में एसपी दिलनवाज अहमद ने बताया कि गैंगरेप के आरोपित बनाये गये चार लोग पल्लू, कलामु, सिकंदर व गाड़ी के चालक सोनू में से दो लोग पल्लू और सोनू को गिरफ्तार कर लिया गया है. 
 
वहीं, जिस मोबाइल फोन से गैंग रेप का वीडियो बनाया गया था, उसे भी जब्त कर लिया गया है. इसके अलावा गैंग रेप में इस्तेमाल की गयी शिफ्ट डिजायर कार भी डेहरी से बरामद की गयी है. शेष बचे दो आरोपितों सिकंदर और कलामु की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.
 
पुलिस ने गैंगरेप के दो आरोपितों को किया गिरफ्तार  
 
एफएसएल की टीम ने कार से लिये सैंपल
 
जिस कार में नाबालिग छात्रा के साथ गैंगरेप किया गया था उस कार की जांच के लिए सोमवार की सुबह पटना से एफएसएल की टीम भभुआ पहुंची. 
 
कार से सैंपल एफएसएल की टीम ने लिया. एफएसएल की टीम ने भभुआ में लगभग एक घंटा तक बारीकी से कार की जांच की और सैंपल एकत्रित किये. इसके अलावा गैंगरेप के बनाये गये वीडियो में इस्तेमाल मोबाइल फोन को भी एफएसएल टीम को जांच के लिए दिया गया है. 
 

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews