बिहार:चिराग पासवान को मिली लोजपा की कमान, मार्गदर्शक बने रहेंगे रामविलास - कोशी लाइव

 कोशी लाइव

नई सोच नई खबर

Breaking

तिवारी एजेंसी(सहरसा)

तिवारी एजेंसी(सहरसा)
छड़,सीमेंट,गिट्टी,बालू एवं हार्डवेयर की सामान के लिए संपर्क करें।

THE JABED HABIB

THE JABED HABIB
BEST HAIR AND MAKEUP SLOON

Translate

Tuesday, 5 November 2019

बिहार:चिराग पासवान को मिली लोजपा की कमान, मार्गदर्शक बने रहेंगे रामविलास

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।
अक्की।
पटना. जमुई से सांसद और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान (Ramvilas Paswan) के बेटे चिराग पासवान (Chirag Paswan) लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष बन गए हैं. चिराग की ये ताजपोशी दिल्ली में रामविलास पासवान की मौजूदगी में हुई. मंगलवार को ही दिल्ली में पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हुई जिसके बाद चिराग पासवान की ताजपोशी हुई.
चिराग बोले- सिद्धांतो से नहीं करूंगा समझौता
इस मौके पर चिराग पासवान ने कहा कि रामविलास पासवान राजनीति में सक्रिय रहेंगे और मैं
उनका मार्गदर्शन लेता रहूंगा. उन्होंने कहा कि आज कई राज्यों में हमारी सरकार है. केंद्र में हमारी सरकार है. चुनाव में हमारा शत प्रतिशत प्रदर्शन रहा. उपचुनाव का जिक्र करते हुए चिराग ने कहा कि इस उपचुनाव में एनडीए का प्रदर्शन उतना अच्छा नहीं रहा फिर भी एलजेपी को उपचुनाव में जीत मिली और
प्रिंस राज चुनाव जीते. चिराग ने कहा कि पार्टी की विचारधारा से कभी समझौता नहीं किया गया है और मैं
आगे भी पार्टी को नई ऊंचाइयों तक लेकर जाऊंगा.
संगठन में भी नहीं होगा फेरबदल
चिराग ने संगठन के बारे में चर्चा करते हुए कहा कि संगठन में ज़्यादा फेरबदल नहीं होंगे. पहले की तरह ही कार्यकारिणी और अलग-अलग राज्यों के अध्यक्ष करते रहेंगे काम  रामविलास पासवान ने 2014 लोकसभा चुनाव से पहले चिराग को लोजपा संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष की जिम्मेदारी सौंपी थी इसके पांच साल बाद अब उन्हें नेतृत्व सौंपा जा रहा है.
2019 के लोकसभा चुनाव में लीड कर रहे थे चिराग
इस साल हुए लोकसभा चुनाव में भी सीटों के बंटवारे और उम्मीदवारों के चयन में चिराग की अहम भूमिका रही थी. दिल्ली में चिराग की ताजपोशी का ऐलान करते हुए रामविलास पासवान ने कहा था कि हम चाहते हैं कि अगली पीढ़ी अपना काम संभाले.
फिल्म से राजनीति का रुख
चिराग ने पहली फिल्म में नाकामी के बाद राजनीति का रुख किया था. इससे पहले 4 नवंबर 2011 को उनकी फिल्म 'मिले ना मिले हम' आई थी लेकिन कुछ खास कमाल नहीं दिखा सकी. इसके बाद 2013 में चिराग पासवान फिल्मी दुनिया छोड़ कर राजनीति में सक्रिय हुए थे. तब चिराग ने आरजेडी-एलजेपी गठबंधन के लोकसभा उपचुनाव के उम्मीदवार प्रभुनाथ सिंह के लिए चुनाव-प्रचार किया था.
बीजेपी के साथ सीटों के तालमेल में भी अहम भूमिका
चिराग पासवान रामविलास पासवान के इकलौते बेटे हैं. वो लोजपा संसदीय दल के भी अध्यक्ष हैं. 2019 में उन्होंने बिहार की जमुई सीट से दोबारा जीत हासिल की है. इस बार उनका मुकाबला रालोसपा के प्रदेश अध्यक्ष भूदेव चौधरी से था जिनको हराने में वो सफल रहे थे. बीजेपी के साथ सीटों के तालमेल में भी चिराग की अहम भूमिका रही थी.
युवा हाथों में लोजपा की कमान
रामविलास पासवान की पार्टी लोजपा में बदलाव का दौर लगातार जारी है. चिराग की ताजपोशी से पहले लोजपा की बिहार प्रदेश इकाई के प्रदेश अध्यक्ष बदले जा चुके हैं. पार्टी में हाल ही में उपचुनाव जीत कर समस्तीपुर से सांसद बने प्रिंस राज को प्रदेश अध्यक्ष बनाया जा चुका है जबकि राष्ट्रीय अध्यक्ष की कुर्सी भी युवा चिराग पासवान को मिलने जा रही है. कहा ये जा रहा है कि अपने गिरते स्वास्थ्य से परेशान रामविलास पासवान ने पहले ही अध्यक्ष पद छोड़ने का फैसला ले लिया था और चिराग पासवान को अध्यक्ष बनाने की कवायद पिछले कई दिनों से चल रही थी.

Total Pageviews

Follow ME

SAFETY ZONE

SAFETY ZONE

कोशी लाइव

यहाँ आप कोशी क्षेत्र के आसपास सभी जिलों मधेपुरा, सहरसा,सुपौल।तथा अपने प्रखंड ओर पंचायत की सटीक खबरें पढ़ सकते हैं। अगर किसी भी प्रकार की न्यूज़ आपके पास है।तो आप हमें दिए गए नम्बर 9570452002 पर whatsapp द्वारा भेज सकते हैं। -----------संपादक:-स्टॉलिन अमर अक्की www.koshilive.com

Connect With us

Pages