मधेपुरा/बिहार:बीमा भारती के बेटे के साथ मारपीट, पूर्व मुखिया के खिलाफ मामला दर्ज - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Sunday, November 3, 2019

मधेपुरा/बिहार:बीमा भारती के बेटे के साथ मारपीट, पूर्व मुखिया के खिलाफ मामला दर्ज

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।
अक्की।
मधेपुरा : बिहार में मधेपुरा के चौसा प्रखंड अंतर्गत अरजपुर पश्चिमी पंचायत के भटगामा में गन्ना विकास मंत्री बीमा भारती के पुत्र एवं भतीजा के साथ मारपीट किए जाने का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है. इस बाबत मंत्री बीमा भारती के पुत्र राजकुमार ने चौसा थाना में दिये गये आवेदन में कहा है कि मैं अपनी स्क्रॉपियो गाड़ी से चालक जितेंद्र कुमार एवं ममेरा भाई संजय कुमार के साथ अपने मित्र को भागलपुर जिले के नवगछिया थाना के श्रीपुर गांव छोड़ने गया था. लौटने के क्रम में बीते शाम भटगामा जीरो माइल के समीप सुशील यादव पेट्रोल पंप के सामने मेरे साथ गाड़ी रोक कर मारपीट किया गया.

आवेदन में राजकुमार ने सुशील यादव, रमण यादव, निरंजन यादव, नंदनी यादव, सुबोध यादव, कैलाश यादव, राकेश सिंह, बमबम यादव, अरुण सिंह समेत 10 लोगों पर मारपीट का आरोप लगाते हुए गले से सोने का चेन और 40 हजार रुपये कैश छीन लिए जाने का आरोप लगाया है. प्रभारी थाना अध्यक्ष महेश कुमार रजक ने बताया कि चौसा पुलिस ने मामले को दर्ज कर लिया है और तफ्तीश जारी है. जो भी दोषी होंगे पुलिस उन्हें किसी भी शर्त पर बख्शा नहीं जायेगा.

उधर, पूर्णिया जिले के रुपौली विधायिका सह वर्तमान के गन्ना विकास मंत्री बीमा भारती ने घटना की तीखी निंदा करते हुए कहा कि नीतीश सरकार में रंगदारी नहीं चलेगी. किसी का बपौती राज नहीं है. जो भी हुआ है गलत हुआ है. पुलिस दोषी को शीघ्र गिरफ्तार करें. जब एक विधायक और मंत्री का पुत्र सुरक्षित नहीं है तो आम आदमी की क्या बात है. यह सवाल हर लोगों की जुबान पर तैर रहा है. उन्होंने यह भी  कहा कि भटगामा में सब दिन सुशील यादव का वर्चस्व कहलाता है. इससे प्रशासनिक अधिकारी मौन बनीं  हुई है.

वहीं, पूर्व प्रमुख अवधेश मंडल ने बताया कि मेरे बेटे के साथ की मारपीट यह निंदनीय है. अगर आरोपितों की जल्द गिरफ्तारी नहीं हुई तो उग्र आंदोलन किया जायेगा. उन्होंने कहा कि गिरफ्तारी के लिए धरना-प्रदर्शन किया जायेगा. जहां तक रही चौसा थाना के सभी अधिकारी थाना में आने के बाद नहीं था. इसका मतलब है कि कही न कही प्रशासन की मिली भगत से गिरफ्तारी नहीं हो रहा है. उन्होंने कहा कि अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी सीपी यादव के रिश्तेदारी में आने के चलते सुशील यादव को गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है. इस मामले को उच्च अधिकारी से लेकर  मुख्यमंत्री तक जानकारी दी जा चुकी है.

उधर, पूर्व मुखिया सुशील कुमार यादव ने कहा कि घटना की कोई जानकारी मुझे नहीं है. किसने कब किसको पीटा. देर रात मुझे किसी ने मोबाइल पर जानकारी दी तो मैं स्तब्ध रह गया. मुझे गहरी राजनीति का शिकार बनाया जा रहा है. जो दुखद है. पुलिस मामले की जांच कर दोषी को गिरफ्तार करे. मैं प्रशासन के साथ हूं.

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews