मधेपुरा।गिट्टी ओवरलोडिंग में ‘बाइक पर केस - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Wednesday, November 27, 2019

मधेपुरा।गिट्टी ओवरलोडिंग में ‘बाइक पर केस

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।

जिले के चौसा थाना में चारा घोटाला जैसा ही एक मामला सामने आया है। यहां ओवरलोडिंग के आरोप में पांच ट्रकों पर केस दर्ज किया गया, लेकिन उनमें से दो ट्रकों का जो रजिस्ट्रेशन नंबर दर्शाया गया है वे दोनों बाइक के हैं। चौसा पुलिस द्वारा जब्त किये गये ओवरलोड बालू और गिट्टी लदे पांच ट्रकों के चालकों पर जबरन गाड़ी लेकर भागने का केस दर्ज किया गया है।
इस मामले में बड़ी लेनदेन का खुलासा इस बात से होता है कि थाने में दर्ज की गयी प्राथमिकी में जिन पांचों ट्रक का रजिस्ट्रेशन नंबर अंकित किया गया है। जांच में उसमें से दो नंबर बाइक की निकली है। इस मामले में सवाल यह उठाया जा रहा है कि क्या बाइक पर बालू और गिट्टी ढोया जा सकता है या फिर ट्रक को बचाने के लिए पुलिस ने मिलीभगत कर अनजान गाड़ी का नंबर अंकित कर दिया।
हैरान करने वाली बात यह है कि एसडीपीओ की पर्यवेक्षण टिप्पणी में भी दो बाइक की नंबर को ही ट्रक नंबर के रूप में अंकित कर घटना को सत्य करार दिया गया है। जबकि केस के अनुसंधानकर्ता द्वारा परिवहन विभाग से गाड़ियों के निकाले गए विवरण में दो रजिस्ट्रेशन नंबर को बाइक के नंबर के अंकित किया गया है। इस मामले में जदयू के पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष हरधर कांत मिश्र ने पुलिस महानिदेशक को आवेदन देकर पूरे मामले की जांच कराने की मांग की है।
जानकारी हो कि चौसा थाना में दो फरवरी 2019 को गिट्टी और बालू लदे पांच ट्रकों पर कांड संख्या 31/19 दर्ज किया गया। चौकीदार बेंगो पासवान के बयान पर दर्ज केस में कहा गया कि 29 जनवरी 2019 को उदाकिशुनगंज एसडीएम द्वारा फोन से दी गयी जानकारी के बाद थानाध्यक्ष के आदेश पर लौआलगाम भटगामा पेट्रोल पंप के पास पहुंचा। वहां उदाकिशुनगंज एसडीएम ने गिट्टी और बालू लदे ओवर लोड पांच ट्रक को रोक कर रखा था।
वहां पहुंचते ही एसडीएम ने आदेश दिया कि सभी पांचों ट्रक को थाना ले जाएं। एसडीएम के आदेश के बाद सभी ट्रक चालकों से गाड़ी लेकर थाना चलने को कहा तो सभी चालकों ने उसके साथ धक्का मुक्की किया और ट्रक लेकर भाग निकला। इसकी सूचना तुरंत थाने को दी गयी। गौर करने वाली बात यह है कि केस में घटना 29 जनवरी की बतायी गयी है, जबकि ट्रक चालकों के विरुद्ध 2 फरवरी को केस दर्ज किया गया है।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews