सुपौल:अंतरजिला चोर गिरोह के दो सदस्य गिरफ्तार,चोरी का वाहन बरामद - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Saturday, November 16, 2019

सुपौल:अंतरजिला चोर गिरोह के दो सदस्य गिरफ्तार,चोरी का वाहन बरामद

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।
अक्की।
पुलिस ने थाना क्षेत्र के वार्ड 13 और बसंतपुर पंचायत में 9 नवंबर की रात पांच जगह हुई चोरी मामले में पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से चोरी का कुछ सामान भी बरामद किया गया है। साथ ही चोरी में इस्तेमाल किए गए दो वाहनों को भी पुलिस ने जब्त किया है। चोरी कांड के खुलासे का दावा करते हुए एएसपी रामानंद कौशल ने शुक्रवार को थाना में बताया कि इस अंतरजिला गिरोह में एक महिला सहित चार चोर शामिल हैं। कटिहार जिले के रौतारा की रहने वाली महिला शमीना खातून इस गिरोह की सरगना है। वह दिन में लकड़ी चुनने के बहाने सुनसान घरों की रेकी करती थी। इसके बाद रात में गिरोह के सदस्य उन घरों में चोरी करते थे। बताया कि उत्तर बिहार ग्रामीण बैंक रतनपुर शाखा के प्रबंधक संजय कुमार मिश्रा और भगवान गुप्ता के घर समेत अन्य जगहों से मोबाइल और एलसीडी चोरी हुई थी। चोरी गए मोबाइल की ट्रैकिंग के आधार पर पुलिस चोर गिरोह तक पहुंचने में सफल रही। पूर्णिया और मधेपुरा से हुई गिरफ्तारी: एएसपी ने बताया कि जांच के क्रम में पुलिस ने पूर्णिया जिले के रानीपतरा थाना क्षेत्र के सिमल गाछी वार्ड 13 निवासी दिलीप कुमार रविदास को गिरफ्तार किया। उसके दरवाजे पर से घटना में शामिल लाल रंग की हुंडई कंपनी की कार डीएल 3 सी ए क्यू/1160 बरामद किया गया। इसके बाद दिलीप की निशानदेही पर मधेपुरा जिला के भिरखी वार्ड 26 से राजू मुखिया को गिरफ्तार किया गया। राजू के घर से चोरी की पैनासोनिक कंपनी की एलसीडी टीवी बरामद की गई। राजू मुखिया के दरवाजे पर से ही घटना में शामिल टाटा सफारी डेकोर डीएल 3सी ए सी / 6443 बरामद की गयी। दिलीप और राजू से जब पूछताछ की गई तब पूरे गिरोह का भंडाफोड़ हुआ। उन्होंने बताया कि पुलिस ने चौथे चोर की भी पहचान कर ली है। महिला सहित एक अन्य चोर की गिरफ्तारी और चोरी गए कीमती सामानों की बरामदगी के लिए पुलिस का प्रयास जारी है। 


नो पार्किंग जोन में खड़े वाहन जब्त


नो पार्किंग जाने में खड़े वाहनों के खिलाफ शुक्रवार को विशेष अभियान चलाया गया। अनुमंडल दंडाधिकारी के नेतृत्व में पुलिस जवान सड़क किनारे आरी-तिरछी खड़ी 15 बाइक को जब्त कर थाना ले गए। इसके बाद सड़क की चौड़ाई बढ़ गई और लोगों को आवाजाही में काफी सहूलियत हुई। बताया जा रहा है कि कोर्ट परिसर के आसपास जाम की समस्या आम हो गई थी। इसको लेकर एसडीएम कयूम अंसारी के निर्देश पर दो दिन पहले से ही माइकिंग कराकर सड़क किनारे वाहन नहीं लगाने की अपील की गई थी। यही नहीं नोटिस भी चिपकाया गया था। बावजूद सड़क किनारे बाइक लगाकर लोग कोर्ट-कचहरी चले जाते थे जिससे आवाजाही में लोगों को काफी दिक्कतें हो रही थी। उधर, प्रशासनिक कार्रवाई से बाइक मालिकों में हड़कम्प मच गया है।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews