BIHAR NEWS:कटिहार में फर्जी इनकाउंटर मामले में दारोगा समेत दो पुलिसकर्मी गिरफ्तार - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Tuesday, November 19, 2019

BIHAR NEWS:कटिहार में फर्जी इनकाउंटर मामले में दारोगा समेत दो पुलिसकर्मी गिरफ्तार

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।
अक्की।
कटिहार जिले के कचना ओपी के पूर्व ओपी अध्यक्ष समेत दो पुलिसकर्मियों को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया गया। हत्या के मामले में कचना ओपी के तात्कालीन ओपीध्यक्ष दिलीप ओझा को बारसोई डीएसपी ने मनिहारी थाना से गिरफ्तार किया है।

पुलिस लाइन में पदस्थापित रघुवंश मणि ठाकुर लोकसभा चुनाव के दौरान आर्म्स लेकर फरार हो गया था। उसे भी गिरफ्तार किया गया है। सब इंस्पेक्टर श्री ओझा सोमवार को विभागीय कार्रवाई के मामले में मनिहारी थाना आये थे। जिसे गिरफ्तार कर बारसोई लाया गया। अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी बारसोई पंकज कुमार ने बताया कि 26 सितंबर 18 में तत्कालीन ओपीध्यक्ष के पद पर तैनात दिलीप ओझा पर एक युवक मुन्ना नूनिया को गोली मारने का आरोप था। गोली मारने से मुन्ना नूनिया की मौत हो गयी थी। उस समय कचना ओपी में काफी बवाल मचा था। मृतक की पत्नी लक्ष्मी देवी के आवेदन पर बारसोई थाना में कांड संख्या 272/18 के तहत मामला दर्ज किया गया था।

जांच के क्रम में इनकाउंटर फर्जी साबित हुआ था। जिसके आलोक में यह कार्रवाई हुई है। डीएसपी श्री कुमार ने बताया कि उक्त गिरफ्तारी आईजी के निर्देश पर हुई है। जबकि  पुलिस लाइन में पदस्थापित रघुवंश मणि ठाकुर को लोकसभा चुनाव के दौरान आर्म्स लेकर फरार हो गया था। सार्जेन्ट मेजर ने सहायक थाना में मामला दर्ज कराया था। जिसके आलोक में यह कार्रवाई हुई है। 
दोनों पुलिसकर्मी को पुलिस तत्कालीन पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ मोहन जैन ने निलंबित कर दिय था। वहीं पुलिस आर्म्स लेकर फरार होनेवाले सिपाही को पुलिस अधीक्षक विकास कुमार ने निलंबित किया था। इस गिरफ्तारी से पुलिस कर्मियों में हलचल मच गया है।  
मालूम हो कि 26 सितम्बर 18 को युवक की हत्या के बाद आक्रोशित ग्रामीणों ने कचना ओपी का घेराव कर पुलिस के विरोध में जमकर हंगामा कर पथराव किया था। इस दौरान घटना की न्यायिक जांच भी करायी गयी थी। जिसमें इनकांउटर फर्जी साबित हुआ था। इसी को लेकर उक्त कचना पूर्व ओपीअध्यक्ष के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की गयी थी। 

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

Total Pageviews