सहरसा:बेशक प्यार की कोई उम्र नही होती,70 साल के वृद्ध को 63 साल की महिला का मिला सहारा - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Wednesday, November 6, 2019

सहरसा:बेशक प्यार की कोई उम्र नही होती,70 साल के वृद्ध को 63 साल की महिला का मिला सहारा

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।
अक्की।
सहरसा। बेशक प्यार की कोई आयुसीमा नहीं होती है। लेकिन कई बार जरूरत भी इंसान को एक दूसरे के करीब ले आती है।
ऐसा ही एक मामला नवहट्टा पूर्वी पंचायत में उजागर हुआ है। पंचायत के वार्ड नंबर छह की 63 वर्षीय गुलाब देवी और सात नंबर वार्ड निवासी 70 वर्षीय ठक्कन सादा के बीच जब दूरियां कम हुई और इश्क परवान चढ़ा तो ग्रामीणों को इसकी भनक लगी। तत्पश्चात ग्रामीणों ने बुधवार की सुबह बिषहारा गहबर में दोनों की शादी रचा दी।
जानकारी के अनुसार, ठक्कन कामत एवं गुलाब देवी के बीच कई सालों से प्रेम प्रसंग चल रहा था। स्थानीय ग्रामीण इसी ताक में थे कि कभी पकड़ में आए तो इन दोनों की शादी रचा दी जाए। बुधवार की अहले सुबह जब ठक्कन कामत महिला के आंगन से निकल रहे थे तो उसी समय दोनों के प्रेम की सच्चाई उजागर हो गई। ऐसे में वहां बड़ी संख्या में ग्रामीण एकत्रित हो गए और दोनों को गहबर ले जाकर हिदू रीति-रिवाज से शादी करा दी। इस मौके पर वार्ड सदस्य विक्रम कामत, प्रभु कामत, सुबोध कामत, दिगंबर कामत, बुधनी देवी, रेखा देवी समेत बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे। लोगों ने बताया कि ठक्कन शादी के बाद गुलाब देवी को अपने घर ले जाना चाहते थे। मगर गुलाब देवी ने इसे शादी मानने से इंकार कर दिया और सिदूर तक धो डाली। बहरहाल यह घटना पूरे इलाके में आग की तरह फैल गई है जिसकी पूरे इलाके में चर्चा हो रही है।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews