सहरसा:फिर शर्मशार हुई ममता, झाड़ी में फेंकी मिली नवजात - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Sunday, October 20, 2019

सहरसा:फिर शर्मशार हुई ममता, झाड़ी में फेंकी मिली नवजात

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।
अक्की।
सहरसा। एक तरफ लोग संतान प्राप्ति के लिए क्या-क्या उपाय नहीं करते हैं। दूसरी ओर शनिवार की दोपहर गोलमा पश्चिमी पंचायत के बथनाहा वार्ड छह में ममता शर्मशार दिखी जहां एक बोरी में नवजात बच्ची के मिलने से सनसनी फैल गई।
राम टोला के बगल बांसबाड़ी की झाड़ी के बगल धान खेत में एक सीमेंट की बोरी में लपेटी एक नवजात बच्ची मिली। शनिवार को बथनाहा बस्ती की जीविका गंगा समूह की बैठक चल रही थी। धान खेत में नवजात होने की सूचना पर लोगों की भीड़ लग गई गई। बथनाहा निवासी जीविका समूह की सदस्या मसो कला देवी पति स्व. कमलेश्वरी राम ने बोरी से बच्ची को निकाल कर साफ-सफाई करते हुए मां की ममता दी। तत्काल मौजूद लोगों ने संरपच किरण देवी को सूचना दी। मौके पर सरपंच पति सत्येन्द्र सिंह गोपाल ने पहुंच कर ओपी अध्यक्ष को सूचना दी। दिया। सूचना पाते ही ओपी अध्यक्ष अजीत कुमार, चौकीदार दिनेश पासवान के साथ पहुंचे। ओपी अध्यक्ष ने जीविका दीदी कला देवी के साथ बच्ची को लेकर पीएचसी पतरघट पहुंचे। पीएचसी में मौजूद डॉक्टर संजीव कुमार झा, एएनएम अर्चना सिन्हा, रीता कुमारी उपचार में जुट गयी। पीएचसी में मौजूद डाक्टर ने बताया कि तीन-चार घंटे पूर्व की जन्म का जन्म हुआ है। नवजात बच्ची का इलाज किया जा रहा है। बाबत ओपी अध्यक्ष ने बताया कि लावारिस नवजात बच्ची को पीएचसी में रखा गया है तथा सहरसा चाइल्ड लाइन को सूचित किया गया है।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

Total Pageviews