सहरसा:हिंसा के शिकार हुए हिंदुओं को दिया श्रद्धांजलि, मौन धारण कर निकली गई वेदना मार्च - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Wednesday, October 23, 2019

सहरसा:हिंसा के शिकार हुए हिंदुओं को दिया श्रद्धांजलि, मौन धारण कर निकली गई वेदना मार्च

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।
रितेश हन्नी।*

सहरसा - जिला परिषद प्रांगण स्थित रेनबो रिसोर्ट में समस्त हिंदू समाज के द्वारा देश के विभिन्न हिस्से में हिंदुओ के साथ हो रहे हिंसा के शिकार बने हिंदुओं को विनम्र श्रद्धांजलि दिया गया इसमें स्वर्गीय कमलेश तिवारी स्वर्गीय बंधु प्रकाश पाल अंकित गुप्ता, भरत यादव, डॉ नारंग ट्विंकल एवं अन्य सभी लोग जो धार्मिक हिंसा का शिकार बने और उन्हें मौत के घाट उतार दिया गया। इस श्रद्धांजलि का उद्देश्य मृत आत्मा  को शांति प्रदान करने के लिए था और साथ ही साथ गूंगी और बहरी सरकारों को यह भी बताना था कि इस प्रकार एक के बाद एक हत्या का समय सहन हिंदू समाज बिल्कुल नहीं करेगा और यदि सरकार सतर्क ना हुई इस प्रकार के हिंसक गतिविधि पर अंकुश ना लगा आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा ना मिली तो हिंदू समाज अपनी सुरक्षा के लिए स्वयं हिंसा के मार्ग को चुनने के लिए विवश हो जाएगा और दूसरा कोई विकल्प हिंदू समाज के पास नहीं बचेगा। श्रद्धांजलि कार्यक्रम के बाद एक वेदना मार्च निकाली गई जिसमें सभी लोगों ने मौन धारण कर रेनबो रिसोर्ट से पदाधिकारियों के कार्यालय होते हुए डीआईजी  को ज्ञापन सौंपकर अपना विरोध जताया। ध्यान रहे कि हिंदू समाज के संस्कार में ही सर्वे भवंतु  सुखिन तथा वसुधैव कुटुंबकम जैसे वाक्य समाहित हैं इस कारण हिंदू समाज सबों को स्वीकार करता आया है इसका तात्पर्य यह कतई नहीं है कि हम कमजोर हैं यदि हम उदारता दिखा सकते हैं तो उपद्रवियों को उनका वास्तविक स्थान भी दिखा सकते हैं। आज सभी प्रकार के शैडो सेक्युलर मीडिया वामपंथी और सहिष्णुता पर लंबे चौड़े भाषण एवं आलेख प्रकाशित करवाने वाले बिना मतलब हो हल्ला करने वाले  किस बिल में छुपे हुए हैं ढूंढ पाना मुश्किल है यह वही लोग हैं जो देश की अखंडता को सतत तोड़ने का प्रयास करते हैं हम हिंदू हैं उसके बाद सामान्य पिछड़ा अत्यंत पिछड़ा दलित अथवा महादलित हैं हमारी एक ही पहचान है और वह हमारे हिंदू होने की पहचान है।
कार्यक्रम के उपरांत संध्या में  थाना चौक स्थित बजरंगबली मंदिर प्रांगण में सामूहिक आरती का आयोजन किया गया तथा सबके कुशलता की कामना की गई। इस संपूर्ण कार्यक्रम में नन्हे सिंह, प्रणव मिश्रा, शारदा कांत, रोशन झा, शुभाष गाँधी, टिंकु सरकार, पम्पल सिंह, अभिषेक सिंह, सत्यम सिंह, पुनीत आनंद, रौनक, सोनू मिश्रा, बमबम मिश्रा, राज सिंह, मोनू महाकाल, नवनीत सिंह, जीतू सिंह, सत्यम, विनीत, आलोक, मनीष, सोनू कुमार, नंद राज, पुरुषोत्तम, मनीष छोटू, आलोक कश्यप, सोनू मिश्रा, गोलू सिंह, गौरव परिहार आदि ने भाग लिया।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews