बिहार:बिहार का कुख्यात विकास झा उर्फ कालिया दिल्ली में गिरफ्तार, डबल इंजीनियर मर्डर में है सजायाफ्ता - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Saturday, October 19, 2019

बिहार:बिहार का कुख्यात विकास झा उर्फ कालिया दिल्ली में गिरफ्तार, डबल इंजीनियर मर्डर में है सजायाफ्ता

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।
अक्की।
भागलपुर। Infamous sharp shooter of Bihar Vikas Jha (Kalia) arrested in Delhiबिहार के सीतामढ़ी जिले का कुख्यात अपराधी विकास झा उर्फ कालिया दिल्‍ली में गिरफ्तार हुआ है। बिहार की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने उसे गिरफ्तार किया है। विकास झा भागलपुर के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज और अस्पताल, मायागंज स्थित कैदी वार्ड से होमगार्ड जवान की आंखों में मिर्ची पाउडर झोंक कर भाग निकला था। उसके बाद से बिहार पुलिस अनहोनी की आशंका से परेशान थी। विकास के भागने के बाद अनहोनी की आशंका से उत्‍तर बिहार के पांच जिलों की पुलिस को अलर्ट भी कर दिया गया था। विकास इसी साल अगस्‍त में फरार हुआ था। 
शार्प शूटर है विकास झा

विकास झा, कुख्यात गैंगस्टर संतोष झा व मुकेश पाठक गिरोह का शार्प शूटर है। वह नाॅर्थ लिबरेशन आर्मी का सक्रिय सदस्य है। वह बथनाहा थाना के बथनाहा पूर्वी टोला का रहने वाला है। बता दें कि विकास झा हत्या के मामले में सजायाफ्ता है। सुरक्षा कारणों से उसे सीतामढ़ी जेल से विशेष केंद्रीय कारा (कैम्प जेल) में प्रशासिनक आधार पर शिफ्ट किया गया था। आठ अगस्त को उसे इलाज के लिए मायागंज अस्पताल के कैदी वार्ड में भर्ती कराया गया था। सीतामढ़ी के अलावा पूरे बिहार में उस पर दर्जनों संगीन मामले दर्ज हैं। 
डबल इंजीनियर मर्डर केस से आया था चर्चा में
26 दिसंबर 2015 को दरभंगा के बहेड़ी थाना इलाके के मध्य विद्यालय शिवराम के निकट दिनदहाड़े बाइक सवार बदमाशों ने एसएच -88 का निर्माण करा रही सी एंड सी/ बीएससी ज्वाइंट वेंचर कंपनी के अभियंता मुकेश कुमार और ब्रजेश कुमार को एके -56 से भून डाला। घटना को अंजाम देने के बाद अपराधियों ने मुकेश पाठक और विकास झा जिंदाबाद के नारे लगाए था।
मोटी रकम की उगाही की बात आई थी सामने
पुलिस जांच में घटना के पीछे निर्माण कंपनी से रंगदारी की मोटी रकम उगाही की बात सामने आई थी। इसमें कुख्यात संतोष झा गिरोह (पीपुल्स लिबरेशन आर्मी) के हाथ होने के संकेत मिला। विकास झा इसी के बाद चर्चा में आया था। इस मामले में विकास को कोर्ट ने उम्र कैद की सजा सुनाई थी। 
इंजीनियर हत्याकांड में 2015 में हुई थी गिरफ्तारी
दरभंगा में डबल इंजीनियर हत्याकांड के शूटर विकास झा उर्फ कालिया समेत तीन शातिरों को पुलिस ने 31 दिसंबर 2015 को गिरफ्तार किया था। इसके बाद से वह जेल में था। 
नेपाल से 2014 में पकड़ाया था विकास
विकास ने एक के बाद एक बड़ी घटनाओं को अंजाम दिया है। उसने 31 जुलाई 2013 को बाजपट्टी के मसहा गांव में पुल निर्माता कंपनी कंकड़ बाग पटना के सिलीकोना टेक इंडिया प्राईवेट लिमिटेड कंपनी के संवेदक 43 वर्षीय अनुपम कुमार की हत्या अपने सहयोगियों के साथ कर दी। इसके अलावा बेलसंड व लगमा में कई अभियंता व संवेदकों की हत्या में वह शामिल रहा। वारदात के बाद विकास काठमांडू चला गया था। 18 अगस्त 2013 को एसटीएफ पटना की टीम ने नेपाल से संतोष झा गिरोह के दो कान्ट्रैक्ट किलर विकास झा उर्फ कालिया व चिरंजीवी सागर को गिरफ्तार किया था।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

Total Pageviews