बिहार:चिन्‍मयानंद के बाद बिहार के इस RJD MLA पर कसा शिकंजा, दुष्‍कर्म कांड में कुर्की करने पहुंची पुलिस - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Sunday, September 22, 2019

बिहार:चिन्‍मयानंद के बाद बिहार के इस RJD MLA पर कसा शिकंजा, दुष्‍कर्म कांड में कुर्की करने पहुंची पुलिस

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर।

भोजपुर। यौन शोषण के आरोप में उत्‍तर प्रदेश में चिन्‍मयानंद (Chinmayanand) की गिरफ्तारी के बाद अब बिहार में राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) विधायक अरुण यादव (MLA Arun Yadav) पर भी देह व्‍यापार (Flesh Trade) व दुष्‍कर्म के एक मामले में काननू का शिकंजा कसता जा रहा है। आरा कोर्ट (Ara Court) ने उनके विरुद्ध शनिवार को कुर्की-जब्ती का वारंट (Warrant for Attachment) जारी कर दिया। आदेश के आधार पर रविवार की दोपहर पुलिस विधायक अरुण यादव के लसाढ़ी और अगिआंव गांव स्थित आवास पर कुर्की करने पहुंच गई। इस दौरान पुलिस ने कागजात खंगाले। अरुण यादव पटना-आरा देह व्‍यापार व दुष्‍कर्म कांड में फरार चल रहे हैं।
ज्ञात हो कि गत 18 जुलाई को देह व्‍यापार गिरोह (Flesh Trade Racket) के चंगुल से निकलकर भागी एक नाबालिग लड़की भोजपुर पुलिस के पास पहुंची। उसने पटना में एक इंजीनियर और एक विधायक के आवास पर दुष्‍कर्म की बात कही। लड़की ने आरा कोर्ट में दर्ज अपने बयान में कहा कि विधायक अरुण यादव के पटना स्थित आवास पर उसके साथ गंदा काम किया गया। इसके बाद विधायक की मुश्किलें बढ़ गईं हैं।

आरोपित विधायक फरार, कुर्की वारंट जारी
कांड के अनुसंधानकर्ता (IO) चंद्रशेखर गुप्ता ने पॉक्सो के विशेष न्यायाधीश सह प्रथम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश आरके सिंह के यहां कुर्की-जब्ती वारंट जारी करने के लिए अर्जी दी थी। शनिवार देर शाम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने फरार विधायक के खिलाफ कुर्की का आदेश जारी कर दिया।
विधायक की पत्‍नी ने कोर्ट ने लगाई ये गुहार
इधर इससे पहले विधायक की पत्नी किरण देवी ने अगिआंव स्थित आवास अपने नाम पर होने एवं बैंक लोन बकाया होने को लेकर कोर्ट में अर्जी दी थी। उन्होंने कोर्ट से अगिआंव स्थित मकान की कुर्की नहीं करने की गुहार लगाई थी। इस संबंध में भोजपुर एसपी सुशील कुमार ने कहा कि कोर्ट ने क्या आदेश दिया है यह देखने के बाद ही आगे की कार्रवाई की जाएगी।
कुर्की जब्‍ती के पहले कोर्ट में कर सकते सरेंडर
इसके पहले भोजपुर पुलिस ने मंगलवार की शाम आरजेडी विधायक अरूण यादव के भोजपुर स्थित लसाढ़ी व अगिआंव के घरों तथा पटना के हार्डिंग रोड स्थित सरकारी आवास पर छापेमारी की तथा वहां इश्‍तेहार चस्‍पा किया। कोर्ट से कुर्की जब्‍ती का आदेश जारी होनें के बाद विधायक पर सरेंडर करने के लिए दबाव बढ़ गया है। सूत्रों की मानें तो वे जमानत (Bail) कराने के प्रयास में लगे हैं। वे कुर्की के पहले कभी भी कोर्ट में सरेंडर (Surrender) कर सकते हैं।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

Total Pageviews