मधेपुरा:परिवार नियोजन ऑपरेशन के बाद महिला की मौत, हंगामा, सड़क जाम - कोशी लाइव

 कोशी लाइव

कोशी लाइव न्यूज़ Only News Complete News मधेपुरा, सहरसा, सुपौल एवं बिहार की अन्य जिलों का खबरों का संग्रह।

Breaking

तिवारी एजेंसी(सहरसा)

तिवारी एजेंसी(सहरसा)
छड़,सीमेंट,गिट्टी,बालू एवं हार्डवेयर की सामान के लिए संपर्क करें।

THE JABED HABIB

THE JABED HABIB
BEST HAIR AND MAKEUP SLOON

Translate

Saturday, 14 September 2019

मधेपुरा:परिवार नियोजन ऑपरेशन के बाद महिला की मौत, हंगामा, सड़क जाम

कोशी लाइव_नई सोच नई खबर:
अक्की :

मधेपुरा : बिहार के मधेपुरा में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र शंकरपुर में शुक्रवार की रात हुए एक महिला के परिवार नियोजन के बाद शनिवार की सुबह स्वास्थ्य केंद्र में ही तबीयत बिगड़ने के बाद महिला की मौत हो गयी. मौत की खबर मिलते ही परिजनों ने इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए पीएचसी में हंगामा किया. साथ ही तीन घंटे तक पीएचसी के समीप मुख्य मार्ग को जाम कर दिया.

मालूम हो कि गिद्धा वार्ड तीन निवासी सुरेंद्र सरदार की पत्नी रंजू देवी को परिवार नियोजन कराने के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया था. प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थापित डॉक्टर विमल कुमार ने शुक्रवार की रात्रि रंजू देवी का परिवार नियोजन ऑपरेशन किया. शनिवार की सुबह रंजू देवी को परिवार के लोगों ने चाय बिस्किट खिलाया. चाय बिस्किट खाने के कुछ देर बाद रंजू के शरीर से काफी मात्रा में पसीना आने लगा. शरीर ठंडा पड़ने लगा. परिजनों ने इसकी जानकारी डियूटी पर तैनात डॉक्टर विमल कुमार को दी.

डॉक्टर ने कुछ देर बाद जाकर रंजू देवी की जांच कर ऑक्सीजन लगाकर चुपके से बिना कुछ कहे निकल गये. रंजू के शरीर में किसी प्रकार के हरकत नहीं होते देख परिजनों ने रंजू को जगाने का प्रयास किया, लेकिन रंजू के शरीर में किसी प्रकार की हरकत नहीं होते देख अनहोनी की आशंका को लेकर मौके पर मौजूद परिजनों में चीख पुकार मच गयी.

परिजनों ने डॉक्टर पर लापरवाही का लगाया आरोप

मौत की खबर मिलने के बाद परिजनों में चीख पुकार मचने लगी. वही परिजनों ने तैनात डॉक्टर के पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि रंजू की तबीयत बिगड़ने के सूचना देने के बाद डॉक्टर ने जांच कर समुचित इलाज नहीं किया. बल्कि जांच के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति कर चुपके से निकल गये. जिस वजह से रंजू की मौत हो गयी. प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में सुविधा के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति किया जाता है. प्रसव हो या परिवार नियोजन में आशा कर्मी के सहयोग से परिजनों को बाहर से दवाई खरीद कर देना पड़ता है.

तीन घंटे तक रहा रोड जाम

परिवार नियोजन के बाद महिला की हुई मौत के बाद मृतक के परिजनों ने सैकड़ों लोगों के सहयोग से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के आगे रोड को जाम कर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में तैनात डॉक्टर के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते हुए मुआवजे की मांग करने लगे. जाम की सूचना मिलने के बाद अंचलाधिकारी अमित कुमार, प्रखंड प्रमुख अनिता कुमारी, थानाध्यक्ष राम बाबू विश्वकर्मा, एसआइ श्रीनारायण पाठक, एएसआइ राजू महतो, राम प्रबोध पासवान, मुखिया वीरेंद्र शर्मा, सरपंच प्रतिनिधि अरविंद यादव, शंकर सरदार, डॉ विनायक कुमार, प्रमुख प्रतिनिधि अशोक यादव ने मौके पर पहुंचकर पीड़ित परिवार व रोड जाम किये लोगों से सरकार के द्वारा मिलने वाली सहायता राशि उपलब्ध कराने की बात कर रोड जाम खत्म करवाकर शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया. 

Total Pageviews

Follow ME

SAFETY ZONE

SAFETY ZONE

KOSHILIVE

Only news Complete news. मधेपुरा,सहरसा,सुपौल एवं बिहार की अन्य जिलों की खबरों का संग्रह। अगर किसी भी प्रकार की न्यूज़ आपके पास है।तो आप हमें दिए गए नम्बर 9570452002 पर whatsapp द्वारा भेज सकते हैं। -----------संपादक:-स्टॉलिन अमर अक्की www.koshilive.com

Connect With us

Pages