BIHAR:बिक्री तो बंद नहीं हुई, 25% अधिक दाम पर अब मिल रहा पान मसाला - कोशी लाइव

BREAKING

रितिका CCTV

रितिका CCTV
सेल एंड सर्विस

विज्ञापन

विज्ञापन

Thursday, September 5, 2019

BIHAR:बिक्री तो बंद नहीं हुई, 25% अधिक दाम पर अब मिल रहा पान मसाला

कोशी लाइव:AKKY

सुपौल : पूर्ण शराबबंदी के बाद सरकार ने सूबे में एक साल के लिए 12 प्रकार के पान मसाला के खरीद-बिक्री पर रोक लगाने का फरमान जारी कर दिया है. आदेश के अनुसार मसाला बिक्री करते या सेवन करते यदि कोई भी लोग पकड़ाये तो उनके विरुद्ध कार्रवाई की जायेगी. हालांकि सरकार के आदेश बाद शहरी एवं ग्रामीण इलाके में सरकार के नये आदेश का कोई खास असर नहीं दिख रहा है. 
 
पान दुकान से लेकर किराने की दुकान तक में सरकार द्वारा प्रतिबंधित पान मसाला की बिक्री अब भी जारी है. यह दीगर बात है कि इसके दाम में बढ़ोतरी हो गयी है. जानकारी मुताबिक जिले में सभी प्रकार के पान मसाला का एक महीने में करीब 05 करोड़ का कारोबार हो रहा है. सरकार के आदेश के बाद अब इन कारोबार पर विराम लग जायेगा. वहीं इस कारोबार से जुड़े लोगों के सामने रोजी-रोटी की भी समस्या उत्पन्न होगी. 
 
25 प्रतिशत अधिक दाम अब मिल रहा पान मसाला
पान मसाला पर सरकार द्वारा पाबंदी के बाद बाजार में 60 रुपये में मिलने वाला पान मसाला अब 75 रुपये प्रति पैकेट मिल रहा है. वहीं 17 रुपये में मिलने वाला छोटा पैकेट 24 रुपये में मिल रहा है. जबकि 05 रुपये का अधिकांश पान मसाला 07 से 08 रुपये में मिल रहा है.
 
 पान मसाला खाने के शौकीन अब ऊंचे दाम पर पान मसाला का स्वाद ले रहे हैं. पान मसाला बेचने वाले दुकानदारों में सरकार के आदेश का कोई खौफ नहीं दिख रहा है. दुकानदार बताते हैं कि पूर्व में जो स्टॉक उनलोगों के पास था. वह खत्म हो चुका है. 
 
   प्रतिबंध के बाद पान मसाला व गुटखा के थोक विक्रेताओं द्वारा कालाबाजारी शुरू कर दी गयी है. दुकानदारों ने बताया कि सरकार के आदेश की तो उन्हें जानकारी है. लेकिन किन-किन पान मसाला को प्रतिबंधित किया गया है. उनलोगों को जानकारी नहीं है. वहीं प्रशासन द्वारा भी अब तक उनलोगों के लिए किसी प्रकार का आदेश जारी नहीं किया गया है. 
 
   बताया कि इस संदर्भ में पहले की भांति ध्वनि विस्तारक यंत्र से भी आम सूचना नहीं जारी की गयी है. जिस कारण उनलोगों के बीच ऊहापोह की स्थिति बनी हुई है.
 
 
जुर्माने व कार्रवाई की नहीं है जानकारी
पूर्ण शराबबंदी के बाद सरकार द्वारा शराबबंदी का पालन नहीं करने के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की घोषणा की गयी थी. इसके लिए तमाम अधिकारियों को निर्देश दिया गया था. जिससे लोगों को शराबबंदी कानून का उल्लंघन करने पर कार्रवाई की जानकारी तत्काल ही मिल गयी थी. 
 
लेकिन पान मसाला पर बैन किये जाने के बाद लोगों को इसका सेवन या बिक्री किये जाने पर पकड़े जाने के बाद क्या कार्रवाई होगी इसकी जानकारी नहीं है. बहरहाल पान मसाला की बिक्री और खपत का सिलसिला जारी है. दीगर बात है कि अब पान मसाला विक्रेता अपने प्रतिष्ठान में पान मसाला सजा कर नहीं बल्कि छुपा कर अपने ग्राहकों को बेच रहे हैं.
 
कहते हैं अधिकारी
इस बाबत सदर अनुमंडल पदाधिकारी कयूम अंसारी ने बताया कि सरकार द्वारा पान मसाला व गुटका को लेकर सरकार द्वारा लागू किये गये कानून का अनुपालन कड़ाई से किया जायेगा. इसके लिए टीम का गठन किया जा रहा है. इसके बाद दोषी लोगों के विरुद्ध कार्रवाई की जायेगी.
 
दुकानदारों में दिख रही नाराजगी
पान मसाला में मैगनेशियम कार्बोनेट जैसे हानिकारक तत्व पाये जाने के बाद सरकार ने तत्काल पान मसाले की बिक्री पर बैन लगा दिया. सरकार के इस निर्णय का दुकानदारों ने स्वागत तो किया है. लेकिन उनमें सरकार द्वारा अचानक लिये गये निर्णय से नाराजगी है.
 
 दुकानदार बताते हैं कि उनलोगों ने कुछ दिन पूर्व ही पान मसाला की खरीद की थी. जिसको बेचना उनकी मजबूरी है. यदि पान मसाला की बिक्री वह नहीं करते हैं तो उनलोगों को भारी आर्थिक क्षति पहुंचेगी. कहा कि सरकार को दुकानदार के स्टॉक को खत्म किये जाने संबंधी भी आदेश जारी किया जाना चाहिए था. 

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews