बिहार:प्रधानाध्यापक का खुलेआम रिश्वत लेता VIDEO VIRAL, बनाने वाले छात्र का किया ये हाल - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Saturday, August 10, 2019

बिहार:प्रधानाध्यापक का खुलेआम रिश्वत लेता VIDEO VIRAL, बनाने वाले छात्र का किया ये हाल

कोशी लाइव:अक्की

औरंगाबाद]। विद्यालय के प्रधानाध्यापक का विद्यार्थियों से रिश्वत लेते वीडियो वायरल हो गया। इसके बाद गुस्‍साए प्रधानाध्यापक और विद्यालय के लिपिक ने वीडियो बनाने वाले छात्र को कमरे में बंद कर बुरी तरह पीट डाला। घटना के खिलाफ छत्र भी सड़क पर आ गए। बिहार के औरंगाबाद की इस घटना की जांच अब जिला प्रशसन के अादेश पर शिक्षा विभाग कर रह है। 
वीडियो में रिश्‍वत लेते दिख रहा प्रधानाध्‍यापक मिली जानकारी के अनुसार औरंगााबद के बारूण प्रखंड में उच्च माध्यमिक विद्यालय सिरिस के प्रधानाध्यापक दिनेश कुमार राय और लिपिक सुधीर कुमार पांडेय उर्फ चिंटू पांडेय का छात्रों से रिश्‍वत लेता एक वीडियो वायरल हो गया है। वीडियो में दोनों को पैसे की मांग करते और लिपिक को पांच सौ का नोट लेते देखा जा रहा है। एक छात्रा जब पांच सौ की जगह दो सौ रुपये लेने की बात कहती है तो प्रधानाध्यापक साफ कहते दिख रहे हैं कि काम कराना है तो पैसा देना होगा। बगैर पैसे का कोई काम नहीं होगा। विद्यालय चलाने में प्रत्येक माह 10 हजार रुपये खर्च होते हैं। 
गुस्‍साए प्रधानाध्‍यापक ने छात्र को पीटा इस वीडियो के वायरल होते ही हड़कम्‍प मच गया। इससे गुस्साए प्रधानाध्यापक और लिपिक ने वीडियो बनाने वाले छात्र अमित कुमार पांडेय को कमरे में बंद कर रॉड और डंडे से बुरी तरह पीट डाला। उसके सिर में काफी चोट लगी है। 

छात्र-छात्राओं का भी फूटा गुस्‍सा, किया सड़क जामइस घटना के बाद विद्यालय के छात्र-छात्राओं का गुस्‍सा फूट पड़ा। उन्‍होंने प्रधानाध्यापक और लिपिक के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए जीटी रोड को जाम कर दिया। उनका आरोप था कि प्रधानाध्यापक और लिपिक हमेशा दबंगई से पेश आते हैं। बाद में अभिभावकों के हस्तक्षेप के बाद विद्यार्थी शांत हुए। 
प्रधानाध्‍यापक पर पहले भी लग चुका आरोप विद्यालय के प्रधानाध्यापक दिनेश कुमार राय पर ऐसे आरोप पहले भी लगते रहे हैं। इससे पहले जब वे उच्च विद्यालय बहुरिया बिगहा में थे, तब भी विद्यार्थियों से पैसा लिए थे। वहां भी हो हंगामा हुआ था। 
घटना को ले प्रधानाध्‍यापक ने दी ये सफाई 
वीडियो वायरल होने के बाद प्रधानाध्यापक ने अपने कार्यालय में प्रमाणपत्र देने की बात तो स्वीकार की, लेकिन इसके बदले रिश्‍वत लेने से साफ इनकार कर दिया। उनका कहना है कि छात्र अमित पर कार्रवाई विद्यालय में अनुशासन तोड़ने के कारण की गई। 
प्रशासन ने दिया मामले की जांच का आदेशबहरहाल, जिलाधिकारी राहुल रंजन महिवाल ने जिला शिक्षा पदाधिकारी मो. अलीम को जांच और कार्रवाई का आदेश दिया है। जिला कार्यक्रम पदाधिकारी जीतेंद्र कुमार सिंह के नेतृत्व में जांच टीम गठित कर दी गई है। उसकी रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई होगी।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews