MADHEPURA:लड़की को अगवा कर घर में छिपाया, नहीं मानी पंचों की बात, इमाम को बुला कराया गया नाबालिगों का निकाह - कोशी लाइव

Breaking

Home Top Ad

Post Top Ad

कार किंग [मधेपुरा]

कार किंग [मधेपुरा]
पंचमुखी चौक,मधेपुरा

Translate

Thursday, August 29, 2019

MADHEPURA:लड़की को अगवा कर घर में छिपाया, नहीं मानी पंचों की बात, इमाम को बुला कराया गया नाबालिगों का निकाह

कोशी लाइव:
लड़की को अगवा कर घर में छिपाया, नहीं मानी पंचों की बात, इमाम को बुला कराया गया नाबालिगों का निकाह
Iqbal journalist
कुमारखंड / मधेपुरा : बाल विवाह के विरुद्ध बने सख्त कानून और जिलाधिकारी व एसपी द्वारा जनप्रतिनिधियों को शपथ दिलाये जाने के बावजूद बिशनपुर बाजार के वार्ड पंच और पूर्व वार्ड सदस्य ने थान गाछी में लगे जन्माष्टमी मेले से नाबालिग किशोरी को भगाकर नाबालिग पुत्र के साथ ब्याह रचाये जाने का मामला प्रकाश में आया है. इस संबंध में थानाध्यक्ष दीपकचंद्र दास ने कहा कि इस संबंध में जानकारी नहीं मिली है, पता चलने पर आवश्यक कार्रवाई की जायेगी.

जानकारी के अनुसार, थान गाछी चौक पर लगे जन्माष्टमी मेले से वार्ड संख्या नौ निवासी पूर्व वार्ड सदस्य मो मोहिउद्दीन एवं वार्ड पंच रवीना खातून के पुत्रों ने वार्ड संख्या दो निवासी किराना दुकानदार की 14 वर्षीया नाबालिग पुत्री को भगाकर सिलाई की अपनी दुकान पर ले आया. इस दौरान मेला देख कर पुत्री के घर वापस नहीं होने पर परिजन तलाशी में जुट गये. सोमवार को परिजनों की नजर वार्ड पंच के दुकान में चौकी के नीचे छिपा कर रखी गयी बालिका पर पड़ गयी. इस दौरान परिजन बालिका को लेकर अपने घर की ओर बाइक से लेकर चले. इसी समय वार्ड पंच का पुत्र मो जाहिद बालिका को बाइक से उताड़ कर फरार हो गया. बालिका को गायब कर छिपा कर रखने की जानकारी मिलते ही पंचायत प्रतिनिधियों ने बैठक कर घटना की छानबीन शुरू की.


पंचायती के दौरान विवाद हो गया. वार्ड सदस्य समेत वार्ड पंच और उनके पुत्र बालिका से निकाह करने की बात कहने लगे. इस दौरान पंचों ने बालिका और बालक के नाबालिग होने के कारण निकाह पर आपत्ति जतायी. इसे लेकर वार्ड सदस्य एवं उनके परिवार के सदस्यों से पंचों ने बाल विवाह नहीं करने और बालक-बालिका के बालिग होने पर दोनों पक्ष के सहमति विवाह कार्य को अंजाम देने को लेकर बांड बनवाया गया.

पूर्व वार्ड सदस्य समेत वार्ड पंच और उनके पुत्र मो जाहिद आलम द्वारा मंगलवार की रात कानून को धता बताते हुए बालिका की शादी 14 वर्षीय गुड्डू से कराने की जानकारी पंचों मिली. इसके बाद लोगों ने वहां पहुंच कर बाल विवाह रोकने का प्रयास किया. लेकिन, पूर्व वार्ड सदस्य के परिवार के लोगों ने पंचायत के लोगों की एक नहीं सुनी. साथ ही जामा मस्जिद टिकुलिया के इमाम हाफिज खुर्शीद आलम द्वारा नाबालिग जोड़े की शादी करा दी. इस दौरान बालिका के पिता एवं भाई समेत अन्य विवाह में शामिल नहीं हुए. नाबालिग बालिका को भगाकर छिपा कर रखने और फिर विवाह रचाने का विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया. इस संबंध में थानाध्यक्ष दीपकचंद्र दास ने कहा कि मामले में जानकारी नहीं मिली है. पता चलने पर आवश्यक कार्रवाई की जायेगी.

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

Total Pageviews

Post Bottom Ad

Pages