सहरसा:शांति व सद्भाव से मनाया गया ईद उल अजहा - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Monday, August 12, 2019

सहरसा:शांति व सद्भाव से मनाया गया ईद उल अजहा

कोशी लाइव:अक्की

शंाति व सदभाव से त्याग व बलिदान का पर्व ईद ऊल जुहा (बकरीद) मनाया गया। सोमवार की सुबह शहर सहित ग्रामीण इलाके के विभिन्न ईदगाहों व मजिस्दों मेंे बड़ी संख्या में लोगों ने नमाज अदा खैरियत की दुआ मंागी।
नमाज के बाद मन्नत को लेकर लोगों ने अपने अपने घरों पर बकरे की कुर्बानी दी। ईदगाह व मजिस्द में रंग बिरंगे कपड़े पहनकर छोटे-छोटे बच्चों ने नमाज पढ़ी। नमाज के बाद लोगों ने एक दूसरे से गले मिलकर पर्व की मुबारकबाद दी। बकरीद के दिन नमाज अदा करने के लिए सुबह से ही लोग ईदगाह व मस्जिद पहुंचने लगे थे।
शहर के सहरसा बस्ती पोखर स्थित ईदगाह, कायस्थ टोला झपड़ाटोला समीप पुरानी ईदगाह, इस्लामियां चौक मजिस्द व मीर टोला मजिस्द में बड़ी संख्या में लोगों नमाज अदा करने पहुुंचे। इस अवसर पर अन्य समुदाय के लोग भी ईदगाह व मस्जिद पहुंचकर शुभकामना दी।
घ्ंाटों मेला जैसा लगा रहा दृश्य : सुबह से ही नमाज अदा करने के लिए ईदगाह व मजिस्द लोगों के पहुंचने से घंटों मेला जैसा दृश्य बना रहा। ईदगाह व मजिस्द के आसपास चाट चाउमीन सहित विभिन्न तरह के खाद्य साम्रगी की स्टॉल व ठेला लगाया गया था। बच्चों ने खिलौने व गुब्बारे की खरीददारी की।
मीर टोला मजिस्द में दो बार पढ़ी गई नमाज : इस बार रिफ्यूजी चौक स्थित ईदगाह में नमाज नहीं पढ़कर लोगों ने मीरटोला बड़ी मस्जिद में ही नमाज अदा की। नमाजियों की बड़ी संख्या देख इस मस्जिद में दो बार नमाज पढ़ी।
अल्लाह ने पैगम्बर हजरत से प्यारी चीज मांगी थी कुर्बानी : बस्ती पोखर ईदगाह में नमाज पढ़ने से पूर्व मौलाना मेराज ने कहा कि अल्लाह ने पैगम्बर हजरत की इम्तिहान लेने के लिए से प्यारी चीज मांगी थी और पैगम्बर ने अपने पुत्र को ही कुर्बान कर दिये।
मुस्तैद रहा पुलिस प्रशासन : शंातिपूर्ण रूप से बकरीद पर्व सम्पन्न हो इसके लिए पुलिस प्रशासन मुस्तैद दिखे। हर चौक चौराहे पर पुलिस बल मौजूद थे। डीएम डा. शैलजा शर्मा व एसपी राकेश कुमार विधि व्यवस्था पर नजर रखे थे। सदर एसडीओ शंभूनाथ झा, एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी सहित थानाध्यक्ष व प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी गस्त लगाते रहे। इधर स्थानीय कमेटी में मो. जफर इमाम, मो. कौसर, सज्जाद, मो. शमसीर, जियाउर रहमान, मंसुर सहित अन्य युवा देखरेख में जुटे रहे।
नवहट्टा से ए.सं. के अनुसार कुर्बानी का पर्व बकरीद शांतिपूर्वक संपन्न हो गया। इस मौके पर नए वस्त्र धारण कर बच्चों, युवकों एवं बुजुर्गों ने बड़ी ईदगाह में जाकर बकरीद की नमाज अदा की। मो. रज्जाक ने बकरीद की नमाज अदा करवाये। मंझौल, रमौती, फेकराही, मोहनपुर, डुमरा, सतौर, डरहार, चन्द्रायण सहित अन्य जगहों में भी शांतिपूर्ण ढंग से बकरीद मनाया गया। बीडीओ विवेक रंजन एवं थानाध्यक्ष सुमन कुमार गस्त लगाते रहे।
पतरघट से ए.सं. के अनुसार प्रखंड क्षेत्र के कई ईदगाह, मकबरा और मस्जिदों में बकरीद के अवसर पर नमाज अदा किया। गोलमा ईदगाह में इमाम रिजबान ने कहा बकरीद के मौके पर सुन्नत को जिन्दा करने के लिए कुर्बानी देते है। बीएनएमयू के कुल सचिव डा. कपिलदेव प्रसाद यादव ने कहा एक दुसरे का सम्मान करते भाईचारा और सामाजिक सोहार्द कायम रहनी चाहिए। मौके पर मुखिया रेखा देवी, पूर्व मुखिया शलेन्द्र यादव, सरपंच शबीर आलम, मो.मुजफ्फर इमाम, आमीर, फारूक, बुलबुल मौजूद थे।
महिषी से सं.सू. के अनुसार प्रखण्ड के भेलाही, बहोरवा, लिलजा, जलई, मनोबर, गेमरहो, राजनपुर, लखनी, महेशपुर, लहुआर, बलुआहा, कुंदह, आरापट्टी, समानी, तेलवा, झाड़ा, घोंघेपुर ईदगाहों में सुबह से नववस्त्रों से सजे लोगों ने बकरीद की नमाज अदा कर एक दूसरे के गले मिलकर शुभकामना दी। पूर्व मंत्री सह राजद विधायक डॉ. अब्दुल गफूर के पैतृक गांव बहोरवा में बकरीद के दिन कुर्बानी के लिए बनाई गई पौराणिक परम्परा का निर्वहन किया गया।
परम्परा के सम्बन्ध में पूर्व मंत्री ने बताया कि हमारे यहां पूर्वजों के समय से ही कुर्बानी के दिन कुर्बानी के बाद तिहाई हिस्सा तबरुख गांव से कुर्बानी देनेवालों द्वारा एक सार्वजनिक स्थान पर जमा कर दिया जाता है, जिसे बाद में एक जगह मिलाकर गांव के प्रत्येक हिन्दू और मुस्लिम घरों में तबरुख ( प्रसाद ) वितरित किया जाता रहा है। मौके पर पंसस कयामूल हक, एनामूल हक, जेठरैत अबुल कलाम, हकीमुद्दीन, गयासुद्दीन, हाजी अब्दुल हकीम, बेचन पासवान, नागो पासवान आदि मौजूद थे।
सलखुआ से ए.सं. के अुनसार प्रखंड क्षेत्र में हर्षोल्लास के साथ ईद-उल-अजहा (बकरीद) मनाई जा रही है। थानाध्यक्ष मो रहमान अंसारी के द्वारा सभी जगह सुरक्षा के मद्देनजर कड़े इंतजाम किए गए थे।
सौरबाजार से सं.सू. के अुनसार सौरबाजार बड़ी मस्जिद, भपटिया, सबैला, बैजनाथपुर, लक्षमिनियां, धनछोहा, तिरी , रामपुर, गम्हरिया समेत सभी ईदगाहों में बकरीद की नमाज अदा की गई।
सत्तरकटैया से ए.सं. के अनुसार प्रखण्ड के पटोरी, सत्तर कटैया, लोकही, सिहौल ईदगाह में नमाज अदा किया गया। पर्व को लेकर बच्चों में खासा उत्साह देखा गया। मौके पर लोगों ने कुर्बानी भी दी। मो. हाजी उस्मान, मो. रहमान, मोलाना साहब,मो. शमीम, मो. मजीद, मो. लुकमान, मो. खुर्शीद, मो. शेखावत, मो. सगीर, म़. गुड्डु, मो. अफरोज, मो. हैदर, मो. सहादत अली ने पर्व के मौके पर बधाई दी।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews