सहरसा:लूट के इरादे से की गयी थी इंजीनियरिंग के छात्र की हत्या - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Tuesday, August 6, 2019

सहरसा:लूट के इरादे से की गयी थी इंजीनियरिंग के छात्र की हत्या

कोशी लाइव:अक्की

जम्हरा भद्दी दुर्गापुर पथ स्थित तिखा मौड़ मंझली पोखर समीप हुई इंजीनियरिंग के दिव्यांग छात्र राहुल कुमार की गोली मारकर हत्या और बाइक लूट के मामले में पतरघट पुलिस ने ढ़ाई माह बाद उदभेदन करने में सफलता हासिल की है। रविवार की शाम ओपी अध्यक्ष जयशंकर प्रसाद के नेतृत्व में सअनि जितेन्द्र कुमार पांडे ने पुलिस बल के साथ गस्ती दौरान पतरघट लक्ष्मीपुर नहर बजरंगबली चौक पूल के समीप एक बाइक पर सवार दुर्गापुर बसनही निवासी रूपेश यादव पिता नन्दलाल यादव एवं गोलमा पूर्वी के सखौड़ी निवासी कौशल यादव पिता बिनोद यादव को एक देसी कट्टा सहित चार जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार किया।
बारमद बाइक इंजीनियरिंग के छात्र की गोली मारकर हत्या कर लुट का निकाला। तथा बाइक लूट की घटना के उपयोग में लाये गये रूपेश का बाइक उनके निशानदेही पर उसके घर दुर्गापुर से बरामद किया। और लहंगा चुनरी कौशल यादव के घर सखौड़ी से बरामद किया हैं। ओपी अध्यक्ष ने बताया कि गिरफ्तार दोनों बदमाश अपने स्वीकारोक्ति बयान में बताया हैं कि 16 मई 2019 को अपने प्रेमिका के लिए लहंगा चुनरी पहुंचाने आये राहुल को उसी राह से गुजरने पर देखा ये दोनों सुनसान जगह पर रात में बाइक हीरो ग्लैमर लगाकर रूका हुआ था। तथा ये दोनों बाइक छिनकर निकलने लगा।
उसी दौरान इंजीनियरिंग के छात्र से खिचातानी होने पर रूपेश ने कौशल को गोली मारने का आदेश दिया और कौशल ने गोलीमार कर बाइक लेकर चलते बना। मृतक इंजीनियरिंग के छात्र के साथ आये मधेपुरा बालम गढ़िया निवासी रोहित कुमार द्वारा तत्काल पुलिस या परिजनों को सूचना दी जाती तो जान बच सकता था।
मृतक के पॉकेट में मिले परिचय पत्र से परिजनों को सूचना दी गई थी। सूचना पर पहुंची मां अररिया नरपतगंज के सिमरबन्नी गरूराहा बस्ती निवासी शिक्षिका मीरा कुमारी के आवेदन पर प्रेमिका रूबी कुमारी उसका पिता भद्दी निवासी सुशील मंडल, भाई कुन्दन कुमार साथ में आये मधेपुरा बालम गढ़िया निवासी रोहित कुमार सहित एक ग्रामीण को नामजद करते सौरबाजार थाना कांड संख्या 204/19 दर्ज कराई थी। प्रेम प्रसंग में हत्या होने की मामले में पुलिस अनुसंधान में जुटी रही। इंजीनियरिंग के दिव्यांग छात्र की हत्या प्रेम प्रसंग या लुटपाट की घटना में होने की कयास लगाया जाता रहा।
तत्कालीन अनुसंधानकर्ता मामले की उदभेदन में हकीकत तक पहुंचने में सफल नहीं हुए। इसी कांड में नामजद आरोपी रोहित कुमार को 23 जुलाई को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दी गई। पुलिस दवाव के सामने प्रेमिका का नामजद भाई कुन्दन कुमार न्यायालय में आत्मसमर्पण कर दिया। लुटी गई बाइक बरामद नहीं होने से पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़ा होते रहा। घटना के बाद मृतक इंजीनियरिंग के छात्र की पॉकेट से मिला मोबाइल फोन से प्रेमिका सहित उनके परिजन संदेह के घेरे में आते रहे। मृतक राहुल का हत्या की रात 11. 47 बजे तक प्रेमिका से बात हुई थी।
उसके बाद उसकी हत्या हो जाती हैं। अगर प्रेमिका को हत्या की सूचना रहने पर क्यों लगातार 5 बजे सुवह तक 70 बार कॉल करती। घटना के बाद नामजद कुन्दन और रोहित को तत्कालीन ओपी अध्यक्ष द्वारा पूछताछ के लिए लाया जाता रहा। नामजद होने के कारण जेल जाना परा।
बाइक बरामद से हुई मामले की खुलासा: मृतक इंजीनियरिंग के छात्र राहुल कुमार की लुटी गई बाइक बरामद और गिरफ्तार दोनों बदमाशों की स्वीकारोक्ति बयान से लगभग ढाई माह से इंजीनियरिंग के छात्र राहुल की हत्या का अनसुलझी मामले का पटाक्षेप हुआ। ओपी अध्यक्ष जयशंकर प्रसाद ने बताया कि राहुल भले ही प्रेमिका को लहंगा और चुनरी पहुंचाने गुप्त तरीका से आया था। लेकिन लहंगा पहुंचने से पहले उनकी बाइक लुटने के दौरान गोली मारकर हत्या कर दी गई। जिसका खुलासा हत्यारे की स्वीकारोक्ति से हुई हैं।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews