पूर्णिया: चलती बस के फ्यूल टैंक में लगी आग, कई लोगों के मौत की आशंका - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Monday, August 5, 2019

पूर्णिया: चलती बस के फ्यूल टैंक में लगी आग, कई लोगों के मौत की आशंका

कोशी लाइव:अक्की

मुजफ्फरपुर से सिलीगुड़ी जा रही बस पूर्णिया बस अड्डे के समीप सोमवार अहले सुबह करीब साढ़े तीन बजे डिवाइडर से टकरा गई। टक्कर होते ही एसी बस में आग लग गई। बस धू-धू कर जलने लगी। आग की लपटें इतनी तेज थी कि 10 से 20 फीट दूर स्थित पेड़ों के पत्ते भी जल गए। बस में सवार कई यात्री जिंदा जल गए। हालांकि, पुलिस प्रशासन फिलहाल एक महिला बबीता देवी की मौत की पुष्टि कर रहा है। इसके अलावा झुलसे हुए 14 यात्रियों का सदर अस्पताल में उपचार किया जा रहा है। इसमें श्वेता बुरी तरह झुलस गयी है। बर्न वार्ड में उसे दाखिल कराया गया है। सिविल सर्जन के मुताबिक उसे रेफर किया जायेगा। श्वेता के दो बच्चे यश और यशिका भी बर्न वार्ड में दाखिल हैं। मृतकों की संख्या ज्यादा होने की आशंका है।
बस में सवार बेगूसराय की रीना देवी ने बताया कि वह लोग बेगूसराय में रात में साढ़े नौ बजे सवार हुए थे। आग लगने के बाद बस में सवार लोग जो जगे हुए थे, उन्होंने तेजी के साथ बस से निकलने की कोशिश की। मगर, गेट का दरवाजा नहीं खुला। ड्राइवर सीट के दरवाजे से कुछ लोग निकले। कुछ लोग खिड़कियों का शीशा तोड़कर बाहर निकले। रीना के अनुसार, बस में करीब 50 लोग सवार थे। कई लोग जिंदा जल गये। उनके रिश्तेदार बबीता देवी की मौत हो गयी।


एक मृत यात्री का जला हुआ कंकाल सीट के पास साफ नजर आ रहा था। चश्मदीदों का कहना है कि मृतकों की संख्या अधिक हो सकती है। फायर ब्रिगेड की गाड़ियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। इस दौरान कुछ जले हुए लोगों के राख धुल गए, ऐसी आशंका है। घटना की जानकारी मिलते ही सुबह करीब पांच बजे पुलिस अधीक्षक विशाल शर्मा मौके पर पहुंचे। उन्होंने कहा कि जानकारी जुटाई जा रही है कि बस में कितने लोग सवार थे। फिलहाल एक की मौत हुई है, जबकि 14 लोग अस्पताल में दाखिल हैं। डीडीसी अमन समीर और एसडीओ विनोद कुमार भी सदर अस्पताल पहुंचे। घटना के करीब पांच घंटे बाद बस को घटनास्थल से हटाया गया। 
बस में 50 यात्री थे तो बाकी कहां गए 
मौत के मुंह से बचे बस में सवार मुसाफिरों के मुताबिक करीब 50 यात्री थे। बस कंपनी के मैनेजर पप्पू के अनुसार बस में 35 लोग थे। सदर अस्पताल में 14 वयस्क व दो बच्चे दाखिल हैं। एक की मौत हुई। एक गेड़ाबाड़ी और दो नवगछिया में उतरे। कुल 20 हुए तो फिर बाकी यात्री कहां गए? यह सवाल लाजिमी है। मौके पर मौजूद स्थानीय लोगों को आशंका है कि बस की सीट पर ही खाक हो गए लोगों के शव फायर ब्रिगेड के द्वारा की गई पानी की बौछार में बह गए। 
घायल यात्रियों की सूची 
-श्याम किशोर सिंह  (बेगूसराय)
-निशु कुमारी (बेगूसराय)
-रीना देवी ( बेगूसराय)
-शुभम कुमार ( बेगूसराय)
-जयराम पंडित (कोलकाता)
-अनीशा चौधरी पूर्णिया
-प्रशांत कुमार (रोहतास)
-मो जियाउद्दीन (बलिया)
-सबाना खातुन  (बलिया)
-सहाबुद्दीन (बलिया)
-फैजान (बलिया)
-प्रेम कुमार साह (बेगूसराय)
-श्वेता सिंह (भागलपुर रेफर) रामनगर पूर्णिया
-संतोष (सिलीगुड़ी)

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews