सहरसा : स्कार्पियो का शीशा तोड़ उचक्कों ने उड़ाये 5 लाख - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Wednesday, August 7, 2019

सहरसा : स्कार्पियो का शीशा तोड़ उचक्कों ने उड़ाये 5 लाख

कोशी लाइव: विकास तांती

सहरसा : बिहार के सहरसा में सदर थाना से चंद कदमों की दूरी पर स्थित रमेश झा महिला कॉलेज के समीप बेखौफ अपराधियों ने दिनदहाड़े बलवाहाट ओपी क्षेत्र के सकरा पहाड़पुर निवासी संवेदक प्रमोद यादव के स्कार्पियो का शीशा तोड़ बैग में रखा 5 लाख उड़ा लिया. जानकारी के अनुसार संवेदक के भाई अमित यादव व साला राकेश यादव शहर के पूरब बाजार स्थित भारतीय स्टेट बैंक के सिटी ब्रांच से 5 लाख पांच हजार रुपये निकाल कर स्कॉर्पियो से घर जा रहा था. 

वाहन पर सवार अमित व राकेश ने बताया कि रास्ते में जाम होने के कारण वे लोग नाश्ता करने के लिए महिला कॉलेज कैंटीन पर रुके. वहां नाश्ता नहीं होने की बात पर वह लोग कुछ मिनट में वापस आये तो देखा कि स्कार्पियो का शीशा टूटा है और बैग गायब है. जिसके बाद अपने स्तर से खोजबीन की तो कुछ हासिल नहीं हुआ. मामले की जानकारी सदर थाना को दी गयी तो सदर थानाध्यक्ष पुनि राजमणि ने सदल बल मौके पर पहुंच मामले की तहकीकात शुरू की. पुलिस ने घटनास्थल के आसपास व बैंक पहुंच सीसीटीवी फुटेज खंगाला.

खाली बैग फेंक दी चुनौती
घटना को अंजाम देने के बाद अपराधी शहर से बाहर निकले. भेलवा रणखेत के समीप चोरी गये बैग से पैसा निकाल कर खाली बैग फेंक दिया. लोगों ने कहा कि शहर में प्रशासन की कोई मौजूदगी नजर नहीं आ रही है. पहले दोपहिया वाहन की डिक्की से पैसा उड़ाते थे, लेकिन पुलिस की सुस्ती के कारण अपराधी अब चारपहिया वाहन को भी निशाना बना रहे हैं. वह भी सदर थाना से चंद कदमों की दूरी पर घटना को अंजाम देकर अपराधियों का शहर से बाहर निकलना पुलिस के कर्तव्य के प्रति लापरवाही दर्शाता है. पीड़ित संवेदक ने बताया कि वह नहरवार के समीप देवराहा कंस्ट्रक्शन द्वारा बनाये जा रहे पुल का कार्य करवा रहे हैं.

आखिर इतनी गश्ती होती है कहां...

सदर थाना से सुबह से लेकर रात तक कई चरणों में गश्ती होती है. लेकिन अपराधियों व अापराधिक घटनाओं पर कोई रोक नहीं लग रहा है. जानकारी के अनुसार सदर थाना को दो भाग में बांट कर सुबह में कोचिंग गश्ती, दिवा गश्ती, संध्या में कोचिंग गश्ती, रात्रि गश्ती, पैंथर का 24 जवान शहर में गश्त लगाते हैं. वहीं बैंक जांच के लिए भी पदाधिकारियों की ड्यूटी लगती है. लेकिन आये दिन बढ़ते अापराधिक घटनाओं के बाद लोगों में चर्चा का विषय बना है कि आखिर इतनी गश्ती होती कहां है. यदि गश्ती में तैनात अधिकारी अपने कर्तव्य का सही तरीके से पालन करें तो अापराधिक घटनाओं में काफी कमी होगी.

कब लगेगा सीसीटीवी
शहर में बड़ी घटना होने व अधिकारियों के समीक्षा बैठक में हरेक बार शहरी क्षेत्र के चौक-चौराहों पर सीसीटीवी लगाने की अलाप सामने आती है. लेकिन वह घटना के शांत होने व बैठक की पंजी तक ही वर्षों से सीमित है. लोगों ने आक्रोश जताते कहा कि आखिर कितनी घटनाओं के बाद प्रशासन कुंभकर्णी नींद से जगेगी. लोगों ने अविलंब चौक-चौराहों पर सीसीटीवी लगाने की मांग की है. मामले पर सदर थानाध्यक्ष राजमणि ने कहा कि घटना की जानकारी मिली है. अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है. बैंक से लेकर अन्य जगहों के संदिग्ध गतिविधि पर नजर रखी जा रही है.

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews