बिहार: कांवड़ियों के भरी पिकअप वैन को तेल टैंकर ने रौंदा, तीन की दर्दनाक मौत, 33 घायल - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Tuesday, August 6, 2019

बिहार: कांवड़ियों के भरी पिकअप वैन को तेल टैंकर ने रौंदा, तीन की दर्दनाक मौत, 33 घायल

कोशी लाइव:अक्की

दरभंगा]। बिहार के दरभंगा में कांवड़ियों से भरी एक पिक-अप वैन को एक तेल टैंकर ने रौंद डाला। दुर्घटना में तीन कांवड़ियों की दर्दनाक मौत हो गई। जबकि, 33 लोग घायल बताए जा रहे हैं। उनमें पांच की स्थिति गंभीर है। सभी घायलों का इलाज दरभंगा मेडिकल कॉजेल व अस्‍पताल (डीएमसीएच) में चल रहा है। कांवड़िये सावन की तीसरी सोमवारी के मौके पर बाबा भोले नाथ की पूजा कर लौट रहे थे। 
तेज रफ्तार तेल टैंकर ने पिकअप वैन को रौंदा घटना के संबंध में बताया जाता है कि दरभंगा सदर थाने के कबीरचक गांव से तीन दर्जन कांवड़िया कुशेश्वरस्थान महादेव मंदिर में जलाभिषेक करने गए थे। लौटने के क्रम में सभी बिरौल-गंडौल मार्ग से सहरसा जिला स्थित कारोबाबा मंदिर के लिए जा रहे थे। बिरौल से कुछ दूर आगे बढ़ने पर सोनपुर के पास जरूरत के सामान खरीदारी करने के लिए सड़क किनारे पिकअप को रोक दिया। दो-चार लोग पिकअप से उतरकर नीचे गए ही थे कि अचानक सहरसा की ओर से तेज रफ्तार से आ रही तेल टैंकर ने पिकअप को रौंद दिया। 
पिकअप वैन के परखचे उड़े, तीन लोगों की मौत 
दुर्घटना में कांवड़ियों से भरी पिकअप वैन सड़क किनारे चार पलटी खाते हुए नीचे चली गई। पिकअप वैन के परखचे उड़ गए। स्थानीय लोगों की मदद से सभी घायलों को निकालकर अस्‍पताल पहुंचाया गया। इलाज के दौरान तीन लोगों की मौत हो गई, जिनकी शिनाख्त कबीरचक गांव निवासी रेनी राम के पुत्र सोनू राम (22) और छोटू राम (16) तथा महेंद्र यादव के पुत्र रमण कुमार (15) के रूप में की गई है। 

मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख का मुआवजा 
घटना की जानकारी मिलते ही दरभंगा के जिलाधिकारी त्याग राजन और एसएसपी बाबू राम सदर अस्पताल पहुंचे और घायलों को देखा। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी मृतकों के परिवारों को 4-4 लाख रुपये की सरकारी मदद दी जा रही है। उन्‍होंने घायलों के मुफ्त इलाज़ की भी घोषणा की।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews