VIDEO":सोशल मीडिया पर वायरल हो रही इस बच्चे की तस्वीर देखकर रो पड़े लोग, जानिए सच - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Friday, July 19, 2019

VIDEO":सोशल मीडिया पर वायरल हो रही इस बच्चे की तस्वीर देखकर रो पड़े लोग, जानिए सच

कोशी लाइव:

पटना बिहार में पिछले कुछ समय से बाढ़ का कहर जारी है और कई जिले अभी भी बाढ़ की चपेट में है। इस बीच, मुज़फ्फरपुर के शिवाईपट्टी थाना के शीतलपट्टी गांव से एक बच्चे की तस्वीर सामने आई है, जो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है। नदी में डूबे इस तीन महीने के बच्चे का नाम अर्जुन राम है जिसकी तस्वीर देखकर लोग अपनी आंखों से आंसू नहीं रोक पा रहे हैं। 
वायरल हो रही इस तस्वीर के बार में अधिकांश लोग यह कह रहे हैं कि बाढ़ के कारण बच्चे की मौत हुई, लेकिन जब पड़ताल की गई तो हकीकत कुछ और निकली। इस पड़ताल में एक दिल दहला देने वाली दुर्घटना सामने निकलकर आयी है। 
मामला मुजफ्फरपुर के शीतलपट्टी गांव का है, यहां पिछले दिनों तीन मासूम बच्चों की बागमती नदी में डूबने से मौत हो गई थी और  उन्हीं में से एक बच्चा अर्जुन राम है जिसकी तस्वीर सोशल मीडिया में वायरल हो रही है।
सिवाईपट्टी थाना क्षेत्र के शीतलपट्टी गांव में नदी में डूबने से एक ही परिवार के तीन बच्चों की मौत हो गई। घटना 16 जुलाई की है। इसमें तीन माह के मासूम अर्जुन की तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी। इसमें नदी में डूबने की वजह से मौत की बात कही गई है। लेकिन, पुलिस व स्थानीय लोगों ने जब मामले की छानबीन की तो सच्चाई कुछ और ही सामने आई।
मृत बच्चे की मां रीना देवी की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं थी। उनका पति शत्रुघ्न राम पंजाब में रहकर मेहनत मजदूरी करता है। पैसे को लेकर दोनों में हमेशा विवाद होता था। घटना से कुछ दिन पहले शत्रुघ्न की बहन से भी रीना देवी का विवाद हुआ था।
ऐसे में माना जा रहा है कि महिला तनाव और पारिवारिक विवाद के कारण अपने चार बच्चों को लेकर नदी में कूद गई। इसमें से एक बच्चे और महिला को गांव वालों ने किसी तरह बचा लिया था। वहीं रीना देवी का कहना है कि वह कपड़ा धोने के लिए नदी गई थी। इसी दौरान पैर फिसलने से अर्जुन नदी में गिर गया। उसे बचाने के लिए अन्य तीन बच्चे और वह खुद नदी में कूदी थी।
महिला के पति के पंजाब से आने से बाद सच्चाई सामने आई। पता लगा कि बाढ़ का कहर बताकर मृत मासूम की जो तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल की जा रही थी, उसकी सच्चाई कुछ और ही है। इन तीन बच्चों की मौत की जिम्मेवार उनकी मां ही है। गांव के जनप्रतिनिधि और बुद्धिजीवी आपस में बैठक कर आगे की कार्रवाई पर विचार कर रहे हैं। स्थानीय पुलिस भी अपने स्तर से छानबीन कर रही है। 

Posted By: Kajal Kumari

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews