सुपौल:यात्रियों के साथ मारपीट और लूटपाट - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Sunday, July 14, 2019

सुपौल:यात्रियों के साथ मारपीट और लूटपाट

कोशी लाइव:
यात्रियों के साथ मारपीट और लूटपाट                            सुपौल। ब्यूरों

दिल्ली से छातापुर चलने वाली बस में सीट बुकिंग के विवाद में यात्रियों के साथ दिल्ली में लूटपाट व मारपीट की घटना को अंजाम दिया गया है,शनिवार की रात उक्त बस के छातापुर बस पड़ाव पहूचनें पर पिड़ीत यात्रियों सहित उसके परिजनों ने बस को घेरकर जमकर हंगामा किया,सुचना के बाद थानाध्यक्ष राघव शरण दलबल के मौके पर पहूंचे और स्थिति को नियंत्रित करने में जूट गये,जहाँ परिजनों ने घटना को लेकर पुलिस को विस्तृत जानकारी दी और बस एवं उसके स्टाफ के विरूद्ध कानुनी कार्रवाई की माँग करने लगे,लेकिन थानाध्यक्ष ने घटनास्थल दिल्ली में होने का हवाला देकर कार्रवाई से साफ इनकार कर दिया,जिसके बाद आक्रोशित परिजनों का देररात तक हाई भोल्टेज ड्रामा चलता रहा,इस बीच त्रिवेणीगंज पुलिस इंस्पेक्टर राजेश कुमार भी स्थल पर पहूंचे और मामले से अवगत हुए,जिसके बाद सुरक्षा के दृष्टिकोण से पुलिस के द्वारा बस एवं उसके स्टाफ को संरक्षण में ले लिया गया,रविवार को पिड़ीत यात्री और उसके परिजन एकबार फिर तब आक्रोशित हो गये जब पड़ाव स्थल पर लगे बस एवं उसके स्टाफ को थानाध्यक्ष की मौजूदगी में जदिया की ओर रवाना कर दिया गया,बस रवानगी के दौरान मौजूद थानाध्यक्ष एवं परिजनों के बीच कहासुनी भी हुई,जिसके बाद पुलिस  इंस्पेक्टर श्री कुमार पुनः स्थल पर पहूंचे,लेकिन मामले को शांत नहीं कराया जा सका,चूँकि परिजन बस और उसके स्टाफ के विरूद्ध कार्रवाई की माँग पर अड़े रहे,बात नहीं बनता देख आक्रोशित लोग थाना पहूंच गये और हंगामा शुरू कर दिया,लेकिन थाना पर मौजूद पुलिस इंस्पेक्टर एवं थानाध्यक्ष द्वारा दिल्ली जाकर वहां की पुलिस को कार्रवाई के लिए आवेदन देने की बात दुहराई गई

क्या है मामला

पिड़ीत यात्री कटहरा निवासी राजेश सिंह,पवन सिंह,रिंकु सिंह,सुरेंद्र सिंह,श्रवण सिंह,अमोद सिंह,चिंकु सिंह,मंगल सिंह, सोनू सिंह,सुरज सिंह आदि ने बताया कि वे लोग मजदूरी के लिए दिल्ली गये थे,जहाँ चार महीने तक मजदूरी करने के बाद वापस घर लौटने के लिए गणपति ट्रेवल्स में 17 लोगों का सीट बुक कराया था और प्रति सीट एक हजार रूपये की दर से 17 हजार रूपये का भूगतान भी कर दिया,12 जूलाई को सभी यात्री जब बस के लिए ब्रिटानियां मोड़ के पास पहूंचे तो यूपी 63 ए टी 3162 नमस्ते बिहार नामक बस में बैठा दिया गया जिसमें 17 की जगह मात्र 13 सीट ही दी गई,जिसका विरोध करने पर बस ड्राईवर और स्टाफ ने गुस्से में रात्रि करीब नौ बजे सुनसान जगह पर बस रोककर 40 से 50 लोगों को वहां बुला लिया और,उनलोगों के साथ राॅड से मारपीट की गई और साथ में रखे मजदूरी के पैसे लूट लिये गये,मारपीट में जख्मी राजेश सिंह,पवन सिंह एवं रिंकु सिंह को घटना स्थल पर छोड़कर चालक बस लेकर भाग निकला, बताया कि जख्मी हालत में वे लोग दिल्ली में ही एक नीजि अस्पताल में इलाज करवाकर रविवार को किसी तरह छातापुर पहूंचे,लेकिन लिखित शिकायत करने के बावजूद छातापुर पुलिस ने कार्रवाई नहीं की और न ही लूटे गये मजदूरी के पैसे वापस ही दिला सकी,बताया कि टूरिस्ट बस होने के संदेह में डीटीओ सुपौल को भी दूरभाष पर जानकारी दी गई,लेकिन उनके द्वारा भी किसी भी प्रकार की कार्रवाई नहीं की गई,इतनी बड़ी घटना का शिकार होने के बावजूद उनलोगों को न्याय नहीं मिलने का दूख है ।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews