अररिया: शहर की ओर बढ़ा बाढ़ का पानी, विकराल होती जा रही स्थिति - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Saturday, July 13, 2019

अररिया: शहर की ओर बढ़ा बाढ़ का पानी, विकराल होती जा रही स्थिति

कोशी लाइव:अक्की

अररिया में बाढ़ विकराल रूप धारण करता जा रहा है। शनिवार को और अधिक गांवों में बाढ़ का पानी फैल गया है। शनिवार सुबह से ही बाढ़ का पानी अररिया शहर की ओर बढ़ने लगा है। बाढ़ की विभिषिका देखते हुए सभी अधिकारियों और कर्मियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई है। अधिकारियों को एक-एक प्रखंड नियुक्त किया गया जहां वे राहत बचाव कार्य देखेंगे और वहीं रहेंगे।
उधर शहर के आसपास के खरया बस्ती वार्ड 11, बाँसबाड़ी, अररिया रामपुर रोड पर पानी भर गया है। आवागम बाधित है। शुक्रवार रात बारिश नहीं हुई थी। नेपाल के विराटनगर में बारिश में कमी आयी लेकिन शनिवार सुबह से फिर बारिश शुरू है। जोगबनी स्टेशन पर ट्रैक पर पानी आने से ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया है। 

स्टेशन पर प्रभावित लोगों ने शरण ले रखा है। वहीं पलासी और कुर्साकांटा के कई स्कूलों में बाढ़ पीड़ितों ने शरण लिया है। पलासी प्रखंड मुख्यालय स्थिति कार्यलयों में पानी घुस गया है। अधिकारियों के आवास में भी पानी घुस गया है। बाढ़ में शनिवार को फारबिसगंज में डूबकर आमरहा पंचायत में अशोक मंडल की मौत हो गई।
कहीं नहीं दिख रही प्रशासन की तैयारी
बाढ़ से एक ओर लोग तबाह हैं लेकिन प्रशासन की तैयारी कहीं नहीं दिख रही है। कहीं भी खाने-पीने के इंतजाम नहीं हैं। कैंप नहीं हैं। नाव की संख्या नहीं की बराबर हैं। ज्यादातर नाव जर्जर है। लोग खुद जहां तहां ऊंचे स्थानों पर जा रहे हैं। एनडीआरएफ़ की दो टीम पहुंची जरूर है लेकिन वह फारबिसगंज तक सीमित है। जबकि बाढ़ से छह प्रखंड प्रभावित हैं। डीएम बैधनाथ यादव का तर्क है कि बाढ़ तय समय से पहले आने के कारण परेशानी हुई है। जबकि मुख्यालय का साफ निर्देश है कि जून से अक्टूबर तक बाढ़ से निपटने की पूरी तैयारी होनी चाहिए।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews