सहरसा:महिषी को बाढ़ग्रस्त घोषित करने की मांग - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Thursday, July 18, 2019

सहरसा:महिषी को बाढ़ग्रस्त घोषित करने की मांग

कोशी लाइव:अक्की

गुरुवार को प्रखण्ड मुख्यालय में कोसी नदी के जलस्तर में वृद्धि के कारण आये बाढ़ की स्थिति को देखते प्रखण्ड को बाढ़ प्रभावित क्षेत्र घोषित करने की मांग को लेकर पंचायत प्रतिनिधियों सहित आमलोगों ने एकदिवसीय धरना देते प्रदर्शन किया। प्रखंड कार्यालय पास धरना में लोगों ने बाढ़ प्रभावित रहने के बाबजूद प्रखण्ड क्षेत्र को बाढ़ प्रभावित घोषित नहीं किये जाने की कड़े शब्दों में आलोचना किया।
पिछले दिनों कोसी बराज से अधिकतम पानी छोड़े जाने से उत्पन्न बाढ़ आपदा से अभिशप्त व पीड़ित पंचायतवासियों ने जिला प्रशासन की दोहरी नीति के खिलाफ प्रखंड मुख्यालय में आक्रोश जताया। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि जिला प्रशासन के द्वारा मात्र नवहट्टा प्रखंड के सात पंचायतों को बाढ़ ग्रस्त होने का प्रतिवेदन भेजा जाना क्षेत्रवासियों के साथ अन्याय है।
बाढ़ से तटबंध के अंदर अवस्थित जिले के नवहट्टा, महिषी, सिमरी बख्तियारपुर एवं सलखुआ प्रखंड के लोग समान रूप से प्रभावित होते हैं। प्रशासन के द्वारा सिर्फ नवहट्टा को बाढ़ आपदा क्षेत्र की श्रेणी में रख महिषी, सिमरी बख्तियारपुर तथा सलखुआ के लोगों को सरकार द्वारा देय राहत से वंचित किये जाने की साजिश रची गई है। ज्ञात हो कि बुधवार को प्रखण्ड मुखिया संघ व पंचायत समिति सदस्यों ने रोड नम्बर 17 पर धरना का निर्णय लिया था।
लेकिन आपदा को ध्यान में रख प्रखंड कार्यालय पर प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शनकारी महिलाओं ने जिला मुख्यालय में शौचालय निर्माण संबंधी कार्यशाला में जा रहे बीडीओ को रोक दिया। प्रखण्ड कार्यालय के सामने भी जमकर नारेबाजी किया। महिलाओं ने एकस्वर में कहा कि जबतक प्रखण्ड को बाढ़ग्रस्त क्षेत्र घोषित नहीं किया जाएगा, आंदोलन जारी रहेगा। प्रदर्शनकारी महिलाओं ने कहा कि हम सबों का प्रखण्ड से लेकर जिलास्तर तक के अधिकारियों से आग्रह है कि हमारे गांवों में चले और उसके बाद रिपोर्ट करें।
धरना में प्रमुख बैजनाथ कुमार विमल, मुखिया शिवेन्द्र कुमार जिशु, शान्ति लक्ष्मी चौधरी, नरेश यादव, चिरंजीव चौधरी, घुरन पासवान, सैफुल्लाह, बलराम पासवान, राजेन्द्र शर्मा, चन्द्र प्रभा देवी एवं प्रतिमा देवी, मोहम्मद उसमान, बिपिन पासवान,गणेश शर्मा,अक्षय चौधरी, मो. कयामूल हक, मो. इरफान, मनोज पासवान, अखलाख, उर्मिला देवी सहित सैकड़ों महिला पुरुष मौजूद थे।
दिनभर कड़ी तपिस भरी धूप के बाबजूद भी लोग धरना प्रदर्शन पर डटे रहे। ज्ञात हो कि विगत शनिवार एवं रविवार को कोसी और बलान नदी में पानी में अधिक उफान आने के कारण प्रखण्ड के 11 पंचायत पूर्णत: एवं 4 पंचायत अंशत: बाढ़ के पानी के चपेट में आ गया। लोगों को यातायात की विकट समस्या उत्पन्न हो गयी है। गांव में पेयजल का भी दिक्कत हो गया है। धरना के बाद धरनार्थियों ने प्रखण्ड को बाढ़ प्रभावित प्रखण्ड घोषित कर सरकार प्रदत्त सम्पूर्ण लाभ दिलाने का मांग पत्र सीओ अरविंद कुमार सिंह को सौंपा। सीओ ने मांग पत्र उच्चाधिकारियों तक पहुंचाने का आश्वासन शिष्टमंडल को दिया।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews