बिहार में बाढ़: सहरसा-पूर्णिया व कटिहार में भी फैला बाढ़ का पानी - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Tuesday, July 16, 2019

बिहार में बाढ़: सहरसा-पूर्णिया व कटिहार में भी फैला बाढ़ का पानी

कोशी लाइव:अक्की

बाढ़ से तबाही कम होने का नाम नहीं ले रही है। कमला बलान का कहर सोमवार को भी बरकरार रहा। कोसी का डिस्चार्ज बीरपुर बराज के पास घटने के बावजूद इस नदी का जलस्तर बसुआ और बलतारा में बढ़ा है। महानंदा भी पूर्णिया और कटिहार में ऊपर चढ़ी है। वहां यह नदी लाल निशान से डेढ़ मीटर तक ऊपर बह रही है। लिहाजा राज्य के तीन नए जिले सहरसा, पूर्णिया और कटिहार में भी बाढ़ का पानी फैल गया है। 
अब राज्य के बाढ़ प्रभावित जिलों की संख्या नौ से बढ़कर 12 हो गई है। सीतामढ़ी जिला मुख्यालय से पांच प्रखंडों का संपर्क टूट गया है, लेकिन सीतामढ़ी और रक्सौल के बीच सोमवार को ट्रेन सेवा फिर से शुरू हो गई। उधर, गंडक बराज का डिस्चार्ज घटने से गोपालगंज जिले में राहत है। 
सीएम ने पूर्णिया में की समीक्षा बैठक 
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दूसरे दिन सोमवार को भी हवाई सर्वेक्षण कर अररिया, किशनगंज व कटिहार के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का जायजा लिया। पूर्णिया के चूनापुर हवाई अड्डे पर पूर्णिया के आयुक्त तथा पूर्णिया, अररिया, कटिहार एवं किशनगंज के डीएम के साथ बैठक कर बाढ़, बचाव और राहत कार्य की स्थिति की विस्तृत समीक्षा की। वह उत्तर बिहार में बाढ़ और राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे राहत सहित अन्य प्रयासों पर मंगलवार को विधानसभा में जवाब देंगे। 
कमला बलान जयनगर में पांच सेमी बढ़ी 
कमला बलान का जलस्तर सोमवार को मधुबनी के जयनगर में पांच सेमी बढ़ा। शनिवार की रात की तुलना करें तो इसका जलस्तर लगभग आधा मीटर नीचे उतरा है। पानी की धारा अभी काफी तेज है। ऐसे में टूटे तटबंधों की मरम्मत कठिन है। जल संसाधन विभाग के इंजीनियर टूट की चौड़ाई बढ़ने से रोकने में लगे हैं। उधर कोसी नदी बसुआ में लाल निशान से एक मीटर 26 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है। वहां अगले 24 घंटे में इसके जलस्तर में कमी होने की उम्मीद है, लेकिन बलतारा में इसका जलस्तर 50 सेंटीमीटर तक बढ़ने की आशंका है। अब भी नदी वहां लाल निशान से एक मीटर 30 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है। इससे कोसी क्षेत्र में बाढ़ की स्थिति और गंभीर हो सकती है। 
आधा दर्जन स्थानों पर 70 से 101 मिमी बारिश 
नेपाल में 24 घंटे के दौरान वर्षा थोड़ी कम हुई, लेकिन बिहार स्थित जलग्रहण क्षेत्र में आधे दर्जन स्थानों पर 70 से 101 मिलीमीटर बारिश हुई। लिहाजा नदियों के जलस्तर में कमी नहीं हो रही है। कोसी, कमला बलान, अधवारा, महानंदा, लालबकेया और बागमती नदियां अब भी लाल निशान से ऊपर बह रही हैं। बागमती नदी तीन स्थानों पर लाल निशान से नीचे उतरी है। हालांकि यह समस्तीपुर के हायाघाट में 90 सेंटीमीटर ऊपर है। बेनीबाग और ढेंग में भी इसका जलस्तर लाल निशान के ऊपर है। 
बाढ़ पर विधानमंडल में सीएम आज देंगे जवाब
उत्तर बिहार में बाढ़ और राज्य सरकार की ओर से किए जा रहे राहत-बचाव सहित अन्य प्रयासों पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मंगलवार को विधानमंडल में जवाब देंगे। वह पहली पाली में प्रश्नकाल के बाद लगभग 12 बजे सरकार की ओर से उत्तर देंगे।
बाढ़ से अब तक
- 24 लोगों की हुई अब तक मौत
- 12 जिलों में है बाढ़
- 77 प्रखंड हैं प्रभावित
- 2.56 लाख लोग हैं चपेट में
- 196 राहत शिविर चल रहे
- 1.06 लाख लोग हैं शिविरों में 

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews