बारिश से आफत : यूपी में 11 की मौत, उत्तराखंड में अलर्ट जारी, बिहार में नदियां उफनाईं - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Saturday, July 13, 2019

बारिश से आफत : यूपी में 11 की मौत, उत्तराखंड में अलर्ट जारी, बिहार में नदियां उफनाईं

कोशी लाइव:अक्की

उत्तरप्रदेश में लगातार बारिश से हुए हादसों में 11 लोगों की मौत हो गई, जबकि दो दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। श्रावस्ती में राप्ती नदी खतरे के निशान के ऊपर पहुंच गई है, बाराबंकी में घाघरा खतरे के निशान के करीब है। भिनगा-बहराइच फोर लेन सड़क एक तरफ धंस गई है।
अवध क्षेत्र में हादसों में आठ लोगों की जान चली गई। इसमें रायबरेली के चार लोगों की मौत हो गई, तीन लोग घायल हो गए। गोण्डा के खोड़ारे में बालिका की मौत हो गई। तरबगंज में तीन लोग घायल हो गए। सीतापुर के महमूदाबाद में हसीना (40) और लहरपुर के लुधौरा मजरा नौवापुर में अनारकली (45) की दीवार गिरने से मौत हो गई।  अम्बेडकरनगर में मकान गिरने से महिला की जान चली गई। बाराबंकी दीवार और छप्पर ढहने से चार लोग घायल हो गए।  अयोध्या में चार दिनों एक दर्जन से अधिक मकान ढह गए।
इसी क्रम में पूर्वांचल के तीन जिलों में भी दीवार और कच्चा मकान गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई है।  गुरुवार को आजमगढ़ के मुबारकपुर थाना क्षेत्र के कुकुरसंडा गांव में सुबह तेज बारिश से कच्ची दीवार गिरने से तकदीर अली (65) की मौत हो गई, जबकि उसकी 30  वर्षीय बेटी घायल हो गई। चंदौली के चकिया कोतवाली क्षेत्र के शाहपुर गांव में सुबह कच्चा मकान ढह गया। मकान के मलबे में दबने से 22 वर्षीया विवाहिता सविता की मौत हो गई। जौनपुर के खेतासराय के मनेछा में गिरी दीवार के मलबे में दबने से अमरावती (55) पत्नी स्व.बुद्धू बिन्द  की मौत हो गई। 
प्रयागराज में वज्रपात, 35 गायें मरीं
सहसों (प्रयागराज)। बहादुरपुर विकास खंड के कांदी गांव में गुरुवार सुबह वज्रपात से गोशाला में 35 मवेशियों की मौत हो गई। सूचना पर सुबह डीएम, सीडीओ, मुख्य पशुचिकित्साधिकारी समेत तमाम अफसर पहुंचे। गोशाला में काफी पानी भरा हुआ था। जीवित गायों और गोवंशों को दूसरे स्थान पर रखवाया गया।
यूपी पर कई दिनों से मेहरबान मानसून अब लेगा विराम
उत्तर प्रदेश पर कई दिनों से मेहरबान मानसून अब विराम लेगा। मौसम निदेशक जे.पी.गुप्ता के अनुसार उत्तरी पूर्वी इलाकों को छोड़कर प्रदेश के बाकी हिस्सों में अगले दो दिनों में मौसम साफ हो जाएगा। लखनऊ और आसपास के इलाकों में तो शुक्रवार से ही बादल छंटने लगेंगे। फिलहाल अगले 24 घंटों के दरम्यान प्रदेश के पूर्वी व पश्चिमी अंचलों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है।
उत्तराखंड में आज भी भारी बारिश का अलर्ट
देहरादून। उत्तराखंड मौसम विज्ञान केंद्र ने शुक्रवार को देहरादून, नैनीताल, चंपावत, ऊधमसिंहनगर, पिथौरागढ़, चमोली, टिहरी, पौड़ी और हरिद्वार जनपदों में भारी से बहुत भारी बारिश होने का अलर्ट जारी किया है। 
भारी बारिश से कुमाऊं की 18 सड़कें बंद
हल्द्वानी। पिछले 24 घंटे में हुई बारिश ने सीमांत जनपद पिथौरागढ़ के साथ बागेश्वर जिले में भी भारी नुकसान पहुंचाया है। कुमाऊं मंडल में दो राष्ट्रीय राजमार्गों सहित 18 सड़कें बाधित हो गई। इन सड़कों पर सैकड़ों वाहन फंसे हैं।
पिथौरागढ़ में बुधवार रात तेज बारिश से ग्राम दुतिबगड़ के तोक गानागांव में गोविंद सिंह पुत्र धन सिंह का आवासीय मकान ध्वस्त हो गया। घटना के समय घर में सो रहे गोविंद सिंह, पत्नी कमला देवी, उनका 8 साल का पुत्र प्रेम सिंह घायल हो गए। काशीपुर में तेज हवा के चलते मोटेश्वर मंदिर के पास 33 हजार केवी की लाइन टूट गई। नदियों के उफान से प्रशासन ने अलर्ट जारी किया है। 
बिहार में नदियां उफनाईं, कई मार्ग क्षतिग्रस्त
मुजफ्फरपुर। पिछले पांच दिनों से नेपाल और उत्तर बिहार के विभिन्न जिलों में रुक-रुक कर हो रही बारिश से अधिकांश नदियां उफनाने लगी हैं। इससे बाढ़ का संकट गहराने लगा है। गुरुवार को अचानक कई नदियों के जलस्तर में बढ़ोत्तरी दर्ज की गई। मुजफ्फरपुर की सभी प्रमुख नदियों के जलस्तर में तेजी से वृद्धि हो रही है। इससे मुजफ्फरपुर के कटरा और औराई प्रखंड में संकट गहरा गया है।  इन दोनों प्रखंडों में बागमती पर बना एक पीपा पुल, दो चचरी व एक डायवर्सन बह गया है। इससे दो दर्जनों पंचायतों का मुख्यालय से संपर्क टूट गया है। 

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews