MADHEPURA:मुख्य पार्षद की गिरी कुर्सी, उपमुख्य पार्षद की कुर्सी बरकरार - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Wednesday, June 26, 2019

MADHEPURA:मुख्य पार्षद की गिरी कुर्सी, उपमुख्य पार्षद की कुर्सी बरकरार

कोशी लाइव:PRINCE KR.RAJ


 नगर परिषद के मुख्य पार्षद और उपमुख्य पार्षद के विरुद्ध लाये गये अविश्वास प्रस्ताव पर हुई वोटिंग में मुख्य पार्षद सुधा देवी को अपनी कुर्सी गंवानी पड़ी। जबकि उप मुख्य पार्षद अशोक कुमार यदुवंशी अपनी कुर्सी बचाने में कामयाब रहे।
अविश्वास प्रस्ताव पर बहस को लेकर मंगलवार को विशेष बैठक नगर परिषद के सभागार में हुई। बहस के बाद वोटिंग की प्रक्रिया अपनायी गयी। वोटिंग में मुख्य पार्षद सुधा देवी पर लगाये गये अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 14 वोट पड़े, जबकि दो मत रद्द घोषित किये गये। अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 14 वोट मिलने के बाद मुख्य पार्षद अपनी कुर्सी नहीं बचा पायी। मुख्य पार्षद का पद तत्काल रिक्त घोषित किया गया। जबकि उपमुख्य पार्षद अशोक कुमार यदुवंशी पर लगाये गये अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 13 वोट पड़ने से उनकी कुर्सी सलामत रह गयी। दो वोट अविश्वास प्रस्ताव के विरोध में डाले गये। जबकि एक वोट रद्द घोषित किये गये।
नगर परिषद के मुख्य पार्षद और उप मुख्य पार्षद के विरुद्ध लाये गये अविश्वास प्रस्ताव को लेकर मंगलवार को विशेष बैठक में शामिल होने के लिए एक पक्ष के लगभग 15 पार्षद करीब सवा 11 बजे नगर परिषद पहुंच गये। जबकि दूसरे पक्ष से मुख्य पार्षद सहित10 पार्षद बैठक में शामिल ही नहीं हुए। बैठक के लिए सभी पार्षदों की सहमति पर वार्ड 10 की पार्षद चंद्रकला देवी को सदन का अध्यक्ष चुना गया। अध्यक्ष चुने जाने के बाद सबसे पहले मुख्य पार्षद पर लगाये गये अविश्वास प्रस्ताव पर बहस हुई। बहस का जवाब उपमुख्य पार्षद अशोक कुमार ने दिया। बहस समाप्त होने के बाद वोटिंग की प्रक्रिया शुरू हुई। सात घंटे के बाद देर शाम सात बजे विधिवत रिजल्ट की जानकारी दी गयी।
विधि व्यवस्था बनाये रखने के लिए एसडीएम वृंदालाल और एसडीपीओ वशी अहमद स्वयं नगर परिषद में मौजूद रहे। वोटिंग के दौरान नगर परिषद के सभागार में कार्यपालक पदाधिकारी प्रवीण कुमार, पार्षद डॉ. अभिलाषा कुमारी, विनीता भारती, अहिल्या देवी, मनीष कुमार, निर्मला देवी, कंचन कुमारी, रूबी कुमारी, ललिता देवी, कविता देवी, ज्योति कुमारी सहित अन्य पार्षद मौजूद रहे।
चुनावी प्रक्रिया में विलंब से हुई परेशानी: मुख्य पार्षद सुधा देवी और उपमुख्य पार्षद अशोक कुमार यदुवंशी पर लाये गये अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के बाद वोटिंग की प्रक्रिया शुरू हुई। सदन की अध्यक्षता कर रही अध्यक्ष का मत निर्णायक होने की जानकारी कार्यपालक पदाधिकारी सहित अन्य कर्मियों को नहीं होने के कारण मामला कुछ देर के लिए अटक गया। ईओ प्रवीण कुमार ने मामले की जानकारी नगर एवं आवास विभाग और राज्य निर्वाचन आयोग से ली। जानकारी मिलने के बाद अध्यक्षता कर रही अध्यक्ष चंद्रकला देवी को भी अपना वोट डालने की अनुमति दी गयी। वोट डालने के बाद मुख्य पार्षद की कुर्सी गिर गयी और उपमुख्य पार्षद की कुर्सी बच गयी

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

Total Pageviews