मधेपुरा:पूर्व मुखिया हत्याकांड को लेकर हटाए गए थानाध्यक्ष - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Wednesday, June 12, 2019

मधेपुरा:पूर्व मुखिया हत्याकांड को लेकर हटाए गए थानाध्यक्ष

कोशी लाइव:अक्की

मधेपुरा। नरदह पंचायत के मुखिया पति सह पूर्व मुखिया अनिल हत्याकांड मामले में थानाध्यक्ष राजेश चौधरी को निलंबित कर दिया गया है। उनके स्थान पर सुबोध यादव को नया थानाध्यक्ष बनाया गया है। ग्रामीणों का कहना है कि हत्या के बाद डीएसपी के खिलाफ प्रदर्शन किया गया था। डीएसपी क्षेत्र में स्थानीय राजनीति में भी सक्रिय रहते हैं। लेकिन उनपर कार्रवाई नहीं की गई। पुलिस अधीक्षक संजय कुमार की मानें तो थाना क्षेत्र में बढ़ रही आपराधिक घटना पर रोक लगाने में विफल रहने से थानाध्यक्ष पर कार्रवाई की गई है। जबकि आमलोगों की मानें तो फिलहाल पुरैनी थाना क्षेत्र ही नहीं बल्कि अनुमंडल क्षेत्र में अपराधियों का तांडव सर चढ़कर बोल रहा है। रोजाना चोरी, लूट,बलात्कार,अपहरण,हत्या की कोई न कोई घटना घटित हो रही है। एसडीपीओ सीपी यादव के कार्यकाल में जहां बेखौफ एवं बेलगाम हो चुके अपराधी चोरी,लूट,अपहरण,बलात्कार की घटना को लगातार अंजाम देने से बाज नहीं आ रहे हैं। वहीं इनके कार्यकाल में अनुमंडल क्षेत्र में अबतक अपराधियों ने डेढ़ दर्जन से अधिक हत्याकांड की घटना को अंजाम देकर खुली चुनौती देते हुए पुलिस के आलाधिकारियों की नींद हराम कर दी है। पूर्व मुखिया की हत्या के पश्चात आक्रोशित ग्रामीणों एवं मृतक के परिजनों ने सड़क जाम के दौरान एसडीपीओ के तबादले की मांग को लेकर जमकर नारेबाजी कर जोरदार प्रदर्शन किया था। बावजूद एसपी ने एसडीपीओ के नाकामी एवं विफलता को दबाने के उद्देश्य से उसके तबादले की अनुशंसा करने की बजाय पुरैनी थानाध्यक्ष पर निलंबन की गाज गिरा दी।


परिजन पर टूटा दुखों का पहाड़।

मधेपुरा। नरदह पंचायत के मुखिया पति सह पूर्व मुखिया अनिल कुमार यादव की अपराधियों द्वारा किए गए हत्या के उपरांत जहां दुहबी-सुहबी गांव में मातमी सन्नाटा छा गया है। वहीं संपूर्ण पंचायत क्षेत्रवासी मर्माहत एवं खौफजदा हैं। जबकि नृशंस हत्याकांड के पश्चात मृतक के परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। स्थानीय सहित आसपास के विभिन्न प्रखंड क्षेत्र के लोगों का मुखिया के घर पहुंच शोक संवेदना व्यक्त करने का लगातार सिलसिला जारी है। मालूम हो कि सोमवार की देर रात्रि में पंचायत अन्तर्गत योगीराज गांव से शादी समारोह में भाग लेकर अपने घर दुहबी-सुहबी लौट रहे पूर्व मुखिया सह मुखिया पति को बेखौफ अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर दी। हत्या का कारण राजनीतिक रंजिश बताया जा रहा है। शादी समारोह से लगभग साढ़े 11 बजे रात्रि में अपने भतीजे के साथ बाइक से घर लौट रहे थे। इसी क्रम में योगीराज एवं नयाटोला के बीच बाइक सवार अपराधियों ने पीछा कर चलती बाइक से ही पीछे बैठे पूर्व मुखिया पर एक के बाद एक करके तीन गोली चला दी। पूर्व मुखिया का बाइक चला रहे उसके भतीजे ने शोर मचाते हुए बाइक को तेज रफ्तार से किसी तरह दुहबी-सुहबी तक ले जाने में सफल रहे।अपराधियों द्वारा चलाए गए एक गोली पूर्व मुखिया की जांघ में लगी थी। वहीं दूसरी गोली पीठ में लगी। जबकि पीठ में लगी तीसरी गोली पेट से बाहर निकल कर बाइक चालक के कमर में घुस गई। घटित घटना के बाद से मृतक की पत्नी सह मुखिया नीलम देवी बदहवास होकर बेसुध पड़ी है। वहीं एकलौते पुत्र सौरभ कुमार, पुत्री अनुपम व रानी कुमारी सहित अन्य परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। परिजनों के अनुसार जटिल से जटिल समस्याओं पर हर वक्त बोलने वाले पूर्व मुखिया परिवार के लिए हीरा समझा जाता था। मृतक की पत्नी सह मुखिया नीलम देवी ने कहा कि लगातार बढ़ती लोकप्रियता व बेबाकी से घबराकर राजनीतिक रंजिश के तहत प्रतिद्वंद्वियों ने साजिश कर उनकी जघन्य हत्या करा दी गई।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews