सहरसा:चमकी बुखार से मरने वाले को बच्चों की आत्मा की शांति के लिए कैंडिल मार्च - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Tuesday, June 18, 2019

सहरसा:चमकी बुखार से मरने वाले को बच्चों की आत्मा की शांति के लिए कैंडिल मार्च

कोशी लाइव:अक्की
सहरसा:
जन अधिकार छात्र परिषद के छात्र नेता पुनपुन यादव के नेतृत्व में सिमरी बख़्तियारपुर स्टेशन से रानीबाग तक कैंडिल मार्च निकाल कर बच्चों की आत्मा की शांति के लिए श्रद्धांजलि दिया गया।
छात्र नेता पुनपुन यादव ने कहा कि पांच साल पहले भी यह घोषणा हुई थी कि मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार की समस्याओं से निपटने के लिए एक रिसर्च सेंटर की स्थापना की जायेगी, लेकिन आज तक संभव नहीं हो पाया है। अब 125 बच्चों की मौत के बाद फिर से कह रहे हैं कि अगले साल तक रिसर्च सेंटर बन जायेगा।
लेकिन बिहार में बिना रिसर्च खोले ही करोड़ रुपिया का घोटाला हो जाता है और इस बीमारी के बारे में अभी तक वास्तविक कारणों का पता नहीं चल पाता है। कोई कहता है कि यह बीमारी लीची खाने से फैल रही है तो कोई कहता है कुपोषण के कारण। सरकार वादा करके भूल भी जाती है। जब फिर से सैकड़ो बच्चों की मौत होती है तो वही वादा एकबार फिर दोहरा देती है। पुनपुन यादव ने कहा कि चमकी बुखार से निपटने के लिए सरकार अभी तक कोई ठोस कदम तो नहीं उठायी है, लेकिन 125 बच्चों की मौ’त के बाद भी मौतों का सिलसिला जारी है। विपक्ष और जनता के द्वारा लगातार वि’रोध किये जाने के बाद कुछ प्रयास किया गया है। बिहार सरकार ने घोषणा की है कि मृत’क के परिवार को 4 लाख का मुआवजा, मुफ्त इलाज और आने-जाने का किराया दिया जायेगा।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews