सहरसा:विद्यालय पर बढ़ा खतरा - कोशी लाइव

BREAKING

विज्ञापन

विज्ञापन

Monday, June 24, 2019

सहरसा:विद्यालय पर बढ़ा खतरा

कोशी लाइव: विकास तांती

कोसी नदी के पानी में उतार चढ़ाव शुरू होने से एक बार फिर कुंदह गांव स्थित मध्य विद्यालय पर संकट के बादल मंडराने की आशंका जतायी जा रही है। ज्ञात हो कि कुछ माह पूर्व भी गांव के उत्तरी भाग तथा कुंदह स्कूल के निकट कटनिया लगा था, जिसमें गांव की काफी जमीन और स्कूल के पूर्वी भाग के कमरे का एक पूर्वी दीवार कटकर कोसी में बह गया था।
इस वर्ष एक बार फिर कोसी नदी के पानी में उतार चढ़ाव शुरू हो गया है। नदी में पानी कमाने बढ़ने से लोगों में स्कूल पर खतरा बढ़ने की आशंका उत्पन्न हो जाता है। करीब दो दिन पूर्व गांव के उत्तरी भाग में कुंदह के जमीन में कोसी का कटाव लग गया था। लोगों की सूचना पर सीओ अरविंद सिंह और बीडीओ परशुराम सिंह ने कुंदह जाकर स्थिति का जायजा लेकर उच्च अधिकारी को इसकी सूचना दिए।
बाद में विभागीय एसडीओ और जेई ने भी कटाव स्थल का मुआयना किया। लोगों का आरोप है कि विभाग द्वारा बाढ़ से पूर्व इस गांव को सुरक्षित करने के लिए बाढ़ सुरक्षात्मक कार्य नहीं कराया गया, जिस कारण इस बार फिर कटाव होने की आशंका है। कोसी पीड़ित संघर्ष मोर्चा के संयोजक सचिव अनवर आलम, पंसस नूरजहां, हीरालाल राम, दीपक दास, उपमुखिया महेश्वर राय, उपसरपंच हरदेव मुखिया, देवनन्दन राय, गोपेश्वर यादव, महंथ धीरेंद्र दास, मो. शहाबुद्दीन, दयानन्द दास, तेजनारायण गुप्ता, राजेश यादव, सईदुल हक से मिली जानकारी के अनुसार इस गांव में हर साल कटाव लगता है।
विभाग द्वारा वर्ष 2015 से अबतक स्कूल, गांव एवं कब्रिस्तान की सुरक्षा के लिए करोड़ों रुपये का कटावरोधी कार्य करवाया जा चुका है, लेकिन पूर्ण सुरक्षित नहीं हो सके है। कुंदह मध्य विद्यालय भी 1994 में कट गया था। उसके बाद 1995 में स्कूल को वर्त्तमान जगह पर पुनस्र्थापित कराया गया था। वर्ष 2015 में स्कूल का दो कमरा तथा 2018 में पूर्वी कमरे का पूर्वी दीवार कोसी के गोद में समा चुका है।

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

SAFTY ZONE[मधेपुरा]

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल

सावित्रीनंदा पब्लिक स्कूल
बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर सम्पर्क करें।

Total Pageviews