सहरसा: अंतरजिला लूट गिरोह का सरगना समेत सात गिरफ्तार - कोशी लाइव

 कोशी लाइव

नई सोच नई खबर

KOSHI%2BLIVE2

Breaking

Translate

Thursday, 6 June 2019

सहरसा: अंतरजिला लूट गिरोह का सरगना समेत सात गिरफ्तार

कोशी लाइव:अक्की

सहरसा। एसपी द्वारा गठित एसआईटी की टीम ने अंतरजिला लूट गिरोह के सरगना समेत सात बदमाश को विभिन्न जगहों से अपराध की योजना बनाने के दौरान गिरफ्तार किया। गिरफ्तार बदमाशों के पास से चार लोडेड देशी पिस्तौल, तीन गोली, एक खोखा, लूट की पांच बाइक व सात मोबाइल बरामद किया गया है। गिरफ्तार सरगना की तलाश करीब एक दर्जन मामले में पुलिस को थी।
गुरुवार को वेश्म में आयोजित पत्रकार वार्ता में पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार ने बताया कि बाइक लूट की हो रही घटना को लेकर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी प्रभाकर तिवारी के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया। जिसमें सोनवर्षा कचहरी थानाध्यक्ष अजीत कुमार, अनि विनोद कुमार समेत अन्य शामिल थे। गठित टीम द्वारा अपराध की योजना बना रहे लूट गिरोह के सरगना सोनवर्षा कचहरी के परमिनियां गांव निवासी अंशु कुमार अभिषेक कुमार को गिरफ्तार किया गया। जबकि उसके साथी परमिनियां निवासी विनीत कुमार, कहरा वार्ड नंबर छह निवासी कृष्ण कुमार, बटराहा वार्ड नंबर 25 निवासी आशीष कुमार, कहरा वार्ड नंबर छह निवासी सुबोध कुमार, बराही वार्ड नंबर पांच निवासी अजीत कुमार एवं खगड़िया जिला के सिरनियां निवासी मानष कुमार को गिरफ्तार किया गया। इनलोगों के पास से लूटी गई बाइक भी बरामद किया गया। एसपी ने बताया कि सरगना अंशु कुमार के खिलाफ अपहरण, लूट, आ‌र्म्स एक्ट, रंगदारी के करीब एक दर्जन मामला दर्ज है। गिरोह के सदस्यों द्वारा सहरसा के अलावा सुपौल, मधेपुरा व खगड़िया जिला में भी आपराधिक घटनाओं को अंजाम दिया जाता था। खासकर बाइक व मोबाइल लूट की घटना में यह गिरोह अधिक सक्रिय था। पत्रकार वार्ता के दौरान सदर एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी, सोनवर्षा कचहरी थानाध्यक्ष अजीत कुमार समेत अन्य मौजूद थे।
----
कबाड़ी में बेचता था बाइक
----
लूट की गई बाइक को या तो दूसरे जिले में खपा दिया जाता है। अगर बाइक नहीं बिकती थी तो कबाड़ी में उसके पा‌र्ट्स को बेच दिया जाता था। एसपी ने बताया कि गिरोह के सरगना व सदस्यों द्वारा कई आपराधिक घटनाओं में अपनी संलिप्तता स्वीकार की गई है। जबकि कुछ अन्य बदमाशों के नामों का भी खुलासा किया गया है। जिसकी गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी की जा रही है।
----
गिरफ्तार बदमाशों के खिलाफ सोनवर्षा कचहरी थानाध्यक्ष के बयान पर आ‌र्म्स एक्ट व अन्य सुसंगत धाराओं में प्राथमिकी दर्ज की जा रही है। जल्द ही इस गिरोह के अन्य बदमाशों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
राकेश कुमार, एसपी, सहरसा।

पुलिस को चकमा देकर फरार हो जाता था अंशु

सहरसा। आधा दर्जन से अधिक बदमाशों के साथ गिरफ्तार गिरोह का सरगना अंशु शर्मा हर बार पुलिस को चकमा देकर फरार हो जाता था। लेकिन इसबार वह पुलिस के हत्थे चढ़ गया। सोनबर्षा कचहरी थाना क्षेत्र के परमिनियां गांव के निवासी अजय शर्मा का पुत्र अंशु शर्मा द्वारा कई आपराधिक घटना को अंजाम दिया गया था। धीरे-धीरे वह अपने गिरोह का विस्तार करता जा रहा था। अक्सर लोग उसे हथियार के साथ सड़कों पर खुलेआम घूमते हुए देखते थे। इसकी वजह से लोग उससे भयभीत रहते थे। सोनवर्षा कचहरी स्थित एक गैरेज से बाइक अपने गिरोह के सदस्यों के साथ हथियार के दम पर लूटने एवं भरौली चौक समीप सवैठा निवासी कृष्ण कुमार की पिटाई कर बाइक लूटने के बाद उनके गिरोह व सरगना को पकड़ने के लिए पुलिस ने काफी पसीना बहाया।
----
थानाध्यक्ष तक को दी थी धमकी
----
गिरफ्तार बदमाश खौफ पैदा करने के लिए जहां-तहां गोलीबारी कर देता था। सूत्रों की मानें तो उसने थानाध्यक्ष को भी धमकी दे दी थी। जब थानाध्यक्ष ने बदमाश के पिता को समझाया कि पुत्र को सरेंडर करा दीजिए तो बदमाश ने किसी भी हालत में सरेंडर नहीं करने और थानाध्यक्ष को देख लेने की धमकी दी थी। हालांकि पुलिस पर धमकी का कोई असर नहीं हुआ और सरगना समेत सभी सदस्यों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की। बदमाशों की गिरफ्तारी से लोगों ने भी राहत की सांस ली है।

Total Pageviews

Follow ME

SAFETY ZONE

SAFETY ZONE

कोशी लाइव

यहाँ आप कोशी क्षेत्र के आसपास सभी जिलों मधेपुरा, सहरसा,सुपौल।तथा अपने प्रखंड ओर पंचायत की सटीक खबरें पढ़ सकते हैं। अगर किसी भी प्रकार की न्यूज़ आपके पास है।तो आप हमें दिए गए नम्बर 9570452002 पर whatsapp द्वारा भेज सकते हैं। -----------संपादक:-स्टॉलिन अमर अक्की www.koshilive.com

Pages