मधेपुरा:पतोहू से अवैध संबंध रखने वाले शिक्षक को ग्रामीणों ने बांधा बिजली के पोल से - कोशी लाइव

 कोशी लाइव

नई सोच नई खबर

KOSHI%2BLIVE2

Breaking

Translate

Tuesday, 7 May 2019

मधेपुरा:पतोहू से अवैध संबंध रखने वाले शिक्षक को ग्रामीणों ने बांधा बिजली के पोल से

कोशी लाइव:अक्की

रिश्ते की पतोहू से अवैध संबंध बनाने की आशंका में एक शिक्षक को गांव की महिलाओं और पुरुषों ने मिलकर बिजली के पोल से बांध दिया। इस दौरान ग्रामीणों ने शिक्षक की पिटाई भी की। बाद में सुबह होने पर पुलिस को बुलाकर उसे सौंप दिया गया। 

 मधेपुरा : बिहार के मधेपुरा में उदाकिशुनगंज थाना क्षेत्र के गोपालपुर पंचायत अंतर्गत कुमरगंज गांव में एक शिक्षक के द्वारा गुरु के गरिमा को कलंकित करने का मामला प्रकाश में आया है. एक महिला के साथ शिक्षक को पोल से जोड़कर ग्रामीणों ने पीटा है. घटना रविवार की देर रात को है. मामले से लोगों में काफी आक्रोश देखा जा रहा है. पुलिस के द्वारा दोनों को हिरासत में ले लिया गया है.

क्या है पूरा मामला
रविवार की रात एक शिक्षक प्रकाश राम को पड़ोसी महिला के साथ आपत्तिजनक हालत में लोगों ने पकड़ लिया. बाद में शिक्षक और महिला को बिजली के पोल में रस्सी से बांधकर पिटाई कर दी. दोनों को रात भर बिजली के पोल से बंधा रखा गया. यह हाइवोल्टेज ड्रामा पूरी रात चली. आसपास के ग्रामीणों के द्वारा पुलिस को सूचना दी गयी. पुलिस दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचकर लोगों के चंगुल से छुड़ाया. मिली जानकारी के अनुसार यह भी बता दें कि पुलिस के गुस्से का सामना लोगों को करना पड़ा.

लोगों ने बताया कि कुमरगंज के शिक्षक प्रकाश राम मध्य विधालय गोपालपुर बलिया बासा में सहायक शिक्षक के पद पर कार्यरत है. कई वर्षों से स्थानीय एक महिला के बीच शिक्षक का शारीरिक संबंध है. कई बार गांव में कई बार पंचायत भी की गयी है. बताया जाता है कि शिक्षक प्रकाश राम का पड़ोस के महिला से अवैध संबंध होने की कानाफूसी गांव में रही थी. महिला का पति मजदूरी के सिलसिले में अक्सर दूसरे प्रदेश में रहते हैं. इससे पहले अवैध संबंध को लेकर गांव में पंचायत भी हुआ था. जहां दोनों ने एक दूसरे से दूरी बनाकर रहने की बात पंचायत में बताया. बावजूद इसके अवैध संबंध का लुकाछिपी का खेल चलता रहा.

पीड़ित महिला ने थाना में दिया आवेदन

पीड़ित महिला ने गांव के दो महिला के खिलाफ थाना में आवेदन दिया है. आवेदन में गांव के दो महिला को नामजद किया गया है. पुलिस ने बताया कि दोनों महिला के खिलाफ ठोस कार्यवाही की जाएगी.

शिक्षक एवं महिला छोड़ दिया गया थाना से
रंगे हाथ पकड़े जाने पर भी पुलिस ने शिक्षक और महिला को थाना पर से ही छोड़ दिया गया है. बताया जा रहा कि रविवार को महिला के साथ आपत्तिजनक स्थिति में शिक्षक के पुत्र ने खुद देखा. जहां आसपास के लोगों को शिक्षक पुत्र ने जानकारी दी. महिला एवं शिक्षक के अंतरंग तस्वीर को सोशल साइट्स पर भी शेयर किया जा रहा है. शिक्षक के पुत्र ने दोनों को पकड़ लिया और बिजली के खंभे से बांधकर जमकर पिटाई कर दी. गांव के लोगों में दृश्य को देखकर काफी आक्रोश पनप उठा. 

लोगों ने शिक्षक एवं महिला को बिजली के पोल से जोड़कर कर पिटाई शुरू कर दी. भीड़ ने खूटे से बंधे आरोपितों को समाज के लोक लाज की दुहाई देकर खूब जलील किया. फिर जिसे मौका मिला उसने अपने हाथ साफ किए. महिला और शिक्षक को रातभर खूटे से बंधा रखा. इसे लेकर गांव में रातभर हाइवोल्टेज ड्रामेबाजी चला. सुबह होने पर पंचायत के जनप्रतिनिधियों और समाज प्रबुद्धजन पहुंचे. सबों ने घटना की निंदा की. 

वहीं लोगों के भाड़ी विरोध को देखते हुए जनप्रतिनिधियों ने पुलिस को खबर दी. जहां मौके पर से पुलिस ने महिला और शिक्षक को थाना लाया. बताया जाता है कि शिक्षक पांच बच्चों के पिता के साथ नाना भी है. जबकि महिला तीन बच्चों की मां है. दोनों के बीच ससुर और बहु के रिश्ते है. थाना पर महिला ने बताया कि शिक्षक की पत्नी बीमार थी. जहां पड़ोसी होने के नाते शिक्षक के घर खाना पकाने गयी थी. खाना पकाकर लौटने के दौरान महिला को लोगों पकड़ लिया और अवैध संबंध का आरोप लगाकर पिटाई शुरू कर दी. 

शिक्षक के साथ नहीं है नाजायज संबंध : पीड़िता

महिला ने बताया कि उसका शिक्षक के साथ कोई नाजायज संबंध नहीं है. घरेलू कुछ काम होता है तो शिक्षक से करवाते है. काम करने की बात का लोग गलत मतलब निकाल रहे हैं. महिला ने यह भी बताया कि उसे किसी ने आपत्तिजनक स्थिति में नहीं पकड़ा है. इस बीच रविवार की रात की घटना सामने आने पर शिक्षक का महिला के साथ कई तरह की तस्वीरे सोशल साइट पर वायरल हुई. शिक्षक ने दबी जुबान में बताया कि दोनों शादी रचाना चाहते है. यद्यपि शादी में महिला के तीनों बच्चे और उसके घर का समान रोड़ा बना हुआ. वजह कि महिला कहती है कि शादी के बाद भी वह अपने तीनों बच्चों को साथ रखेंगे. 

वहीं महिला अपने घर के समान को शिक्षक के घर में रखने की बात करती है. इतने के बावजूद महिला का अवैध संबंध से इन्कार की बात गले से नहीं उतर रहा है. बहरहाल पुलिस ने दोनों को थाना पर से छोड़ दिया. थानाध्यक्ष जेके सिंह ने बताया कि लोगों के आक्रोश को देखते हुए दोनों को सुरक्षित थाना पर रखा गया. लोगों का आक्रोश खत्म होने पर थाना पर से छोड़ दिया गया. उन्होंने कहा कि कानून को अपने हाथ में लेने का अधिकार किसी को नहीं है. बिना किसी निष्कर्ष के दोनों को थाना पर से छोड़े जाने से लोगों में पुलिस के प्रति गुस्सा है. इसे लेकर गांव में तरह तरह की चर्चाएं हो रही है. मामले में थानाध्यक्ष जेके सिंह ने बताया कि महिला शोभा देवी के द्वारा आवेदन प्राप्त हुआ है. मामले की जांच कर उचित कार्रवाई की जायेगी.
 

Total Pageviews

Follow ME

SAFETY ZONE

SAFETY ZONE

कोशी लाइव

यहाँ आप कोशी क्षेत्र के आसपास सभी जिलों मधेपुरा, सहरसा,सुपौल।तथा अपने प्रखंड ओर पंचायत की सटीक खबरें पढ़ सकते हैं। अगर किसी भी प्रकार की न्यूज़ आपके पास है।तो आप हमें दिए गए नम्बर 9570452002 पर whatsapp द्वारा भेज सकते हैं। -----------संपादक:-स्टॉलिन अमर अक्की www.koshilive.com

Pages